https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

love children : बच्चों की राशि से जानिए उनको किस तरीके से प्यार करना चाहिए?

बच्चों की राशि से जानिए उनको किस तरीके से प्यार करना चाहिए?
बच्चों का मन बेहद कोमल होता है और वे आसानी से दूसरों से प्रभावित हो जाता है। हां एक चीज को वे जरूर पसंद करते हैं कि उन्हें उनके पैरेंट्स ज्यादा से ज्यादा प्यार करें और उन्हें भी बराबर का हक मिलें। सभी बच्चों का मनोवैज्ञानिक विकास अलग होता है, इसलिए उन्हें हैंडल करने का तरीका भी अलग होना चाहिए। कुछ बच्चे बहुत ज्यादा अटेंशन चाहते हैं, कुछ थोड़ा मनाने से मान जाते हैं। कुछ बच्चों को हमेशा प्रेरणा चाहिए। कुछ बच्चे पैरेंट्स के सपोर्ट को खोजते रहते हैं। यहां हम बता रहे हैं बच्चों को उनकी राशि के अनुसार किस तरह से ट्रीट किया जाएं, ताकि वे खुद को बेहद इंपोर्टेंट मान सकें।

मेष

मेष राशि के बच्चे बहुत ही एंबिशियस और डिटरमाइन होते हैं। अपनी पढ़ाई में अव्वल रहने के अलावा वे स्पोर्ट्स, एडवेंचर, म्यूजिक या अदर एक्टिविटी में भी बिजी रहते हैं। लाइफ को लेकर उनका लक्ष्य साफ होता है। हालांकि ये बच्चे थोड़े गुस्सैल प्रवृत्ति के होते हैं। मेष राशि के बच्चों के लिए उनके पैरेंट्स को चाहिए कि वे सपोर्टिव रहें। मेष राशि के बच्चे कोई काम तो शुरू कर देते हैं, लेकिन जल्दी ही उनका उत्साह ठंडा हो जाता है। पैरेंट्स को चाहिए कि वे बच्चों का उत्साह बढ़ाते रहें।

वृषभ

वृषभ राशि के बच्चे बहुत ही इंट्रोवर्ट होते हैं। वे अक्सर चुप रहते हैं और ज्यादा दोस्त नहीं बनाते हैं। वे अपनी जरूरतों को कभी मुंह से नहीं कहते हैं। वृषभ राशि के बच्चों के लिए उनके पैरेंट्स को चाहिए कि वे उनके दोस्त बनें। बच्चों की जरूरत को खुद समझें और उन्हें बाहरी दुनिया से भी दोस्ती करने के लिए प्रेरित करें। वृषभ राशि के बच्चे जिद्दी हो सकते हैं, इसलिए उन्हें बेहद प्यार से मनाना पड़ता है।

मिथुन

मिथुन राशि के बच्चों को बातें करना बहुत पसंद है। उन्हें खुद को किसी के सामने भी एक्सप्रेस करने में कभी दिक्कत नहीं आती है। हालांकि कई बार वे अपने पैरेंट्स को भी जज करना चाहते हैं कि वे उन्हें प्यार करते भी हैं या नहीं। मिथुन राशि के बच्चों के लिए उनके पैरेंट्स को चाहिए कि वे अपना कमिटमेंट पूरा करते रहें। साथ ही बच्चों को उनकी पसंद के टॉपिक पर बात जरूर करें। वहीं बार-बार पूछे जाने वाले बच्चों के सवालों का जवाब भी धैर्य से दें।

कर्क

जहां तक कर्क राशि के बच्चों का सवाल है, उन्हें बहुत ही इमोशनल सपोर्ट चाहिए होता है। कर्क राशि राशिचक्र की सबसे इमोशनल राशि है। कर्क राशि के बच्चों के पैरेंट्स को चाहिए कि वे बच्चों को इमोशनल सपोर्ट दें। कई बार कर्क राशि के बच्चे पैरेंट्स के काम में व्यस्त होने पर यह समझ लेते हैं कि पैरेंट्स उन्हें इग्नोर कर रहे हैं। उन्हें बार-बार उनके स्पेशल होने का अहसास कराया जाना चाहिए।

सिंह

सिंह राशि के बच्चे बहुत डोमिनेंट पर्सनेलिटी के होते हैं। सिंह राशि के पैरेंट्स को चाहिए कि वे उनके बच्चों को हमेशा सेंटर ऑफ अट्रेक्शन रखें। पैरेंट्स घर के लिए किसी भी तरह के डिसीजन में बच्चों की राय भी यदि पूछें तो सिंह राशि के बच्चे बहुत ही स्पेशल फील करते हैं। वे हमेशा लाइमलाइट में रहना पसंद करते हैं।

