अश्विन को विकास की दिशा में प्रेरित करता गुरू बृहस्पति ! बहुत खूब !

अश्विन को विकास की दिशा में प्रेरित करता गुरू बृहस्पति ! बहुत खूब !

भारत के स्टार स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को हरभजन सिंह से अलग अपनी पहचान बनाने में ठीक उतना ही समय लगा जैसा कि हरभजन सिंह को अनिल कुंबले से अलग पहचान बनाने में समय लगा। हाल में ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद यानी आईसीसी ने भारत के इस स्टार स्पिनर को साल के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर के रूप में रविचंद्रन अश्विन को चुना है। ये मुकाम अभी तक दो ही खिलाड़ी प्राप्त कर पाए हैं। इस लंबे, दुबले और संदर काया वाले स्पिनर ने अपनी बल्लेबाजी में भी उल्लेखनीय सुधार किया है। इसीलिए अब इन्हें भारतीय क्रिकेट टीम में एक शानदार अॉलराउंडर के तौर पर देखा जा रहा है। अपने पहले वेस्टइंडीज टेस्टे के खिलाफ, अश्विन ने नौ विकट चटकाकर मैन आॉफ द मैच का पुरस्कार जीता। इन्होंने अपने पहले 16 टेस्ट मैचों में नौ बार पांच विकेट लिए लेने का कारनामा कर दिखाया। सन 2013 में इन्होंने प्रसन्ना द्वारा किसी भारतीय के द्वारा लिए गए 100 टेस्ट विकेट के रिकोर्ड को भी तोड़ा, वो भी मात्र 18 टेस्ट में। अश्विन की गुगली ने तो दुनियाभर के बल्लेबाजों को तंग करके रखा। अभी हाल में इंग्लैंड के खिलाफ खेलते हुए अश्विन ने अपने 43 टेस्ट में अश्विन ने सात बार दस विकेट लिए जिस आकड़े को टेस्ट मैच के इतिहास में अब तक केवल दो ही गेंदबाजों ने छुआ है। गणेशजी द्वारा अश्विन की कुंडली का अध्ययन करने पर यह पता चलता है कि मार्च-मई 2017 की अवधि से एक चुनौतीपूर्ण समय का सामना करने के बाद सितंबर 2017 से मार्च 2018 तक के दौरान अश्विन करियर के एक अच्छे दौर से गुजर सकते हैं।

रविचंद्रन अश्विन

जन्म तिथि: 17 सितंबर, 1986

जन्म समय: अनुपलब्ध

जन्म स्थान: चेन्नई, तमिलनाडु, भारत

रविचंद्रन अश्विन की सूर्य कुंडली

kundali

मंगल का साथ होना काफी लाभदायक

दुनिया के शीर्ष टेस्ट गेंदबाज और आॅलराउंडर अश्विन की कुंडली में मंगल आत्मकारक है जो अग्नि तत्व वाली धनु राशि में विराजमान है। इसके अलावा, नवांश में मंगल  की स्थिति वृश्चिक राशि में है। स्पोर्ट्स से जुड़े व्यक्तियों के लिए शक्तिशाली मंगल किसी वरदान से कम नहीं होता है और खिलाड़ी को प्रायः शानदार फॉर्म में रखता है। साहसी मंगल का इनके साथ होना इन्हें दृढ़ता व आक्रामकता से लैस करते हुए मुश्किलों और बाधाओं के खिलाफ खड़ा होने की शक्ति प्रदान करता है। यह इन्हें अपने विरोधियों को जीतने के काबिल बनाता है। अश्विन का अब तक का प्रदर्शन हमें इस बात की गवाही भी देता है।

हर समस्या और हर स्थिति से निपटने में मदद करता – विवेकी बुध 

बुध इनकी कुंडली में उच्च का है। खेल की स्थितियों के अनुसार बुध इन्हें उपायकुशल और स्थिति के अनुसार अपने आपको ढालने के अनुकूल बनाता है। ये क्रिकेट के खेल की बढ़िया समझ रखते हैं। स्मार्ट और इंटेलीजेंट होने के कारण गेम की योजनाए अच्छी तरह से बनाते हुए वांछित परिणाम प्राप्त करने में सक्षम हैं। चाहे बल्लेबाजी हो या फिर गेंदबाजी अश्विन अपनी प्रबंधन क्षमता के बल पर खेल के कई पहलुओं पर काम करने में सक्षम हैं। भारत की जीत में हरफनमौला अश्विन ने एक अहम भूमिका निभाते हुए अपनी इस विशेषता को भी साबित किया है।

यह भी पढ़ेंः ऋषभ पंत – जानें मैदान का यह आक्रामक खिलाड़ी क्या राष्ट्रीय स्तर पर भी बना पाएगा पहचान !

प्रशंसकों की भीड़ को जुटाएगा- शुक्र

शुक्र के अपनी स्वराशि में होने की वजह से मजबूत स्थिति में है। शुक्र इन्हें यश, सफलता और फैन्स की वाहवाही दिला रहा है। साथ ही नवांश कुंडली में शनि उच्च का होकर स्थित है। वहीं सूर्य कुंडली में चंद्र गुरू के साथ युति में है। ग्रहों की  ये नियुक्तियां एक स्पोर्ट्स खिलाड़ी के लिए बड़ी ही अद्भुत मानी जाती है और इसी कारण से करिश्माई अश्विन क्रिकेट खेल में अपनी असाधारण क्षमता रखते हैं।

मार्च 2017 तक अश्विन बल्लेबाजों पर हावी रहेंगे

वर्तमान में गोचर का गुरू इनके जन्म के सूर्य और बुध के ऊपर से होकर गुजर रहा है। गुरू की कृपा से गेंदबाजी और बल्लेबाजी के प्रदर्शन में हमे कुछ इनका बेहतरीन प्रदर्शन देखने को मिल सकता है। गोचर का गुरू न केवल इनको अपने प्रशंसकों से बल्कि पूर्व क्रिकेट खिलाड़ियों से भी तारीफें दिलवाएगा। हालांकि, धनु राशि में गोचर का शनि इनके लिए कुछ बाधाए पैदा करता हुआ प्रतिद्वंद्विता पैदा कर सकता है। मार्च 2017 से मई 2017 के बीच इनके प्रदर्शन में कुछ गिरावटें देखने को मिल सकती है। लेकिन जो भी हो ये क्रिकेट मैदान में रणनीतिक दृष्टि से अहम जगह रखेंगे।

इस लेख को भी पढ़ेंः रैना को चयनकर्ताओं की नजर में आने के लिए अपनी सारी ताकत झोकनी होगी !

सितम्बर 2017 के बाद अश्विन की और अधिक तरक्की के आसार 

सितंबर, 2017 के बाद रविचंद्रन अश्विन के अच्छा परफॉर्म करने की संभावना है। सितंबर 2017 से मार्च 2018 के बीच कुछ यादगार प्रदर्शनों की वजह से अपने करियर की बुलंदियों को छू सकते हैं। ऑलराउंडर अश्विन का परफॉरमेंस टीम इंडिया को ऊंचा उठाकर चमकाने में सहायक रहेगा।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित, 

तन्मय के ठाकर

गणेशास्पीक्स डाॅटकाॅम टीम

अपने ज्योतिष प्रोफ़ाइल के द्वारा जानें कि आपके सितारें आपकी पर्सनालिटी के बारे में क्या कहते हैं। वो भी बिल्कुल मुफ्त !

24 Dec 2016

View All blogs

Follow Us