नितिन गडकरी की कुंडली एवं आम चुनाव 2019 के लिए भविष्यवाणी - GaneshaSpeaks
https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

नितिन गडकरी की कुंडली एवं आम चुनाव 2019 के लिए भविष्यवाणी

नितिन गडकरी की कुंडली एवं आम चुनाव 2019 के लिए भविष्यवाणी

अपने ड्रीम प्रोजेक्ट से अच्छे दिनों का रोडमैप तैयार करते नितिन गडकरी मोदी सरकार में सबसे चर्चित मंत्री रहें। हाल के दिनों में मीडिया में उनके प्रधानमंत्री बनने के सपने को लेकर भी खूब खबरें उड़ी। जिसका वे खुद खंडन करते रहें। कई बार उनके बयान पार्टी की किरकरी करते दिखे। हालांकि लोकसभा चुनाव 2019 में एक बार वे नागपुर सीट से किस्मत आजमा रहे हैं। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के गढ़ में उन्हें हराने के लिए विपक्षी एड़ी-चोटी का जोर लगा रहे हैं। फिर भी महासमर 2019 के लिए क्या कहती है नितिन गडकरी की कुंडली आइए जानते हैं-

नितिन गडकरी की कुंडली

जन्म दिनांक- 27/5/1957
जन्म समय- 6.00 (स्पष्ट नहीं)
जन्म स्थान- नागपुर

kundali

नितिन गडकरी की कुंडली का विश्लेषण

नितिन गडकरी की कुंडली में सूर्य और शनि का प्रतियुति (आमने-सामने) है। यह संबंध उन्हें नीडर बनाती है और लोगों के लिए लड़ने वाले नेता के रूप में स्थापित करती है। यही युति उन्हें काम में बहुत डेडिकेटेड बनाती है। चौथे भाव में बैठा गुरु अपनी नवीं दृष्टि से 12वें भाव के चंद्रमा पर नजर डालता है। इससे व्यक्ति प्रशासनिक स्तर पर सफलता प्राप्त करता है। मिथुन राशि का मंगल उन्हें तीक्ष्ण बुद्धि देता है। हालांकि कई बार उनके मुंह से निकली बात विवाद का भी कारण बन जाती है। छठें भाव का राहु दुश्मनों को परास्त करता है। वहीं पब्लिक लाइफ यानी सातवें भाव में शुक्र लोगों से उनके संबंधों को मजबूत करता है।

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए भविष्यवाणी

लोकसभा चुनाव 2019 की बात करें, तो अभी शनि और केतु की युति गोचर कुंडली के हिसाब से मंगल के सामने से गुजर रही है। वहीं राहु का पारगमन मंगल के ऊपर से है, जो जन्म के चंद्र से तीसरे स्थान पर है। यह योग आने वाले लोकसभा चुनाव 2019 में उन्हें बहुत फायदा देने वाला है। 30 मार्च से लेकर 23 अप्रेल के बीच शनि से गुरु का भ्रमण उनके लिए फायदेमंद है। गोचर के गुरु की दृष्टि जन्म के सूर्य और शुक्र को देखती है। इसलिए इस चुनाव में वे नागपुर सीट से काफी बड़े अंतर से जीतने वाले हैं।

आचार्य आदित्य के इनपुट के साथ
गणेशास्पीक्स डॉट कॉम/हिंदी

ये भी पढ़ें-
2019 के लिए विवाह मुहूर्त- शादी की शुभ तिथियां

रामचरित मानस की चौपाइयों और दोहों से लाभ
पीएम नरेंद्र मोदी की कुंडली का विश्लेषण
लोकसभा चुनाव 2019: अपने पसंदीदा राजनेताओं की कुंडली का विश्लेषण

Follow Us