https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

नक्षत्र – अश्लेषा

रंग – लाल
भाग्यशाली अक्षर: ड

नौवें नक्षत्र के अंतर्गत जन्म लेने वाले जातक अपनी सर्पिल प्रकृति, तीक्ष्ण रुप तथा सशक्त रूप से पहचान कर रहे हैं .. इस स्टार में पैदा हुए उन अद्भुत मर्मज्ञ आँखें, जो दूसरों के माध्यम से बेध दिया है. साइन में पैदा हुए लोगों को दुबला और कठोर उपस्थिति हो पाए जाते हैं. वे ईमानदार हैं और कृतघ्न भी उन उन्हें जीवन में मदद की नहीं हैं. वे शायद ही कभी अभ्यास के लिए वे क्या उपदेश है, लेकिन पाखंडी शब्दों के साथ लोगों को आकर्षित. वे ज्यादातर बुद्धिमान और महत्वाकांक्षी होते हैं और सार्वजनिक क्षेत्र में उत्कृष्टता. शायद ही कभी विश्वास, वे अक्सर बल्कि अप्रिय अनर्थकारी की कंपनी रखने के देखा जाता है. आजादी का एक मजबूत प्रेमी, वे विरोध और कुछ भी है कि दूर से अपनी स्वतंत्रता की चुनौतियों के लिए तेजी से प्रतिक्रिया. हालांकि, आश्लेषा जातक कभी धोखा या अन्य है? संपत्ति हड़पने के लिए. यह देखा गया है कि दूसरों को अक्सर उनके सब गलत कारणों के लिए संदेह है. ये लोग ज्यादातर अपने करीबी रिश्तेदारों और दोस्तों के द्वारा धोखा दिया है जबकि वे प्राप्त अप्रत्याशित हलकों से मदद करते हैं. 36 – एक नियम के रूप में इस नक्षत्र का जातक 35 वर्ष की उम्र में भारी आर्थिक नुकसान उठाना. हालांकि जल्दी चालीसवें वर्ष उनके लिए बेहद फायदेमंद साबित होते हैं. वे आम तौर पर एक समझ पति का समय से अधिकांश वंचित कर रहे हैं वे उनके परिवार में कई जिम्मेदारियों कंधे. उनके भाग्य में कुछ है जो एक साँप का जीवन एक रोलर कोस्टर की सवारी कर पैटर्न के रूप में आ रहा है. इस स्टार में पैदा हुए महिलाओं के लिए ‘कोइ बात नहीं ‘दृष्टिकोण के साथ हो पाया और एक उच्च नैतिक आधार है. वह रिश्तेदारों और समुदाय के बीच सम्मान हासिल है. इस नक्षत्र का जातक विशेष रूप से जोड़ों में दर्द, हिस्टीरिया पीलिया, और नशीली दवाओं की लत की चपेट में हैं.

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम