https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

गुप्त नवरात्रि 2019 तीन से : तिथि, तंत्र साधना और नवदुर्गा की पूजा

गुप्त नवरात्रि 2019 तीन से : तिथि, तंत्र साधना और नवदुर्गा की पूजा

मंत्र साधना से गुप्त नवरात्रि में प्राप्त करें सिद्धि

शारदीय नवरात्र के वक्त शक्ति की प्रतीक माँ दुर्गा की अाराधना जोर-शोर से की जाती है। हालांकि चैत्र नवरात्र में भी देवी की अराधना बड़े पैमाने पर होती है। क्या अापको पता है कि साल भर में शारदीय और चैत्र नवरात्र के अलावा दो और नवरात्र सहित कुल चार नवरात्र होते हैं। अगर नहीं तो हम अापको बताते हैं। इन दोनों के अलावा दो गुप्त नवरात्र होते हैं। पहले इसके बारे में कम ही लोगों को पता था, लेकिन अब लोग इसके बारे में भी जानने लगे हैं। हालांकि इन दोनों गुप्त नवरात्रों में भी माँ दुर्गा के विभिन्न स्वरूपों की आराधना के साथ ही दस महाविद्या की पूजा की जाती है। खास तौर पर गुप्त नवरात्र में तंत्र साधना की जाती है।

अाषाढ़ और माघ माह में मनाई जाती है गुप्त नवरात्रि?

गुप्त नवरात्रि आषाढ़ और माघ माह के शुक्ल पक्ष में मनाई जाती है। तंत्र पूजा के लिए गुप्त नवरात्रि को बहुत खास माना जाता है। वर्ष 2019 में गुप्त नवरात्र माघ माह के शुक्ल पक्ष में 5 फरवरी से शुरू हो रही है, जिसका समापन 14 फरवरी को होगा। आषाढ़ महीने की नवरात्रि 3 जुलाई से शुरू हो रही है।

10 महाविद्या की होती है पूजा

गुप्त नवरात्रि की पूजा के नौ दिनों में माँ दुर्गा के नौ स्वरूपों की बजाय दस महाविद्याओं की पूजा की जाती है। ये दस महाविद्याएं मां काली, तारा देवी, त्रिपुर सुंदरी, भुवनेश्वरी, छिन्नमस्ता, त्रिपुर भैरवी, मां धूमावती, बगलामुखी, मातंगी और कमला देवी हैं।

गुप्त नवरात्रि 2019

आषाढ़ नवरात्रि तिथि 2019
नवरात्रि का पहला दिनतिथि – प्रतिपदा3 जुलाई 2019, घटस्थापना, कलश स्थापना, शैलपुत्री पूजा
नवरात्रि का दूसरा दिनतिथि – द्वितीया4 जुलाई 2019ब्रह्मचारिणी पूजा
नवरात्रि का तीसरा दिनतिथि – तृतीया5 जुलाई 2019, चंद्रघंटा पूजा
नवरात्रि का चौथा दिनतिथि – चतुर्थी+ पंचमी

6 जुलाई 2019, कुष्मांडा पूजा, स्कंदमाता पूजा

नवरात्रि का पांचवा दिनतिथि – षष्ठी7 जुलाई 2019 , कात्यायनी पूजा
नवरात्रि का छठा दिनतिथि – सप्तमी8 जुलाई 2019, कालरात्रि पूजा
नवरात्रि का सातवां दिनतिथि – अष्टमी9 जुलाई 2019 , महागौरी पूजा
नवरात्रि का अाठवां दिनतिथि – नवमी10 जुलाई 2019सिद्धिदात्री पूजा, नवरात्रि पारण, नवरात्री हवन

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

ये भी पढ़ें-
मंगल ने बदली है चाल, जानिए क्या है आपकी राशि का हाल

मूलांक के अनुसार जानिए अपना वार्षिक भविष्यफल

Follow Us