https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

नक्षत्र – ज्येष्ठा

रंगः क्रीम
भाग्यशाली अक्षरः न और य

ज्येष्ठा का मतलब होता हैं ‘बड़ा’ | इसका प्रतीक एक ताबीज, या एक कान की बाली हैं | इसके ईष्ट या पीठासीन देव इन्द्र हैं जो देवताओं के राजा हैं | ताबीज को आपदा से बचने के लिए पहना जाता हैं | और यह संकेत करता हैं कि ज्येष्ठा के लॊगो को गुप्त शक्तियों का संरक्षण प्राप्त हैं और ये इस तरह की शक्तियां प्रदान भी कर सकते हैं | यह विश्वास किया जाता हैं कि इनके पास मनोगत शक्तियां हैं और ये रहस्यमय और वैरागी होते हैं | ज्येष्ठा को ‘संस्थापक’ या ‘पंसदीदा’ के रुप में भी देखा जाता हैं | ये प्राथमिकता और अनुभव के आधार पर श्रेष्ठता हासिल करते हैं | ये अपनी शक्तियों को पहचानते हैं और इसका प्रयोग कैसे करना हैं जानते हैं | इस नक्षत्र पर जो ग्रह आते हैं वो अपने ध्येय की ओर अग्रसर होते हैं | यदि कैरियर का ग्रह इस नक्षत्र पर आता हैं तो वह अपने क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ साबित होता हैं |उदाहरण के लिए, प्रबंधक, सीईओ, कप्तान, कमांडर, प्रमुख, आदि | इस नक्षत्र के अंतर्गत जन्में लोग शक्तिशाली और जींवतता से भरपूर होते हैं | हालांकि, ये विशुद्ध रूप से शारीरिक रुप से ताकतवर होते हैं पर अंदर से ये वास्तव में रहमदिल होते हैं | लेकिन अफ़सोस की बात हैं कि ये अपने करीबी लोगो से धोखा खाते हैं | ये बहुत ही संवेदनशील और इनका हृदय सोने का होता हैं | लेकिन जब समस्या सामने आती हैं ये उतनी ताकत से मुकाबला नहीं कर पाते हैं जितनी की आवश्यकता हैं | ये कोई रहस्य छिपा कर नहीं रख सकते हैं क्योंकि ये गपशप करने के लिए बदनाम होते हैं | पर वास्तव में ये दुर्भावना पूर्ण नहीं होते हैं | इनकी हठी निष्क्रियता इन्हे अपनी सफ़लता पाने से वंचित कर देती हैं | इसके विपरीत कभी कभी ये तुंरत निर्णय ले लेते हैं और इनकी यह जल्दीबाजी इन्हे भीषण तंगहाली में फ़ंसा देती हैं | इन्द्र साहस, शक्ति, और गौरव के प्रतीक हैं अत: य़ह नक्षत्र भी इसका प्रतीक हैं | इन्हे लाभ अनुदान, अलौकिक या चमत्कार के रुप में मिल सकता हैं | इस नक्षत्र में चांद होने का मतलब है पाखंड या दोगलापन | ये ऐसे कैरियर का चयन करते हैं जिसमें इन्हे वीरता का प्रदर्शन करने और अपनी असीम ऊर्जा का उपयोग करने को मिले | ये खान श्रमिक, इंजीनियर, पुलिस और रक्षा कर्मी हो सकते हैं |

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

Follow Us