https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

सचिन तेंदुलकरः खेलना भले ही छोड़ा, लेकिन मैदान पर तो डटे ही रहेंगे

सचिन तेंदुलकरः खेलना भले ही छोड़ा, लेकिन मैदान पर तो डटे ही रहेंगे

मैदान पर जिनको देखते ही विपक्षी टीम के होश उड़ जाते हैं और जिन्होंने क्रिकेट के खेल को अपना कर्म व धर्म बना दिया है एेसे सचिन तेंदुलकर की खेल और प्रतिभा सच्चे अर्थों में अतुलनीय है। इसी कारण सचिन को “क्रिकेट के भगवान” के खिताब से नवाजा गया है। क्रिकेट के खेल से भले ही इन्होंने निवृत्ति ले ली हो, परंतु आज भी क्रिकेट खेल प्रेमियों के दिलों में सचिन का स्थान कायम है। सौैम्य, विवेकी, निर्विवादी और निराभिमानी स्वभाव के सचिन तेंदुलकर ने हमेशा मैदान में धैर्य व समय प्रबंधन के समन्वय से टीम इंडिया को हारी हुई बाजियां भी जिताकर दिखाई है। ज्योतिषीय दृष्टिकोण से विश्लेषण करने वाले लोगों के जहन में एक सवाल हमेशा निश्चित तौर पर गूंजता रहता है कि एेसा तो क्या है सचिन की कुंडली में कि इतनी सफलता मिलने पर भी ये इतने सहज व विनम्र हैं? क्या ब्रह्माण्ड के सितारें इनकी ज्वलंत सफलता दिलाने में सहायक हैं? क्या भविष्य में भी सचिन की लोकप्रियता एेसी ही बनी रहेगी?

सचिन तेंदुलकर
जन्म तारीखः 24-4-1973
जन्म-समयः 4.20 pm
जन्म स्थलः मुंबई, भारत

जन्मकुंडली
kundali

हमारे विशेषज्ञ ज्योतिषियों द्वारा तैयार हस्तलिखित जन्मपत्री प्राप्त करें

कुंडली का ज्योतिषीय विश्लेषणः
सचिन तेंदुलकर की जन्मकुंडली में गुरू, बुध, राहु और केतु नीच के हैं और लग्न/चंद्र से केंद्र या त्रिकोण स्थान में रहते हुए नीच भंग राजयोग बनाते हैं। सूर्य उच्च के हैं, वहीं शनि अन्योन्य द्वारा नीच का होकर तीसरे स्थान पर उच्च की दृष्टि डालता है। इसके कारण इन्होंने करियर में अभूतपूर्व सफलता के साथ ही देश-विदेश में ख्याति अर्जित की है। वर्तमान में ग्रहों के गोचर का विचार करें तो गोचर का गुरू अपने लग्न स्थान में से, शनि उनके जन्मकालील चंद्र व राहु के ऊपर से और वहीं राहु खुद सिंह राशि में से होकर गुजर रहा है।

सचिन तेंदुलकरः लोकप्रियता आैर प्रसन्नता बनी रहेगी
ग्रहों की स्थिति के अनुसार सचिन को आर्थिक रूप से अच्छा लाभ मिलने के अलावा समाज में भी यश व मान मिलेगा। शनि व राहु के फल मध्यम मिलने की संभावना है। गोचर के गुरू के पंचम और नवम स्थान में दृष्टि करने से आर्थिक, मानसिक, सामाजिक और राजकीय क्षेत्रों सहित तमाम क्षेत्रों में सफलता के योग की संभावना है। ये कई कार्यों को पूरा कर सकते हैं और उत्तम पारिवारिक सुख का भोग करेंगे। लेकिन सितारे आपके कैरियर को लेकर क्या संकेत देते है, इसका जवाब जानें 2017 कैरियर रिपोर्ट से।

सचिन तेंदुलकरः काॅरपोरेट संस्थानों से लाभ मिलने की संभावना
तारीख 12-09-2017 से गुरु तुला राशि में, तारीख 17-09-2017 से राहु कर्क राशि और केतु मकर राशि में आ जाएगा। दिनांक 20-06-2017 से 4 महीने तक वक्री शनि वृश्चिक राशि में रहेगा और 20-10-2017 से फिर से धनु राशि में आ जाएगा। गुरू के तुला राशि में आते ही अब रोगी लोग रोग मुक्त अनुभव करेंगे। शत्रुओं से विजय मिलेगी। इन गोचर के प्रभाव से सचिन ना केवल देश में बल्कि तेंदुलकर सम्मान के अधिकारी होंगे। कार्पोरेट कंपनियों और संस्थाओं की तरफ से आर्थिक लाभ की संभावनाओं में बढ़ोत्तरी होगी।

सचिन तेंदुलकरः कोच या कमेंटेटर के रूप में आ सकते है नजर
सचिन ने इस समय क्रिकेटे के खेल से भले ही निवृत्ति ले ली हो, पर क्रिकेट का मैदान नहीं छोड़ेंगे। कहने का अभिप्राय यह है कि आगामी समय में सचिन कोच या कमेंटेटर के रूप में अपनी उपस्थिति दर्ज करा सकते हैं। कुंडली के अनुसार जब राहु का पंचम स्थान में आगमन होगा तब इनको किसी रूप में आकस्मिक लाभ होने के आसार हैं। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को 28-04-2018से 24-04-2018 के बीच विदेश में किसी प्रकार का सम्मान मिलने की संभावना है। आपका भाग्य अापको किस आेर ले जाएगा, इसका जवाब जानें

आपके जीवन की विस्तृत भविष्यवाणी रिपोर्ट से।

गणेशजी के आशीर्वाद के साथ,
केतन गज्जर
गणेशास्पीक्स डाॅटकाॅम टीम

Follow Us