लोकसभा चुनाव 2014 में मोदी के तेज नक्षत्र लगा सकते हैं बीजेपी की नैया पार…

लोकसभा चुनाव 2014 में मोदी के तेज नक्षत्र लगा सकते हैं बीजेपी की नैया पार…
नरेन्द्र मोदी

गणेशजी कहते हैं कि लोकसभा चुनाव 2014 में भाजपा के लिए सरकार बनाने हेतु मजबूत संभावनाएं हैं, हालांकि यह केवल एक मजबूत गठबंधन के सहयोग से संभावित है। पुरस्कार विजेता ज्योतिषीय सेवा संस्थान का दावा है कि अगर इस तरह का कुछ होता है तो भारतीय जनता पार्टी को नरेंद्रभाई मोदी के शक्तिशाली सितारों के लिए धन्यवादी होना होगा।

लोकसभा चुनाव 2014 को लेकर हर पार्टी अपनी जान झोंक रही है, कहें तो एक दूसरे को परास्त करने के लिए तैयारियां उच्च स्तर पर चल रही हैं। इस समय प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार व राजनीतिक पार्टियों के ग्रहों की जांच पड़ताल करना बहुत अनिवार्य है। जनाक्रोश की उपज व उसके संस्थापक अरविंद केजरीवाल के निरंतर चर्चा में बने रहने के कारण राजनीतिक हलकों में हलचल मची हुई है, दिल्ली में आप को मिले जन समर्थन के बाद इस पार्टी को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। लेकिन जब लोकप्रियता की बात आती है तो बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्रभाई मोदी सबसे आगे खड़े नजर आते हैं। यहां पर दिमाग में एक सवाल भी आता है कि क्या श्री मोदी उपयुक्त रूप से प्रभावित भारतीय जागृत जनता को चुनावों तक अपने साथ जोड़े रख पाएंगे – क्या उनकी पार्टी, भारतीय जनता पार्टी उनके प्रभाव से तैयार हुए जनाधार के रथ पर सवार होकर सत्ता में जा पाएगी – इन सवालों का जवाब देने के लिए भारत के नंबर एक व विश्व के नंबर तीन ज्योतिषीय सेवाएं प्रदान करने वाले संस्थान गणेशास्पीक्स डॉट कॉम ने भारतीय जनता पार्टी व नरेंद्रभाई मोदी की जन्म कुंडली का गहन ज्योतिषीय विशलेषण किया है।

बीजेपी की निर्माण कुंडली का विश्लेषण

नक्षत्र छवि – भारतीय जनता पार्टी सूर्य महादशा से गुजर रही है, सूर्य बीजेपी की कुंडली के तीसरे घर का स्वामि है। हालांकि दसवें घर के स्वामि गुरू के साथ परिवर्तन स्थिति में सूर्य स्वयं दसवें घर में विराजमान हैं, लेकिन गुरू स्वयं शनि, राहु व मंगल के साथ बने हुए हैं, जो प्रतिकूल पहलु माना जाता है।

नक्षत्र कहते हैं – कुल मिलाकर देखा जाए तो ज्योतिषीय स्थिति कहती है कि भारतीय जनता पार्टी आगामी आम चुनावों में एक शक्तिशाली पार्टी के रूप में सामने आएगी। आम चुनावों के दौरान केसरिया पार्टी राष्ट्रीय संवाद में अपना बोलबाला बनाए रखेगी। दरअसल, भाजपा सत्ता के बहुत करीब है, लेकिन यहां पर गठबंधन महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। गणेशास्पीक्स डॉट कॉम के सीनियर ज्योतिषी तन्मय के ठक्कर भविष्यवाणी करते हैं कि बीजेपी भी केवल उस स्थिति में ही सरकार बना पाएगी, जब उसके पास मजबूत गठबंधन सहयोगी होंगे।

श्री नरेंद्र मोदी की जन्म कुंडली का अध्ययन
नक्षत्र छवि – भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी बहुत शक्तिशाली महादशा व राहु भुक्ति के बीच से गुजर रहे हैं।

