‘बार बार देखो’ फिल्म को बार-बार देखना मुश्किल

'बार बार देखो' फिल्म को बार-बार देखना मुश्किल

‘लाइफ आॅफ पार्इ’ और ‘रेलुक्टन फंडामेंटालिस्ट’ जैसी फिल्मों में सहायक निर्देशन कर तारीफें बटोरने वाली फिल्मकार नित्या मेहरा ने अपनी फिल्म ‘बार-बार देखो’ के जरिए रूपहले पर्दे पर बतौर निर्देशक पहला दांव खेला है। ये फिल्म अपने आप में अद्वितीय नजर आ रही है जिसका पहला कारण है नित्या मेहरा जो नवोदित निर्देशक के जरिए अपनी प्रतिभा साबित करने के लिए तैयार है। वहीं दूसरी ओर सिद्घार्थ मल्होत्रा और कैटरीना कैफ की जोड़ी पहली बार सिल्वर स्क्रीन पर रोमेंस करती नजर आ रही है। इन सबके बीच धर्मा प्रोडक्शन का सहयोग मनोरंजन को और मजेदार बना रहा है। यानि ये तीन पहिए फिल्म को मजबूती दे रहे हैं। फिल्म की कहानी की बात करें तो वर्तमान पीढ़ी की कैरियर संबंधी प्राथमिकताएं और भौतिकवादी लक्ष्य का असर किस प्रकार उनके परिवार और प्रेम संबंधों पर पड़ता है ये इसमें दर्शाया गया है। फिल्म के ट्रेलर में मुख्य किरदारों के रोमांटिक जीवन के अतीत का चित्रण देखने के बाद दर्शकों की आशा और बढ़ गर्इ है कि ये एक सफल फिल्म साबित होगी। फिल्म का ट्रेलर और दोनों कलाकारों की शानदार कैमेस्ट्री को दर्शाने वाले सांग ‘काला चश्मा’ का लोकप्रिय होनास क्या इस फिल्म के लोकप्रिय होने में अपना असर डाल सकेगा ? या फिर नवोदित निर्देशक मेहरा की इस फिल्म में सिर्फ लव, ब्रेकअप अौर जिंदगी का ही बोरिंग ड्रामा देखने को मिलेगा? क्या ये फिल्म व्यवसायिक और समीक्षात्मक स्तर पर सफल साबित होगी? इस तरह के बहुत सारे सवाल भी अगर आपके जहन में है तो आइए जानते है गणेशजी से जिन्होंनें फिल्म का ज्योतिषीय अध्यययन करने के बाद फिल्म पर भविष्यवाणी की है।

फिल्म का नामः बार बार देखो

रिलीज की तारीख: 9 सितंबर, 2016

प्रमुख क्षेत्रः मुंबई, महाराष्ट्र, भारत

फिल्म ‘बार-बार देखो’ के रिलीज समय की कुंडली

kundali

ग्रहीय चित्रणः

फिल्म ‘बार-बार देखो’ तुला लग्न में रिलीज हो रही है। लग्नाधिपति शुक्र द्वादश भाव में बृहस्पति व वक्री बुध के साथ विराजमान रहेगा जहां बृहस्पति उच्च की स्थिति उच्च की होती है। सूर्य व लाभ से जुड़े एकादश भाव में होते हैं। द्वितीय भाव में चंद्रमा   के साथ मिलकर विष योग बना रहा है। हालांकि, चंद्रमा का मंगल के साथ संयोजन लक्ष्मी योग भी बनाता है। केतु  प्रदर्शन से जुड़े पंचम भाव में स्थित है।

फिल्म की ओपनिंगः

कुंडली में उपस्थित ग्रहों के विन्यास को देखकर गणेशजी को एेसा लगता है कि इस फिल्म की बाॅक्स आॅफिस पर एक अच्छी शुरूआत हो सकती है। लेकिन इस फिल्म की प्रतिक्रिया गर्मजोशी से होने की संभावना उतनी नहीं लगती। तीसरे दिन से हालातों में बेहतरी होने और दूसरे सप्ताह के अंत से फिल्म के पिकअप लेने की संभावना है।

पात्रों के बीच एक अच्छा तालमेल, पर अभिनय में जोश की कमी?  

