अनुराग के लिए आगामी एक साल भी होगा चुनौतीपूर्ण

अनुराग के लिए आगामी एक साल भी होगा चुनौतीपूर्ण

वर्तमान में लोकसभा के सदस्य आैर बीसीसीआर्इ के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर संभवतया पहले एेसे क्रिकेट प्रबंधक हैं जिन्होंने हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संस्था का अध्यक्ष बनने के बाद अपने अपने क्रिकेट कैरियर की शुरूआत की। उन्होंने धर्मशाला में वर्ल्ड क्लास स्टेडियम तैयार कर अपने राज्य को इंटरनेशनल क्रिकेट के नक्शे में शामिल होेने का गौरव दिलाया। पहले वे भारतीय क्रिकेट प्रशासनिक पद में आैर बाद में दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट संघ बीसीसीआर्इ के अध्यक्ष की कुर्सी पर आसीन हुए। यह क्रिकेट जगत की सबसे पावरफुल पाॅजिशन है।  एेसा कहा जाता है कि ये पाॅजिशन किसी कमजोर दिल वाले व्यक्तित्व के लिए नहीं बनी है, क्यूंकि बोर्ड में हर दूसरे दिन एक नया विवाद सुर्खियों में बना रहता है। जिस तरह से हाल ही में सुप्रीमकोर्ट ने बीसीआर्इ पर कड़ा शिकंजा कसा है, एेसे में भारत आैर न्यूजीलैंड के बीच चल रही सीरीज पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। अब अगर ये सीरीज किसी संशय में पड़ती है तो ये ना सिर्फ दोनों देशों के लिए बल्कि क्रिकेट के खेल के लिए भी शर्म की बात होगी। तो क्या क्रिकेट जगत के इस प्रभावपूर्ण पद पर रहते हुए ठाकुर की मुश्किलें कभी कम होगी? या फिर बाधाएं उन्हें आगे बढ़ने से रोकेगी? अाइए जानते है गणेशजी से जिन्होंने ठाकुर की कुंडली का गहन विश्लेषण किया है।

अनुराग ठाकुर 

जन्म दिन: 24 अक्टूबर, 1974

जन्म समय: उपलब्ध नहीं

 जन्म स्थान: हमीरपुर, हिमाचल प्रदेश

अनुराग ठाकुर की सूर्य कुंडली 

kundali

अपनी व्यक्तिगत जन्म कुंडली आैर विस्तृत रीडिंग प्राप्त करें, हमारी व्यक्तिगत जन्मपत्री/ जन्मकुंडली रिपोर्ट से।

शनि का प्रभाव ठाकुर के लिए बढ़ाएगा बहुत सारी मुश्किलेंः 

BCCI अध्‍यक्ष अनुराग ठाकुर की सूर्य कुंडली में गोचर का शनि इनके जन्मकालीन राहु के ऊपर से गुजर रहा है। एेसे में इन्हें अशांति के बीच से होकर आगे बढ़ाना होगा। बीसीसीआर्इ में चल रही आंतरिक कलह को संभालना भी इनके लिए मुश्किल काम होगा। बीसीसीआर्इ की निर्विरोध प्रतिष्ठा सर्वोच्च क्रिकेट कमेटी के रूप में दांव पर होगी आैर वे समस्याआें को सुलझाने के लिए उपयुक्त रास्ता ढूंढने की जद्दोजहद करेंगे। इन्हें एेसा लगेगा जैसे वे उबलती कड़ाही में बैठे हैं। देखा जाए तो आने वाले दिनों में हालात इनके लिए बहुत कठिन होने की संभावना है।

केतु समस्याआें को और भी बढ़ाएगा 

इसके अलावा, जन्म के गुरू के ऊपर से गोचर के केतु का पारगमन होगा। एेसे में उनके आैर बीसीअार्इ के लिए कुछ गंभीर सवाल खड़े होंगे। वे इस समय खुद को कठिन परिस्थितयों में फंसा पाएंगे। केतु आैर शनि के प्रतिकूल पारगमन का बीसीसीआर्इ प्रशासन पर अप्रत्यक्ष रूप से प्रभाव पड़ेगा। गोचर के गुरू की जन्म के चंद्र पर दृष्टि ठाकुर के लिए सकारात्मक संकेत होगी। मुश्किल परस्थितों का सामना ये बहादुरी से करेंगे। अनुराग अपने स्थान से एक इंच भी हिलने को तैयार नहीं होंगे और किसी भी प्रकार की लड़ार्इ से वे दूर रहने की चेष्टा करेंगे। जानना चाहते है आपकी असली ताकत आैर टैलेंट क्या है? क्या आप ये जानने को उत्सकु है कि ग्रह आपके व्यक्तित्व को लेकर क्या संकेत देते है? तो पहचाने अपने बारे में हमारी व्यक्तिगत रिपोर्ट से-आप की कुंडली का सविस्तर प्रालेख

क्या ठाकुर द्रविड़ की तरह ‘ बल्लेबाजी’ कर पाएंगे ? 

बीसीसीअार्इ क्रिकेट जगत की सबसे अधिक कमार्इ करने वाली काउंसिल है या सीधे शब्दों में हम ये कह सकते है कि ये सोने के अंडे देने वाली मुर्गी है। एेसे में इस काउंसिल की टाॅप पोजिशन को हर कोर्इ हासिल करना चाहेगा। चाहे इसके साथ कितनी ही परेशानियां क्यों नहीं आती हो। इस स्थिति में गणेशजी को एेसा लगता है कि सुप्रीमकोर्ट द्वारा लिए गए कड़े रूख को छोड़कर अनुराग ठाकुर को बीसीसीआर्इ के भीतर भी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। इनके प्रतिद्वंदी उनकी योजनाआें आैर रणनीतियों को बाधित कर सकते हैं। बीसीसीआर्इ में किसी प्रकार की प्रमुख फेरबदल होने की भी संभावना है। किसी भी कीमत पर, कम से कम अगले एक साल तक, कठिनार्इयां जारी रहेगी आैर ठाकुर के पास उन्हें रोकने करने का नया तरीका होगा।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित 

तन्मय के ठाकर

गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम, टीम 

क्या आपको जिंदगी के विभिन्न क्षेत्रों से जुड़ी कुछ असमंजस है? तो कोई भी सवाल पूछें आैर हमारे विशेषज्ञों का मार्गदर्शन प्राप्त करें।

09 Oct 2016

View All blogs

Follow Us