संजू बाबा के लिए शुभ-वर्ष2016का उत्तरार्ध, दिसंबर 2020, जीवन में लाएगा एक नया मोड़ - GaneshaSpeaks
https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

संजू बाबा के लिए शुभ-वर्ष 2016 का उत्तरार्ध, दिसंबर 2020, जीवन में लाएगा एक नया मोड़

संजू बाबा के लिए शुभ-वर्ष 2016 का उत्तरार्ध

बॉलीवुड के ‘मुन्नाभाई’ संजय दत्त को फिल्म उद्योग में स्थापित करने में इनके जीवन के रोमांस का काफी महत्वपूर्ण रोल रहा। जहां पुलिसगिरी से इन्हें प्रशंसा व वाहवही मिली, वहीं भाईगिरी से इन्हें दर्शकों की ओर से तालियां व सीटियां भी प्राप्त हुई। वहीं गांधीगिरी ने इन्हें फिल्म प्रशंसकों के समक्ष तो एक आइकन ही बना डाला।

आज बहुत से लोग संजय दत्त पर अपनी जान छिड़कते हैं। ये एक नेक दिल इंसान व अनोखी शख्सियत के स्वामी हैं। अपने 35 साल के भी अधिक के कैरियर में महत्वपूर्ण किरदारों को निभाकर उन्हें जीवंत किया। प्रतिभा के धनी संजय दत्त, प्रसिद्ध बाॅलीवड सितारें सुनील दत्त और नरगिस दत्त के बेटे हैं।

दो फिल्मफेयर पुरस्कार, एक आईफा पुरस्कार, तीन स्क्रीन पुरस्कार, स्टारडस्ट पुरस्कार, एक ग्लोबल इंडियन फिल्म पुरस्कार, और एक बंगाल फिल्म जर्नलिस्ट एसोसिएशन पुरस्कार प्राप्त करने के बाद संजू बाबा ने फिल्म प्रेमियों व आलोचकों में अपनी एक अमिट छाप छोड़ दी है। भावनापूर्ण अभिनय प्रदर्शन के लिए इनकी अक्सर सराहना की जाती है।

हालांकि, ये अभी तक बच्चन, कपूर और खान के रैंक में अपने आपको शामिल नहीं करा पाएं हैं, पर बहुतों की मानें तो दो हिंदी फिल्म के दिग्गजों के पुत्र होने के नाते इनके जीवन की सफलता अत्यंत दुरूह हो गयी है। पर, अभिनेता संजय दत्त के लिए इनके पिता सुनील दत्त हमेशा से ही प्रेरणादायक रहे हैं। “कभी हार मत मानना” जैसा जीवन का अमूल्य सबक अपने पिता से ही सीखा। फिल्म “मुन्नाभाई” की गांधीगिरी द्वारा जनता को शांति व अंहिसा का अमर संदेश देकर तो संजय ने मानो सभी का दिल जीत लिया।

सुंदर स्वभाव के संजय दत्त आज अपना 57वां जन्मदिन मना रहे हैं। चलिए, गणेशजी के द्वारा अब हम इस अभिनेता के सितारों का विश्लेषण करते हुए इनके आगामी भविष्य की एक झलक देखने का प्रयास करते हैं।

संजय दत्त
जन्म तिथि: 29 जुलाई, 1959
जन्म समय: 15:00 बजे
जन्म स्थान: मुंबई, महाराष्ट्र,भारत

संजय दत्त की जन्मकुंडली
kundali

ज्योतिषीय अवलोकनः
संजय दत्त शनि की महादशा और शनि की अंतर्दशा से 25 फरवरी, 2017 तक प्रभावित रहेंगे। इनकी जन्मकुंडली में शनि वित्त से जुड़े द्वितीय भाव में वक्री होकर विराजमान है। वर्तमान में शनि इनकी कुंडली के प्रथम भाव में से होकर पारगमन कर रहा है और यह अपनी दृष्टि कैरियर और व्यवसाय से जुड़े दशम भाव पर डालेगा। 11 अगस्त, 2016 के बाद बृहस्पति का परिभ्रमण एकादश स्थान में से होगा।

ज्योतिषीय भविष्यवाणीः
गणेशजी का मानना है कि एक अभिनेता के रूप में दत्त अपने फिल्मी कैरियर में 26 जनवरी, 2017 के बाद अच्छा प्रदर्शन करेंगे। चूंकि संजू बाबा इस समय शनि की महादशा के प्रभाव में है, इसलिए आगामी समय इनके लिए उतना सरल भी नहीं होगा। राह में कुछ चुनौतियों का इनको सामना करना पड़ सकता है। अगर देखा जाए तो यह अवधि वित्त से संबंधित मामलों के लिए अधिक कष्टदायी रहेगी। इस कारण, इन्हें वित्त से संबंधित निर्णयों में काफी सतर्कता बरतनी होगी।

गणेशजी को महसूस होता है कि इनका फाइनेंसिएल ग्राफ 11 अगस्त, 2016 के पश्चात ऊपर जा सकता है। नई परियोजनाओं व कार्यों में शामिल हो सकते हैं जो कि इनके लिए बेहत अनुकूल साबित होने की संभावना है। हालांकि, वर्ष2017 की दूसरे छमाही में कोई बड़ा परिवर्तन होने की संभावना लग रही है।

गणेश जी का कहना है कि एक अभिनेता के रूप में इनका कैरियर अन्य प्रभवों व परिस्थितियों से असरग्रस्त नहीं होगा। हालांकि, एक स्टार के रूप में फिर से अपने पैर मजबूती से जमाने के लिए असाधारण प्रयास करने की अावश्यकता होगी।

दिसंबर, 2020 संजय दत्त के कैरियर के लिए क्रांतिकारी परिवर्तनों वाला समय होने की संभावना है। इस दौरान शनि की महादशा में शुक्र की अंतर्दशा प्रारंभ होगी। इनकी कुंडली में शुक्र दशम भाव में स्थित सिंह राशि में विराजमान है।

यहां गणेशजी एक अद्भुत रहस्योद्घाटन हमारे समक्ष करते हैं। दिसंबर, 2020 के महीने में संजू के जीवन में एक महत्वपूर्ण परिवर्तन आएगा। यह परिवर्तन शनि की महादशा व शुक्र की अंतर्दशा में घटित होगा। दत्त दुनिया के समक्ष एक नए जोश से प्रस्तुत होकर मनोरंजन उद्योग में अपनी शोहरत से सबको चकाचौंध व रोमांचित कर सकते हैं।

भविष्य में कुछ शानदार फिल्म स्क्रिप्ट्स संजय दत्त के हाथ लगने की संभावना है। भारतीय फिल्मों में इनके बेजोड़ प्रदर्शन को दर्शकों द्वारा तालियों की गड़गड़ाहट व सीटियों से स्वागत किया जा सकता है।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
भावेश एन पट्टनी
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

Follow Us