https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

आमिर ख़ान पर ग्रह नहीं मेहरबान, सावधान रहें! गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

आमिर ख़ान पर ग्रह नहीं मेहरबान, सावधान रहें! गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

लंबे समय से आमिर ख़ान बहुत कम फिल्मों में काम करते हैं। फिर भी, उनकी लोकप्रियता सातवें आसमान पर है, इसमें कोर्इ दो राय नहीं है। हालांकि, असहिष्णुता पर बयान देने के बाद आमिर ख़ान को कितनी आलोचनाआें को सामना करना पड़ा है, यह बात तो किसी से छुपी नहीं है। मगर, क्या यह मामला ठंडा पड़ जाएगा ? क्या आमिर ख़ान की आलोचना नकारात्मक प्रचार के रूप में आमिर ख़ान को भविष्य में लाभ देगी या उनकी ब्रांड वैल्यू गिर जाएगी ? क्या जो आमिर ख़ान के साथ हो रहा है, उसके पीछे ग्रहों का हाथ है? अगर, ग्रहों के कारण आमिर ख़ान को मुश्किल समय से गुजरना पड़ रहा है तो यह कितने समय तक रह सकता है ? इन तमाम सवालों के जवाब जानने के लिए गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम के ज्योतिषविदों ने आमिर ख़ान की जन्म कुंडली का अध्ययन किया।


आमिर ख़ान
जन्म तिथि :-14 मार्च , 1965
जन्म समय :- 06.15 सुबह
जन्म स्थान :- मुम्बर्इ, महाराष्ट्र, भारत

आमिर ख़ान की जन्म कुंडली

kundali

ज्योतिषीय दृष्टि :

  • ३० दिसंबर २०१५ तक, सूर्य की महादशा, गुरू की अंतर दशा एवं शनि की प्रत्यंतर जारी रहेगी। इसके बाद ९ फरवरी २०१६ तक बुध की अंतर दशा का प्रभाव रहेगा।
  • कम्युनिकेशन का प्रतीक ग्रह बुध बहुत कमजोर है, क्योंकि यह कमजोर राशि में उपस्थित है।
  • फिलहाल, केतु कमजोर बुध पर से पारगमन कर रहा है, जो ३० जनवरी २०१६ तक जारी रहेगा।
  • राहु अभाग्य, अप्रत्याशित समस्या एवं मानभंग के आठवें स्थान के बीच से पारगमन कर रहा है।
  • ३० जनवरी २०१६ के पश्चात राहु एवं केतु क्रमशः पहले एवं सातवें भाव की धुरी पर से गुजरेंगे, जो लगभग अगले डेढ़ साल के लिए जारी रहेगा।
  • २६ जनवरी २०१७ तक गोचर का शनि उसके जन्म के सूर्य के साथ केंद्र में बना रहेगा एवं अन्य ग्रह लग्न स्थान में रहेंगे।

ग्रहों की स्थितियां देखने के बाद गणेशजी महसूस कर रहे हैं कि आमिर ख़ान एक कठिन समय से गुजर रहे हैं। जो ग्रहीय स्थितियां बन रही हैं, वे आमिर ख़ान के लिए सकारात्मक संकेत नहीं दे रही हैं। गुरू मेष में है, जो आमिर ख़ान को विविध मुद्दों पर अपने विचार रखने के लिए प्रेरित करेगा। हालांकि, सूर्य एवं शनि की दशा के कारण उनको चुनौतियों, समस्याआें एवं आलोचनाआें का सामना करना पड़ेगा। गणेशजी की सलाह है कि यदि संभव हो तो आमिर ख़ान को ९ फरवरी २०१६ तक किसी भी तरह के कम्युनिकेशन से बचना चाहिए, अन्यथा उनको काफी आलोचनाआें का सामना करना पड़ सकता है।

इसके अलावा ९ फरवरी २०१६ से केतु प्रत्यंतर दशा शुरू होने की संभावना है एवं उनका केतु दसवें स्थान में स्थित है, इसलिए उनके करियर पर नकारात्मक असर पड़ने की संभावनाएं अधिक बन रही हैं। इस समय आमिर ख़ान को काफी सावधान रहने की जरूरत रहेगी। गणेशजी देख रहे हैं कि ३० जनवरी २०१६ के बाद जब केतु जन्म के सूर्य, शुक्र एवं शनि पर से पारगमन करेगा। यह समय तो आमिर ख़ान के लिए आैर भी कठिन भी होगा। इस समय उनको अपनी छवि को धूमिल होने से बचाने के लिए प्रयास करने होंगे। उनके द्वारा दिए गए बयान या किए गए कार्य उनके लिए मुसीबत बन सकते हैं। उनका सत्ता या उच्च अधिकारियों के साथ वाद विवाद होने की संभावना है। इसका नकारात्मक प्रभाव उनकी ब्रांड वैल्यू एवं आने वाली फिल्मों पर देखने को मिलेगा।

संक्षेप में कहें तो २६ जनवरी २०१७ तक आमिर ख़ान को सामाजिक एवं मानसिक तनाव के बीच से गुजरना पड़ सकता है। इस समय तक आमिर ख़ान को चीजें धुंधली एवं अव्यवस्था नजर आएंगे। गणेशजी की सलाह है कि आमिर ख़ान को नए प्रोजेक्टों पर ध्यान देने की बजाय अपने वर्तमान समय में चल रहे कार्यों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, जो उनके लिए बेहतर होगा अन्यथा नुकसान की संभावनाएं प्रबल हैं।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

Follow Us