https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

अगर किस्मत चमकानी है, तो ज्वेलरी पहनने का स्टाइल बदलिए

राशि के अनुसार ज्वेलरी टिप्स

खूबसूरत ज्वेलरी आपके पर्सनेलिटी के साथ आपकी किस्मत में भी चार चाँद लगा सकती है। दरअसल वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रहों और धातुओं के बीच सीधा संबंध है। सूर्य ग्रह-सोने और तांबे पर, चंद्रमा-चांदी, मंगल -तांबा, बृहस्पति-सोने और शनि, राहु और केतु-लोहे पर अपना कंट्रोल रखते हैं। सोने की तासीर गर्म और चांदी की शीतल है। ज्योतिष में जहां सूर्य सिर का तो वहीं शनि पैर का प्रतीक है। सूर्य और शनि हैं तो रिश्ते में पिता-पुत्र, पर एक-दूसरे के मित्र नहीं है। आयुर्वेद भी कहता है कि आप हमेशा अपने सिर को ठंडा और पैर को गर्म रखें। हम आपको अब बताते हैं कि आप अपने सोने, चांदी जैसी धातुओं या उनसे बने ज्वेलरी से कैसे अपना गुड लक बढ़ा सकते हैं।
1- अगर आपकी लग्न राशि मेष, कर्क, सिंह और धनु है, तो सोना यानी आपकी धन-समृद्धि और गुडलक को बढ़ा सकता है।
2- वृश्चिक और मीन लग्न राशि वाले लोगों के लिए सोना मध्यम रूप से लाभकारी होगा।
3- वृषभ, मिथुन, कन्या और कुंभ लग्न राशि के लिए गोल्ड ज्वेलरी हितकारी नहीं होगी।
4- तुला और मकर लग्न राशि के लोग सोने की चीजें नहीं पहनें।
5- तुला और मकर लग्न वाले सोना पहनने से कर्ज और रोग के चंगुल में फंस सकते हैं।
6- शादीशुदा जीवन में खुशहाली लाने के लिए ज्वेलरी के रूप में गले में सोने की चेन पहनना शुभता का प्रतीक है।
7- संतान नहीं होने पर अनामिका ऊंगली में सोने की अंगूठी पहनने से लाभ होता है।
8- कंसन्ट्रेशन को बढ़ाने के लिए तर्जनी यानी इंडैक्स फिंगर में सोने की अंगूठी पहनना फायदेमंद होता है।
9- गोल्ड की ज्वेलरी गर्मी और सिल्वर की ज्वेलरी शरीर में ठंडक पैदा करती है। इसलिए, कमर से ऊपर के अंगों में सोने के जेवर और इसके नीचे के भागों में चांदी के गहने पहनना चाहिए।
10- सोेन की चीजों को अलमारी या लॉकर में रखते समय उसे लाल कपड़े में बांधकर रखें। इससे ताकतवर मंगल गुरु बृहस्पति को ताकतवर बनाएगा जिससे आपकी धन-समृद्धि भी बढ़ेगी।
11- हरे और लाल रंग की चूड़ियां हाथों पर ज्यादा सूट करेंगी।
12- पैरों में चांदी की पायल पहनने से पीठ, खून के विकार, मूत्ररोग, एड़ी और घुटनों की परेशानी जैसे रोगों में आराम मिलता है|
13- वास्तु शास्त्र के अनुसार पायल की छनछनाहट घर की नेगेटिव एनर्जी को दूर करती है।
14- कुंडली को ध्यान में रखते हुए बीच वाली अंगुली यानी मिडिल फिंगर में लोहे या काले घोड़े की नाल की अंगूठी पहनने पर रोगों और नजर लगने में काफी लाभ मिलता है।
15- वास्तु के अनुसार यदि आप अपने मकान के ईशान या नैऋत्य कोण में सोने के ज्वेलरी सेट इत्यादि रखेंगे तो न केवल यह टिकी रहेगी बल्कि उससे आपकी समृद्धि भी आएगी।
16- बच्चों को टोने-टोटके से बचाने, उनके हेल्थी दांतों के लिए हाथ या पैरों में लोहे अथवा तांबे की रिंग, गले में चंद्र या सूर्य बनाकर पहनना स्वास्थ्यवर्धक होता है।
17- शिक्षण करने वाले लोगों को अपनी पर्सनेलिटी को ब्राइट बनाने के लिए सोने की चेन या अंगूठी अवश्य पहनना चाहिए।
18- भारतीय ज्योतिष के मुताबिक व्यक्ति की पर्सनल कुंडली, चल रही ग्रहों की दशा और गोचर की स्थितियां भी इन धातुओं को धारण करने या ना करने की एडवाइस देती है। जो ग्रह आपके लिए शुभ हो उसकी चीजें आप दूसरों को गिफ्ट में न दें। इन शुभ धातुओं को अनुकूल रत्नों के साथ अंगूठी, पेंडेंट और कड़ों के रूप में भी बॉडी पर धारण किया जाता है। यदि आप भी इन धातुओं या आभूषणों को यूज करके इनका भरपूर फायदा उठाना चाहते हैं तो हमारे एक्सपर्ट एस्ट्रोलॉजर्स से बात करें। हमे आपका मार्गदर्शन करने में दिली खुशी होगी।

तो… अगर आपने पहनी है ये ज्वेलरी, तो आप भी हैं सफल इंसानों की लिस्ट में !

अगर नहीं… तो ज्वेलरी से चमकाएं रूठी किस्मत या फिर ज्वेलरी पहनने का स्टाइल बदलिए।

शुभकामनाओं के साथ,

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

क्या कॅरियर की चिंता है ? कॅरियर – एक प्रश्न रिपोर्ट की मदद लें और अपनी टेंशन का कीजिए अंत।

Follow Us