https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

शुक्र गोचर 2017: जानें कर्क राशि में ये गोचर क्या प्रभाव दिखाएगा

शुक्र गोचर 2017

शुक्र गोचर की तारीखें :

शुरूआत: 21 अगस्त 2017समाप्त: 14 सितंबर 2017

शुक्र कर्क मेंः आेवरव्यू
ग्रहों के समूह में शुक्र ग्रह को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। जो कि विशेषकर महिला कारकों के महत्व के रूप में जाना जाता है। शुक्र मनोरंजन, कला, ब्यूटी प्रोडेक्ट से संबद्घ है। असुरों के गुरु शुक्राचार्य का प्रतीक चिन्ह शुक्र ग्रह है। शुक्र को मृत संजीवनी विद्या का कारक कहते हैं। मृत अवस्था तक पहुंचे व्यक्ति को जीवनदान देने का सामर्थ्य शुक्र रखता हैं। जहां गुरु धन व भंडार का कारक है वहींं इस धन का भोग करने की शक्ति शुक्र के हाथ में होती है। इस तरह से देखा जाए तो भौतिक सुविधाओं का यह ग्रह हर एक व्यक्ति के जीवन में काफी महत्व रखता है। जो कि 21 अगस्त 2017से 14 सितंबर तक कर्क राशि में गोचर करेगा। शुक्र के गोचर से हर एक राशि प्रभावित होगी। तो आइए जानते है बारह राशियों पर पड़ने वाले इसके शुभ-अशुभ परिणामों के बारे मेंः

( कृपया ध्यान दें: ये भविष्यवाणियां चंद्र राशि के आधार पर की गई है। पर इसका कुछ प्रभाव लग्न राशि से भी देखा जा सकेंगा। यदि आप अपनी लग्न राशि जानना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें )

शुक्र गोचर 2017: शुक्र कर्क में – 12 राशियों के लिए भविष्यवाणियां

शुक्र के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव

– शुक्र चौथे भाव में

मेष राशि के जातकों के लिए, शुक्र का गोचर चौथे भाव में होगा आैर ये गोचर वित्तीय आैर पारिवारिक मामलों में अनुकूल परिणाम प्रदान करेगा। आप वैवाहिक, निजी, सामाजिक जिंदगी, बिजनेस संबंधों अौर साझेदारी में भी अच्छे परिणाम प्राप्त करेंगे। 21 से 23 अगस्त 2017 तक की अवधि वित्तीय, पारिवारिक मामलों, वैवाहिक, सामाजिक जिंदगी आैर बिजनेस संबंधों के लिए आैसत रहेगी। लेकिन 23 अगस्त से 14 सितंबर 2017 तक आप उपरोक्त क्षेत्रों में अनुकूल परिणाम प्राप्त करेंगे। तो क्या आप बिजनेस को एक नए मुकाम पर पहुंचाना चाहते है, लेकिन ये नहीं समझ पा रहे कि कहां से शुरूआत करें तो परेशान ना हो, हमारी 2017 बिजनेस रिपोर्ट प्राप्त करें, जो अापको इस संबंध में उचित मार्गदर्शन देगी।

शुक्र के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव

– शुक्र तीसरे भाव में

वृषभ राशि के जातकों के लिए, शुक्र का गोचर तीसरे भाव में होगा। जिसके प्रभाव से, आप शारीरिक आैर मानसिक दोनों तरह से स्वस्थ रहेंगे। ये अवधि जाॅब, ननिहाल पक्ष, नौकरों, सेहत आैर दुश्मनों के संबंध में अनुकूल रहेगी। लेकिन 21 से 23 अगस्त 2017तक अपनी सेहत का ख्याल रखें, अन्यथा आप बीमार पड़ सकते है। अनावश्यक चिंता भी आपको परेशान कर सकती है। 23 अगस्त 2017 से 14 सितंबर 2017 तक वित्तीय ग्रोथ की संभावना नजर आ रही है। पारिवारिक संबंध सौहार्द्रपूर्ण रहेंगे। रिश्ते बड़े जटिल होते है, एक छोटी-सी गलती कर्इ बार भारी पड़ जाती है। तो क्या आपके मन में भी अपने रिश्ते से जुड़ा कोर्इ सवाल है ? तो खरीदें हमारी रिश्ते एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट-विस्तृत सलाह आैर अपनी समस्या का समाधान पाए।

