वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में करें ये महत्वपूर्ण उपाय

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में करें ये महत्वपूर्ण उपाय
जिस प्रकार से कुंडली की खामियों का रत्न, यंत्र, पूजा-पाठ, यज्ञ और दान द्वारा उपचार किया जा सकता है। ठीक उसी प्रकार, पृथ्वी, पानी, अग्नि, वायु और आकाश इन पांच तत्वों को वास्तु द्वारा सुधार करके उसे अपने लिए अनुकूल बनाया जा सकता है। वास्तु शास्त्र को ध्यान में रखकर, आपके घर में लाए गए कुछ बदलाव आपकी जिंदगी में एक अद्भुत शांति व पॉजिटिव चेंज लाने की शक्ति रखते हैं। अगर विश्वास नहीं आ रहा है तो आप अपने स्वीट होम में खुद ये चेंज करके देखें। हाथ कंगन को आरसी क्या?

वास्तु शास्त्र के कुछ खास उपाय जो घर को सकारात्मकता और खुशहाली से भर सकते हैं

1. एंट्रेंस गेट की दीवार यदि सूनी है, तो यहां गणेश जी की मूर्ति लगा दें। वास्तु के अनुसार सूनी दीवाल अकेलेपन को सूचित करती है।

2. अगर घर या बिल्डिंग जिसमें आप रहते हैं वहां की बोरिंग वास्तु के अनुसाार गलत दिशा में हैं, है तो दक्षिण-पश्चिम दिशा को फेस करते हुए पंचमुखी हनुमान की तस्वीर लगाना अच्छा रहेगा।

3. अगर आप आध्यात्मिक विकास करना चाहते हैं, तो इसके लिए उत्तर-पूर्व दिशा की ओर ध्यान लगाएं।

4. लाइफ के प्रति एक अच्छे विजन और प्लानिंग के लिए आप उत्तर-पूर्व दिशा में एक लंबी सड़क वाली सीनरी को लगाइए।

5. परिवार में सद्भाव बनाए रखने के लिए घर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में एक फैमिली फोटोग्राफ या सूरजमुखी की तस्वीर लगाएं।

6. ज्योतिष के अनुसार, सूर्य का शुभ होना आपके सोशल रिलेशन्स को अच्छा रखता है। इसलिए, सामाजिक रिश्तों को उज्ज्वल बनाए रखने के लिए पूर्व दिशा में एक उगते हुए सूरज की तस्वीर रखें।

7. बच्चों की पढ़ाई में चमत्कारी रूप से सुधार लाने के लिए घर के पूर्व दिशा में स्टडी टेबल रखें।

8.  घर के दक्षिण दिशा में दौड़ते हुए घोड़ों की फोटो लगाने से आर्थिक प्रवाह निरंतर रूप से आने लगता है। जीवन में सुख व संपन्नता बनी रहती है।

9. दांपत्य जीवन को स्वस्थ्य रखने के लिए बेड एक गद्दे वाला हो। इसके अलावा, पत्नी को पति के बाईं साइड सोना चाहिए।

10. बेड के नीचे पड़े खचाखच समान को तुरंत वहां से हटा दीजिए। बेकार की चीजें आपके दिमाग को अतीत से बाहर ही नहीं निकलने देती, जिससे आपकी प्रगति अवरुद्ध हो जाती है।

11. बेडरूम को कभी अंधेरा नहीं छोड़े। घर में सद्भाव और शांति रखने के लिए इसकी दीवारों पर काले रंगों का यूज करने से बचें।

12.  नकारात्मकता को दूर करने और पॉजिटिव इनर्जी लाने के लिए बाथरूम में हरे पौधे या मोमबत्तियां रखें।

14. किचन में गैस और सिंक के बीच अधिकतम दूरी बनाए रखें।

15. संबंधों को बढ़ाने के लिए दक्षिण-पश्चिम दिशा में बेडरूम का प्रावधान रखें।

16. कार्नर में सोने की व्यवस्था न रखें। घर के ये कार्नर मूल रूप से नर्वस सिस्टम में अनचाहा तनाव पैदा करते हैं।

17. अपने एक बेहतर विकास और घर की नकारात्मक ऊर्जा को कम करने के लिए अपने घर की उत्तर-पूर्व दिशा में एक्वेरियम रखें।

18. फैमिली में प्रेम व लगाव कायम रखनें के लिए अपने घर की उत्तर-पूर्व दिशा में पानी का फव्वारा रखें।

19. आपका घर यदि बड़ा है तो घर के सेंटर प्वाइंट में पिरामिड को स्थापित करें। सही प्रकार से रखा हुए पिरामिड घर या बिल्डिंग के सभी दोषों को रोक लेता है।

20. रिश्तों को अच्छा रखने के लिए घर के पूर्व दिशा में हरे पौधे रखें।

यदि आपको अपने घर का वास्तु सही करवाना है या इस बारे में कुछ पूछना है, तो आप हमारे विशेषज्ञ ज्योतिषियों से सीधे बात कर सकते हैं।
श्रीगणेशजी के आशीर्वाद के साथ
गणेशास्पीक्स डॉट कॉम/ हिंदी
18 Dec 2018
View All blogs

Follow Us