नक्षत्र कहते हैं – लोक सभा चुनाव 2014 में भारतीय जनता पार्टी को एक महत्वपूर्ण आंकड़े तक लेकर जाने के लिए जमीनी नेता चुनावों में अति सक्रिय रूप में कूदे। असल में, भाजपा की नरेंद्र मोदी के कंधों पर बैठकर शिखर पर जाने की संभावना अधिक है। इसके साथ ही, अगर इस तरह का होता है नरेंद्र मोदी के प्रधान मंत्री बनने की मजबूत संभावनाएं हैं।

मोदी को कौन सी लोक सभा सीट से चुनाव लड़ना चाहिए?

विभिन्न राज्यों और स्थानांतरण चार्ट में मतदान की तारीखों को ध्यान में रखते हुए श्री मोदी लोक सभा चुनावों में एक बड़े अंतर के साथ जीत दर्ज कर सकते हैं, अगर वह गांधीनगर व अहमदाबाद से चुनाव लड़ने का फैसला लेते हैं। अगर श्री मोदी वाराणसी से चुनाव लड़ते हैं तो उनके जीतने की संभावनायों से इंकार नहीं किया जा सकता है। हालांकि यहां पर उनको कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ेगा। इसके अलावा यहां पर श्री मोदी कम वोटों के अंतर से जीत दर्ज कर सकते हैं।

शास्रार्थ के योग्य बात
गणेशास्पीक्स डॉट कॉम के ज्योतिषी मालव भट्ट का कहना है कि श्री मोदी व बीजेपी के शक्तिशाली नक्षत्र के बावजूद भी आम चुनावों के बाद सरकार बनाने में महिला नेता अहम भूमिका निभाएगी। उन्होंने आगे बताया कि शनि व राहु दोनों तुला में उपस्थित हैं, जो आने वाले समय में महिला के सशक्त प्रभाव का विशेष संकेत देते हैं। अब कौन जीतता है, इस बात को भाग्य पर छोड़ देते हैं।

अंतिम, पर कम नहीं
सब ने कहा एवं किया, गणेशास्पीक्स डॉट कॉम के ज्योतिषी पूरे दावे के साथ कहते हैं कि चुनावों के समय ग्रहीय स्थिति चुनाव के अंतिम नतीजों पर जोरदार प्रभाव डालेगी। गणेशास्पीक्स डॉट कॉम का आगे कहना है कि शक्तिशाली ग्रह शनि, राहु व मंगल तुला राशि के बीच से गुजर रहे हैं, जो प्रतिगामी हैं। श्री ठक्कर ने कहते हैं कि “राहु अप्रैल 2014 में प्रतिकूल गति में होगा, लेकिन अप्रैल 2014 में यह भारत के लिए बहुत अधिक प्रतिकूल हो सकता है।” उन्होंने कहा कि इन ग्रहों के संयोजन के कारण देश के अंदर मार्च और जुलाई 2014 के बीच अनहोनी घटनाओं या एक आतंकवादी हमले हो सकते हैं, जो भारत में होने वाले आम चुनावों की शकल बदल सकते हैं।

भगवान गणेश शांति और खुशी का आर्शीवाद देते हुए हमारा और हमारी दुनिया का भला करे और, सबसे अच्छा आदमी को जीत दिलाएं।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित


तन्मय ठाकर एवं मालव भट्ट

द गणेशास्पीक्स टीम

ये भी पढ़े
भारतीय लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़ें सभी भविष्यवाणियां पढ़ें

 

नरेंद्र मोदी की कुंडली एवं लोकसभा चुनाव 2019 की भविष्यवाणी

 

अमेठी लोकसभा चुनाव 2019 में राहुल गांधी का भविष्य एवं कुंडली विश्लेषण

 

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मुलायम सिंह यादव का कुंडली विश्लेषण

 

नितिन गडकरी की कुंडली एवं आम चुनाव 2019 के लिए भविष्यवाणी

10 Mar 2014

View All blogs

Follow Us