अमेठी चुनाव 2019 की भविष्यवाणी: मतदाताओं की 'स्मृति' में रहेंगे राहुल ? - GaneshaSpeaks
https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

अमेठी चुनाव 2019 की भविष्यवाणी: मतदाताओं की ‘स्मृति’ में रहेंगे राहुल ?

अमेठी चुनाव 2019 की भविष्यवाणी: मतदाताओं की 'स्मृति' में रहेंगे राहुल ?

राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के बीच अमेठी में कांटे की टक्कर है। इस सीट पर 2014 में भी बीजेपी की स्मृति और कांग्रेस के राहुल के बीच सीधी लड़ाई थी। स्मृति ने काफी वोट पाकर लोगों में अपनी विशेष छाप छोड़ी। अब 2019 में राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के बीच चुनाव में कौन जीतेगा। ग्रहों से करते हैं इसका आकलन-

स्मृति ईरानी की जन्म कुंडली

दिनांक: 23 मार्च 1976
समय : सुबह 10:00 बजे (अपुष्ट)
स्थान: नई दिल्ली, भारत

kundali

राहुल गांधी की जन्म कुंडली

दिनांक: 19 जून 1970
समय: 14:28 (अपुष्ट)
स्थान: नई दिल्ली, भारत

kundali

राहुल-स्मृति के लिए क्या बोलते हैं सितारे बोलते हैं (ज्योतिषीय कारक)

स्मृति ईरानी की जन्म कुंडली में उनका योगकारक ग्रह शनि 8 वें घर से होकर जन्म के चंद्रमा के ऊपर से गुजर रहा है। जहां तक राहुल के चार्ट का सवाल है, उनका जन्म का सूर्य और मंगल भाग्य के 9 वें घर में छाया ग्रह राहु के हानिकारक प्रभाव में हैं।

राहुल-स्मृति के लिए ज्योतिषीय भविष्यवाणी

ग्रहों के प्रभाव राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के बीच लड़ाई को काफी उग्र बना देंगे। स्मृति के चार्ट में ग्रहों का संयोजन उनके विरोधियों के लिए एक बड़ा खतरा हो सकता है। राहु के गोचर से उनका जन्म का मंगल प्रभावित हो रहा है, जो निश्चित रूप से मतदाताओं पर एक जादुई प्रभाव पैदा करेगा। यह संयोजन आग में एक ईंधन का काम करेगा। स्मृति को राहुल की भारी संख्या में वोटों की कटौती करने में भी मदद कर सकता है। हालांकि शनि के प्रतिकूल गोचर के कारण उनका मार्ग कठिन हो सकता है।

अमेठी में राहुल के लिए मुश्किल !

दूसरी और देखें तो राहु के प्रतिकूल प्रभाव के कारण राहुल की सफलता की राह उतनी आसान नहीं दिख रही है। दूसरे शब्दों में कहा जाए तो, इस लड़ाई में स्मृति के खतरे को दूर करने के लिए उन्हें बहुत संघर्ष करना पड़ सकता है, साथ ही अमेठी से अपनी लोकसभा सीट को बनाए रखने के लिए काफी मजबूत प्रयास करने होंगे। उपर्युक्त ग्रहों के सह-संबंधों से संकेत मिलता है कि राहुल गांधी को अपनी सीट बरकरार रखने के लिए बहुत कठिन परिस्थितियों से गुजरना होगा। इस गला काट लड़ाई में राहुल गांधी के मामूली वोट से जीत की उम्मीद है। दूसरी तरफ, स्मृति ईरानी पिछले लोकसभा चुनावों की तुलना में भारी संख्या में वोट हासिल करेंगी।

राहुल-स्मृति के लिए कुंडली का निष्कर्ष

संक्षेप में, गणेशजी को लगता है कि राहुल गांधी काफी कम मार्जिन से जीत सकते हैं, लेकिन मतदान वाले दिन के दूसरे पहर में इस स्थिति में उतार-चढ़ाव हो सकता है, ऐसे में काफी कम मार्जिन के साथ स्मृति ईरानी के भी जीत की संभावनाएं बन सकती है।

आचार्य भट्टाचार्य के इनपुट के साथ
गणेशस्पीक्स डॉट कॉम/हिंदी

ये भी पढ़ें-
लोकसभा चुनाव 2019 : कांग्रेस की कुंडली विश्लेषण और भविष्य

आम चुनाव 2019 पर शनि-केतु की युति का असर
लोकसभा चुनाव 2019 : सात चरणों की तारीख
रामनवमी 2019: रामनवमी 2019 की तिथि और पूजा विधि

Follow Us