https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

इंडियन वुमन्स क्रिकेट टीम की स्टार खिलाड़ी हरमनप्रीत कौर पर गणेशजी की भविष्यवाणी

इंडियन वुमन्स क्रिकेट टीम की स्टार खिलाड़ी हरमनप्रीत कौर पर गणेशजी की भविष्यवाणी

आर्इसीसी महिला क्रिकेट वर्ल्डकप 2017 के सेमीफाइनल मुकाबले में आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ 115 गेंदों पर नाबाद 171 रन बनाने वाली स्टार खिलाड़ी हरमनप्रीत कौर की ना सिर्फ नेशनल लेवल पर बल्कि इंटरनेशनल लेवल पर गजब की प्रशंसा हो रही है। उन पर अब तक लाखों के इनाम की बारिश हो चुकी है। वहीं पंजाब के सीएम ने उन्हें डीएसपी की पोस्ट का आॅफर दिया है। पंजाब के मोगा में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस यानि 8 मार्च को जन्मी कौर ने अपना पहला वनडे वर्ष 2009 में खेला था, जबकि उन्होनें पहला शतक 2013 में इंग्लैंड के खिलाफ जड़ा था। हरमनप्रीत टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी वीरेन्द्र सहवाग को अपना आदर्श मानती है, वो सिडनी थंडर्स के साथ कांट्रेक्ट साइन करने वाली पहली भारतीय महिला क्रिकेटर है। तो आइए जानते है गणेशजी से कि इस स्टार खिलाड़ी के लिए आगामी समय कैसा रहेगा? क्या उनके धुंआधार प्रदर्शन का दाैर जारी रहेगा? क्या वो अपनी निजी आैर पेशेवर जिंदगी के बीच तालमेल बिठा पाएगी?

हरमनप्रीत कौर
जन्म-दिनांक: 8 मार्च, 1989
जन्म-स्थान: मोगा, पंजाब, भारत
जन्म-समय: अज्ञात

सूर्य कुंडली

kundali

हमारे विशेषज्ञों द्वारा तैयार अपनी हस्तलिखित जन्मपत्री प्राप्त करें

ज्योतिषीय विश्लेषणः

सूर्य हरमनप्रीत कौर की नेतृत्व की योग्यताआें के संकेत देता हैः

हरमनप्रीत कौर की सूर्य कुंडली का विश्लेषण करने के बाद गणेशजी ने पाया कि उनकी कुंडली में सूर्य अमात्य कारक है। ये उनके नेतृत्व आैर अपने पदचिन्हों पर दूसरों के चलने की आंतरिक इच्छा के संकेत देता है। वहीं मंगल की गुरू के साथ युति दर्शाती है कि वो कोच के मार्गदर्शन का पालन करते हुए सभी एक्शन उठाती है। कुंभ राशि में ग्रहों का समूह इंडियन वुमन्स क्रिकेट टीम के लिए उनकी चिंता को प्रकट करता है। टीम की प्रगति आैर सफलता के बारे में सोचने की उनकी प्रकृति स्वाभाविक है। हरमनप्रीत कौर के लक्ष्य आैर इच्छाएं इंडियन वुमन्स क्रिकेट आैर अपनी टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करना है। उनकी ये स्वभाविक प्रकृति भारतीय महिला क्रिकेट टीम में उनके प्रदर्शन को अनोखी बनाती है। वहीं शुक्र आैर बुध की युति उसे अपने प्रदर्शन में बहुमुखी होने की क्षमता देती है। जिस तरह राहु भी उनके लग्न स्थान में है, एेसे में हरमनप्रीत कौर अपने खुद के रूल से खेलती है आैर मैच के दौरान नए रूल बनाती है।

शनि के रिटर्न से हरमनप्रीत कौर के कैरियर में उन्नति की उम्मीद:

हरमनप्रीत कौर 25 अक्टूबर, 2017 से शनि के रिटर्न का अनुभव करेंगी। ये चरण उनके कैरियर को उन्नति देने की संभावना है। वो अपने रोल को पहले से अधिक गंभीरतापूर्वक लेगी। इस अवधि के दौरान उसे आखिरकार अपनी कमजोरियों का एहसास होगा आैर वो उनसे बाहर आएगी। लेकिन इस वर्ष आपका कैरियर कैसा रहेगा? इसका जवाब जानने के लिए खरीदें 2017 कैरियर रिपोर्ट आैर जानें कि इस वर्ष आपका कैरियर किस मुकाम पर पहुंचेगा।