शुक्र के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव

– शुक्र दूसरे भाव में

मिथुन राशि के जातकों के लिए, शुक्र का गोचर दूसरे भाव में होगा। इसके प्रभाव से, आप धर्म, प्यार, पढ़ार्इ, लाॅटरी-सटटेबाजी आैर खेल संबंधी मामलों में अनुकूल परिणाम प्राप्त करेंगे। 21 से 23 अगस्त 2017 के बीच धार्मिक यात्रा पर जाने से बचें। इस गोचर के दौरान मेडिकल खर्चों के भी संकेत मिल रहे है। 23 अगस्त 2017 से 14 सितंबर तक लव रिलेशनशिप सुसंगत रहेंगे। विद्यार्थियों के लिए ये अनुकूल अवधि है। बच्चों के साथ संबंध मधुर रहेंगे। खेल से जुड़ी गतिविधियों में प्रगति की संभावना है। तो इस वर्ष आपका कैरियर किस मुकाम पर पहुंचेगा इस बारे में जानने के लिए खरीदें 2017 कैरियर रिपोर्ट आैर अपने कैरियर को नए मुकाम पर ले जाए।

शुक्र के गाेचर का कर्क राशि पर प्रभाव

– शुक्र पहले भाव में

कर्क राशि के जातकों के लिए, शुक्र का गोचर पहले भाव में होगा जो कि फाइनेंस, चल-अचल संपत्ति, वाहन, उच्च शिक्षा, बड़े भार्इ बहिनों आैर माता के साथ संबंधों के मामले में अनुकूल परिणाम प्रदान करेगा। 21 से 23 अगस्त 2017 तक भार्इ, बहिन या दोस्तों के साथ असुखद घटनाआें के संकेत मिल रहे है। ये अवधि वित्तीय मामलों के लिए सामान्य रहेगी। हालांकि 23 अगस्त 2017 से 14 सितंबर 2017 के बीच वित्तीय मोर्चे पर लंबित मसलें हल होंगे। तो क्या आप ये जानना चाहते है कि इस वर्ष आपकी वित्तीय स्थिति कैसी रहेगी ? तो खरीदें 2017 वित्त रिपोर्ट, आैर जानें अपनी वित्तीय स्थिति के बारे में।

शुक्र के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव

– शुक्र बारहवें भाव में

सिंह राशि के जातकों के लिए, शुक्र का गोचर बारहवें भाव में होगा। इसके प्रभाव से पिता, छोटे भार्इ-बहिन, छोटी दूरी की यात्राएं आैर प्रोफेशन में आपको आैसत परिणाम मिलेंगे। 23अगस्त 2017 से 14 सितंबर, 2017 के बीच छोटी दूरी की यात्राएं सफल रहेगी। पिता के साथ भी संबंध सौहार्द्रपूर्ण रहेंगे आैर आप अपने प्रोफेशन में मध्यम परिणाम प्राप्त करेंगे। इस वर्ष आपके कैरियर में क्या उतार-चढ़ाव आ सकता है, इस बारे में जानने के लिए खरीदें 2017 कैरियर रिपोर्ट।