कन्या

कन्या राशि के बच्चे अपने पैरेंट्स से गंभीर बने रहने की उम्मीद करते हैं। वे खुद भी अपने स्वभाव को लेकर बहुत ही सावधान रहते हैं। वे अपने ट्रेडिशन को बेहद इंपोर्टेंस देते हैं। कन्या राशि के बच्चों के पैरेंट्स को चाहिए कि वे बच्चों के सामने एक गंभीर व्यक्तित्व के बने रहें। वहीं बच्चों की बातों को भी महत्व दें। खुद के विचार उन पर ना थोपें।

तुला

तुला राशि के बच्चे अपनी हर चीज में बैलेंस बनाकर रखते हैं। वे अपनी तरफ से कभी कोई कंपलेन नहीं करते हैं और ना ही उन्हें किसी चीज की जरूरत होती है। तुला राशि के बच्चों के पैरेंट्स को चाहिए कि वे समय-समय पर अपने बच्चों की जरूरत को समझें। उन्हें बाहर लेकर जाएं और उन्हें भी जरूरत का नया सामान दिलाएं। हमेशा उन्हें सेक्रिफाई करने के लिए ना कहें।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के बच्चे पैशिनेट होते हैं और अपनी तरफ से ढेरों डिमांड करते हैं। वे अपने गोल के लिए डिटरमाइन रहते हैं और कई बार किसी चीज को लेकर बहुत ज्यादा उत्साह या बहुत ज्यादा निराशा भी दिखा सकते हैं। वृश्चिक राशि के बच्चों को अभिभावकों को चाहिए कि समय-समय पर अपने बच्चों के एफर्ट को एप्रिशिएट करते रहें और उन्हें स्पेशल होने का अहसास दिलाते रहें।

धनु

अपने स्पॉन्टेनियस और एडवेंचर नेचर के कारण धनु राशि के बच्चे हमेशा अपनी बनाई एक नई दुनिया में जीना पसंद करते हैं। वे हमेशा बाहर घूमना पसंद करते हैं। धनु राशि के बच्चों का अभिभावक होने के कारण आपको उनकी सेफ्टी की हमेशा चिंता लगी रह सकती है। वे इतने एनर्जेटिक होते हैं कि उन्हें कंट्रोल करना मुश्किल होता है। धनु राशि के बच्चों को उनके पैरेंट्स हमेशा कुछ नया करने के लिए प्रेरित करते रहें।

मकर

मकर राशि के बच्चे अपने टास्क को लेकर बहुत ही प्रैक्टिकल और रेशनल अप्रोच रखते हैं। मकर राशि के बच्चे उम्र से ज्यादा परिपक्व होते हैं। कभी-कभी तो वे अपने पैरेंट्स को भी इमोशनल सपोर्ट देते हैं। मकर राशि के बच्चे तब बहुत खुश होते हैं, जब उनके पैरेंट्स उनकी इनर पावर को पहचानकर उसे इनकरेज करते हैं।

कुंभ

कुंभ राशि के बच्चे स्वतंत्रता पसंद करते हैं। कई बार वे बिल्कुल भी नहीं चाहते हैं कि उन्हें कोई डिस्टर्ब करें। कुंभ राशि के पैरेंट्स को चाहिए कि अपने बच्चों को पर्याप्त स्पेस दें। उनकी जिंदगी के बारे डिसीजन लेना हो, तो उनकी मर्जी जरूर पूछें। कुंभ राशि के बच्चों को किसी एक्स्ट्रा केयर की जरूरत नहीं होती है। हां, जब बच्चे अपने दोस्तों के साथ हों, तो फैमिली में उनका कोई सीक्रेट दोस्तों से शेयर ना करें।

मीन

मीन राशि के बच्चे हमेशा अपने माता-पिता के साथ रहना चाहते हैं। मीन राशि के बच्चे चाहते हैं कि उनके पैरेंट्स उनके लिए हमेशा एक शील्ड बनकर रहें। वे किसी भी डेंजर सिचुएशन में पैरेंट्स का विशेष सपोर्ट चाहते हैं। ऐसे में मीन राशि के पैरेंट्स को चाहिए कि वे बच्चों को हमेशा मेंटली सपोर्ट दें और उन्हें कभी भी अकेलेपन की फीलिंग ना आने दें।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
भावेश एन पट्टनी
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

ये भी पढ़ें-जानिए आपकी राशि अनुसार आपके लिए कौन सा बेहतर कॅरियर रहेगा!

मार्च में जन्मे हुए लोगों का व्यक्तित्व और उसे जुडी कुछ दिलचस्प बातें

जानिए राशि के अनुसार कौन सी हेयरस्टाइल है महिलाओं और पुरुषों के लिए खास!

biggest liar zodiac sign: इन 5 राशियों के लोग झूठ बोलने में होते हैं माहिर