गुरू कुछ उत्कृष्ठ प्रदर्शनों के साथ हरमनप्रीत कौर को आगे आने में मदद करेगाः

12 सितंबर, 2017 से गुरू तुला राशि में गोचर करेगा। जो कि हरमनप्रीत कौर की कुंडली में ग्रहों के समूह आैर प्रदर्शन के पांचवें भाव पर दृष्टि डालेगा, जो आगामी मैचों में उनको उत्कृष्ठ प्रदर्शन के लिए प्रेरित करेगा।

राहु-केतु का गोचर बदलेगा हरमनप्रीत कौर का भाग्यः

राहु-केतु का गोचर, जो कि डेढ़ साल पहले शुरू हुआ था आैर जो 16 अगस्त 2017 तक चलेगा, अभी तक हरमनप्रीत के लिए एक परिवर्तनकारी अवधि साबित हुर्इ है। जिसके तहत वो सेहत संबंधी मसलों से गुजर रही है। राहु-केतु गोचर की इस अवधि में हरमनप्रीत काैर का पूरा कैरियर आैर निजी जिंदगी 360-डिग्री तक घूमा । हालांकि, इस चरण में हुए बदलाव अब उसे अपने दुश्मनों को हराने में मदद करेंगे क्यूंकि 16 अगस्त, 2017 राहु गुप्त शत्रुआें के छठें भाव से गोचर करना शुरू कर देगा।

हरमनप्रीत कौर परिवार के साथ पर्याप्त समय बिताने में सक्षम होगीः

गुरू का आगामी गोचर जो कि 12 सितंबर, 2017 से शुरू होगा वो हरमनप्रीत कौर की कुंडली के नौवें भाव में गोचर करेगा, लग्न पर इसकी दृष्टि दर्शाती है कि वो अपने जन्म-स्थान की यात्रा अधिक करेगी आैर इस प्रकार वो अपने परिवार को पर्याप्त समय दे पाएगी। वो बहुत ही अच्छे ढंग से अपनी निजी आैर पेशेवर जिंदगी को संतुलित कर पाएगी, जो वो पहले मैनेज नहीं कर सकी थी।

हरमनप्रीत कौर को अपनी सेहत का खास ख्याल रखना होगाः

16 अगस्त, 2017 तक केतु का लग्न पर से गोचर कौर के लिए थोड़ा मुश्किल है। उसे अपनी सेहत को अच्छे से संभालने की जरूरत है। कौर के लिए शारीरिक स्वास्थ्य से ज्यादा मानसिक स्वास्थ्य ज्यादा महत्वपूर्ण होगा। ये गोचर दर्शाता है कि वो कुछ भावनात्मक अशांति से गुजर सकती है आैर जो उनके शारीरिक स्वास्थ्य को प्रभावित करेगी आैर इस कारण उनकी परफोमेंस पर असर होगा। हालांकि, उपरोक्त तारीख के बाद हरमनप्रीत के अपनी सेहत में सुधार देखने की संभावना है।

हरमनप्रीत कौर की वित्तीय स्थिति में उछाल आएगाः

गोचर के शनि की जन्म के गुरू पर दृष्टि, जो कि वित्त के दूसरे भाव का स्वामी है, 25 अक्टूबर 2017 से नहीं पड़ेगी। इस कारण हरमनप्रीत की आर्थिक स्थिति में उछाल आने की संभावना है। वो अपनी वित्तीय स्थिति में परिवर्तनकारी वृद्घि का अनुभव करेगी। हालांकि पैसे बचाने के लिए उसे अपनी तरफ से उपयुक्त योजना आैर प्रबंधन करने की जरूरत होगी। तो क्या आप भी अपनी आर्थिक स्थिति के बारे में सोच रहे है कि तो हमारी 2017 वित्त रिपोर्ट का लाभ उठाए। वो भी बिल्कुल फ्री।

हरमनप्रीत कौर का बेस्ट परफोमेंस अक्टूबर 2018 के बाद सामने आएगाः

उपरोक्त अवधि आखिरकार हरमनप्रीत कौर के कैरियर में स्थिरता लाएगी। ये उसका आत्मविश्वास बढ़ाएगी आैर वो बेहतर परफोमेंस देगी। कौर की प्रगति की गति तेज होगी आैर उसके अपनी परफोमेंस आैर टीम वर्क से पहचान प्राप्त करने की संभावना है। हालांकि, जब गुरू वृश्चिक राशि में गोचर करेगा तब आप अक्टूबर 2018 के बाद उसकी बेस्ट परफोमेंस देखेंगे।
त्वरित समाधान के लिए ज्योतिषी से बात कीजिए।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
आकांक्षा झुंनझुनवाला
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

Follow Us