शुक्र के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव

– शुक्र ग्यारवें भाव में

कन्या राशि के जातकों के लिए, शुक्र का गोचर ग्यारवें भाव में होगा। इसके प्रभाव से, आपका पारिवारिक जीवन सुसंगत रहेगा आैर आपकी वित्तीय स्थिति सुधरेगी। धार्मिक यात्रा पर जाने अौर तरक्की के अवसर मिल सकते है। 21 से 23 अगस्त 2017 तक पारिवारिक माहौल आैसत रहेगा। आपकी वित्तीय स्थिति अस्थिर होगी। प्रगति की राह में आप कठिनार्इयों का सामना करेंगे आैर कुछ मामलों में भाग्य आपका साथ नहीं देगा। 23 अगस्त 2017 से 14 सितंबर 2017 के बीच आप वित्तीय रूप से अधिक सहज होंगे। परिवार में खुशनुमा आैर सुखद कार्यक्रम हो सकते है। परिवार महत्वपूर्ण है आैर ये शादी के साथ बढ़ता है। अगर आपके अपने विवाह या वैवाहिक जीवन को लेकर कोर्इ सवाल है, तो पाए हमारी विवाह एक प्रश्न पूछेंः विस्तृत सलाह रिपोर्ट आैर उचित मार्गदर्शन पाए।

शुक्र के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव

– शुक्र दसवें भाव में

तुला राशि के जातकों के लिए शुक्र का गोचर दसवें भाव में होगा। इस कारण, आप मानसिक आैर शारीरिक दोनों तरह से स्वस्थ रहेंगे। पैतृक संपत्ति से जुड़े मामले हल होंगे। लेकिन 21 से 23 अगस्त 2017 तक अपनी सेहत का ख्याल रखें अन्यथा आप बीमार पड़ सकते है। पैतृक संपत्ति से संबद्घ मामलों में जटिलताआें के संकेत मिल रहे है। लेकिन 23 अगस्त 2017 से 14 सितंबर 2017 तक आप काफी स्वस्थ रहेंगे। ये समय पैतृक संपत्ति से जुड़े मामलों के लिए भी अनुकूल है। क्या आप चाहते है कि आपके पास खूब पैसा हो, लेकिन इस दिशा में आपको मुश्किलें आ रही है तो खरीदें समृद्घि एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट आैर अपनी सफलता की राह में आ रहे रोड़ों को दूर करें।

शुक्र के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव

– शुक्र नौवें भाव में

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए, शुक्र का गोचर नौवें भाव को प्रभावित करेगा जो कि साझेदारी, वैवाहिक, निजी व सामाजिक जिंदगी के मामलों में अनुकूल रहेगा। चैरिटी या कुछ अन्य गतिविधियों में आकस्मिक खर्चों के संकेत मिल रहे है। 21 से 23 अगस्त 2017 तक, वैवाहिक व निजी संबंधों को लेकर सचेत रहें। पब्लिक लाइफ में मानहानि आैर साझेदारी के रिश्तों में मतभेद की संभावना है। लेकिन 23 अगस्त 2017 से 14 सितंबर 2017 के बीच हालातों में सुधार होगा। जिससे वैवाहिक व निजी रिश्ते सुखद आैर सामंजस्यपूर्ण रहेंगे। पब्लिक लाइफ में प्रसिद्घि मिलने की भी संभावना है। लोकप्रियता अच्छे रिश्ते बनाने से मिलती है। क्या आपको अपने रिश्ते को लेकर किसी प्रकार का संदेह है ? तो इसका समाधान पाए रिश्ते एक प्रश्न पूछें-विस्तृत सलाह रिपोर्ट से।

शुक्र के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव

– शुक्र अाठवें भाव में

शुक्र का ये गोचर धनु राशि के जातकों के आठवें भाव को प्रभावित करेगा। इस कारण, आपको बड़े भार्इ-बहिनों, दोस्तों, जाॅब, ननिहाल पक्ष के रिश्तेदारों, नौकरों एवं सेहत के मामले में अनुकूल परिणाम मिलेंगे। लेकिन अापको गोचर के शुरूआती तीन दिन यानि 21 से 23 अगस्त तक संभलकर रहना होगा क्यूंकि इस दौरान जाॅब में कुछ मुश्किलों के संकेत मिल रहे है। साथ ही इस समय अपनी सेहत का भी ख्याल रखें। 23 अगस्त से 14 सितंबर के बीच अापकी वित्तीय स्थिति सुधरेगी। इस समय ननिहाल पक्ष के रिश्तेदारों से कुछ लाभ मिलने की अपेक्षा करें। अगर आपकी अपनी लव लाइफ से जुड़ी कुछ समस्या है तो आप इसका समाधान पा सकते है प्रेम एक प्रश्न पूछें-विस्तृत सलाह रिपोर्ट से।