गणेशजी का मानना है कि फिल्म ग्लैमर, प्रमुख पात्रों के बीच कैमिस्ट्री और ओवरआल लुक व फील के लिहाज से अच्छा प्रदर्शन करेगी। लेकिन जहां तक सवाल है फिल्म के प्रमुख परफॉर्मन्सेस की तो फिल्म अपना जादू यहां खो सकती है। इसकी वजह यह है कि शुक्र कन्या राशि में नीच का हो जाता है और केतु पंचम भाव में अपना प्रभुत्व जमाए हुए है।

यह भी पढ़ेंः कैटरीना कैफ-जानें ये क्यों पिछले कुछ समय से सुर्खियों में नहीं हैं और क्या ये फिर से अपना जलवा बिखेर सकेंगी!  

संवाद:

हालांकि, फिल्म अपने संवादों द्वारा कोई विशेष प्रभाव छोड़ने में कमजोर पड़ सकती है। फिल्म के कुछ दृश्य, विशेषकर कि भावनात्मक दृश्य दर्शकों के साथ अच्छी तरह से कनेक्ट हो सकते हैं। फिल्म के कुछ मजेदार डायलाग आपको हंसा-हंसा कर लोटपोट कर सकते हैं। फिल्म के प्रति लोगों में सकारात्मक आशा इस फिल्म के हित में साबित हो सकती है।

जी हां, फिल्म के रिलीज समय के चार्ट को देखकर गणेशजी यह संभावना व्यक्त कर रहे हैं कि लोगों के मध्य इस फिल्म का पॉपुलर होना इस फिल्म की सफलता को और भी बढ़ाएगा। इसके फलस्वरूप, फिल्म थिएटर में और भी लोग इसे देखने के लिए आ सकते हैं।

फिल्म के लोकेशन्स एंड सिनेमेटोग्राफी- सबसे बड़ी हाइलाइट्स!

फिल्म के विजुअल अपील की दर्शकों द्वारा काफी सराहना की जा सकती है। सिनेमेटोग्राफी भी चर्चा में रहेगी!

बिजनेस की संभावनाएंः

फिल्म के द्वितीय भाव में चंद्र-मंगल महालक्ष्मी रोजयोग के निर्माण होेने के कारण फिल्म की अच्छी कमाई रहेगी। लेकिन एकादश भाव के स्वामी सूर्य के के द्वारा दूषित होने के कारण फिल्म की कमाई उतार-चढ़ाव वाली हो सकती है। हालांकि, अंतराष्ट्रीय मंच पर फिल्म के एक अच्छा व्यापार करने की संभावना है। फिल्म के प्रोड्यूसर इसे लेकर काफी उत्साहित रहेंगे। इस तरह से देखा जाए तो गणेशजी को फिल्म की एक समान कमाई होने की संभावना नहीं लगती और यह कुछ इलाकों में अच्छी खासी कमाई करेगी।

आप इस फिल्म से क्या उम्मीद कर सकते हैं?

फिल्म के द्वारा दर्शकों को कुछ नया देखने की उम्मीद नहीं लगती। प्रमुख कलाकारों के इर्द-गिर्द ही पूरी फिल्म घूमेगी। सपोर्टिंग कास्ट का भी अभिनय अच्छा रहेगा।  फिल्म में संगीत एक अच्छा समा बनाएगा। फिल्म के नकारात्मक पक्ष की बात करें तो इसमे एक अच्छी कहानी कहीं गुम-सी दिखाई पड़ सकती है। फिल्म में इसकी कमी नजर आ सकती है। गणेशी जी की राय मानें तो फिल्म ‘बार-बार देखो’ देखने लायक तो रहेगी, पर इसे किसी तरह से ब्लॉकबस्टर नहीं कहा जा सकता।

गणेशजी इस फिल्म के सफल होने की कामना करते हैं!

गणेशजी के आशीर्वाद सहित

भावेश एन. पट्टनी

(स्पेशल इनपुट्स: आदित्य साई)

गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम टीम

क्या आप सही पार्टनर के तलाश में हैं? तो हमारी व्यक्तिगत सेवा प्रेम को आकर्षित कीजिए! रिपोर्ट आपके रोमांस से जुड़ी संभावनाओं का पता लगाने में मदद करेगी। इसकी सहायता से आप अपने प्रेमी के व्यक्तित्व को बेहतर रूप से समझ पाते है जिससे आपके बीच प्रेम संबंध विकसत होने अवसर बढ़ जाते हैं। अपनी रिपोर्ट आज ही ऑर्डर करें!

07 Sep 2016

View All blogs

Follow Us