शुक्र के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव

– शुक्र सातवें भाव में

शुक्र का गाेचर मकर राशि के जातकों के सातवें भाव को प्रभावित करेगा इस कारण प्रेम संबंधों, बच्चों, पिता, पढ़ार्इ, लाॅटरी-सटटेबाजी जैसे मामलों में अच्छे परिणाम मिलेंगे। हालांकि 21 से 23 अगस्त 2017 तक अाप अपनी पढ़ार्इ पर ध्यान केन्द्रित करने में असमर्थ हो सकते है। वित्तीय जटिलताएं या समस्याआें के संकेत मिल रहे है। इस समय अपने कार्यक्षेत्र की गतिविधियों पर फोकस रहें। 23 अगस्त 2017 से 14 सितंबर 2017 तक आपके पिता के साथ सुसंगत संबंधों आैर वित्तीय लाभ मिलने की संभावना है। क्या आप अपने बिजनेस का विस्तार करना चाहते है, तो खरीदें हमारी 2017 बिजनेस रिपोर्ट आैर जानें कौन-सा समय आपके लिए अनुकूल रहेगा।

शुक्र के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव

– शुक्र छठें भाव में

कुंभ राशि के जातकों के लिए शुक्र का गोचर छठें भाव में होगा। इस कारण आप चल-अचल संपत्ति आैर वाहन के मामलों में अनुकूल परिणाम प्राप्त करेंगे। आपके अपनी माता के संबंध सुसंगत रहेंगे आैर आप अत्यधिक भाग्यशाली बनेंगे। 23 अगस्त 2017 से 14 सितंबर 2017 तक की अवधि वाहन खरीदने या संबंधित कार्यों के लिए अच्छी है। हायर स्टडी के लिए ये बहुत अच्छा समय है। अगर आपके मन में अपनी जिंदगी के किसी भी क्षेत्र से जुड़ी परेशानी है तो खरीदें हमारी कोर्इ भी प्रश्न पूछे रिपोर्ट आैर अपने मसले का समाधान पाए।

शुक्र के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव

– शुक्र पांचवें भाव में

शुक्र का ये गोचर मीन राशि के जातकों के पांचवें भाव को प्रभावित करेगा। इस गोचर के लाभदायी प्रभाव के कारण छोटे भार्इ-बहिन, दोस्तों के साथ आपके संबंध सौहार्द्रपूर्ण रहेंगे। आप अपने कार्यक्षेत्र में प्रगति की राह में आगे बढ़ेंगे। छोटी दूरी की यात्रा की भी संभावना है। आपकी सेहत भी अच्छी रहेगी। हालांकि गोचर के शुरूआती तीन दिनों में पैतृक संपत्ति से जुड़े मामलों में बाधाआें या देरी के संकेत मिल रहे है। लेकिन इसके बाद 14 सितंबर 2017 तक समय अच्छा होगा। इस समय जाॅब में प्रमोशन या प्रतिष्ठा में बढ़ोतरी आैर सुखदायी यात्रा की संभावना नजर आ रही है। वहीं पैतृक संपत्ति से जुड़े लंबित मामले भी क्रमशः हल होंगे। अगर आप अपने वित्तीय मसलों को लेकर चिंतित है, तो खरीदें 2017 वित्त रिपोर्ट आैर अपनी समस्या का समाधान पाए।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
प्रकाश पंडया
गणेशास्पीक्स डाॅटकाॅम टीम

त्वरित समाधान के लिए,
ज्योतिषी से बात कीजिए।