https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

राहु-केतु गोचर 2017 का प्रभाव कन्या राशि पर

राहु-केतु गोचर 2017 का प्रभाव कन्या राशि पर

राहु गोचर का प्रभाव कन्या राशि के लिए

– राहु ग्यारवें भाव में
राहु का कर्क राशि में गोचर आपके लिए अत्यधिक महत्वपूर्ण गोचर साबित होगा आैर आप जिंदगी के विभिन्न क्षेत्रों से लाभ अर्जित करने में सक्षम होंगे। ज्योतिषीय दृष्टि से, राहु का ग्यारवें भाव में विराजित होना अत्यधिक अनुकूल माना जाता है क्यूंकि इस भाव में विराजित होकर राहु जातक को कमार्इ के नए साधन,सामाजिक प्रतिष्ठा में इजाफा, सफलता की बेहतर संभावना आैर लोकप्रियता में वृद्घि का आशीर्वाद प्रदान करता है। वे लोग जो बिजनेस से जुड़े है वे राहु के गोचर के दौरान सकारात्मक वृद्घि का अनुभव करेंगे, क्यूंकि राहु गोचर के प्रभाव से व्यापार में विस्तार आैर ग्राहकों की संख्या में वृद्घि की प्रबल संभावना है। इस गोचर के दौरान आप सही अवसरों को आकर्षित करने में सक्षम होंगे।

आपकी सामाजिक जिंदगी बहुत सारी नर्इ ऊर्जा का अनुभव करेगी, जिसमें आपको बहुत सारे मिलन समारोह आैर पार्टियों का हिस्सा बनने का मौका मिलेगा। लेकिन, राहु के असामान्य अाशीर्वाद को मूल बनाने के लिए, आपको सहयोग की कला में महारथ प्राप्त करनी होगी आैर टीम भावना को विकसित करना होगा। रिश्तों के मामलों में काल्पनिक बनने से बचें आैर चीजों व हालातों के साथ अधिक परिपक्व एवं व्यवहारिक तरीके से पेश आए। हालांकि, ये गोचर ज्यादातर सकारात्मक रहेगा, लेकिन ये गोचर आपको लगातार अपनी अपूर्ण इच्छाआें आैर महत्वाकांक्षाएं याद दिलाता रहेगा। साथ ही, नए परिचितों या संपर्कों के चक्कर में पुराने दोस्तों को ना भूलें आैर अपनी सामाजिक प्रतिबद्घताआें को लेकर बेहतर संतुलन बनाए रखें।

क्या आप जानना चाहते है कि ये गोचर आपके फाइनेंस पर क्या प्रभाव ड़ाल सकता है ? तो हमारी एक्सक्लूजिव राहु-केतु गोचर रिपोर्ट फाइनेंस के लिए का लाभ उठाए।

केतु गोचर का प्रभाव कन्या राशि के लिए

– केतु पांचवें भाव में
केतु का मकर राशि में गोचर आपके सहजज्ञान की ताकत को मजबूत बनाएगा आैर आपको विस्तृत परिपेक्ष्य से चीजों पर विचार करने में सक्षम बनाएगा। अाप एेसा महसूस करेंगे आपके विचार धूमिल हो रहे है आैर पहले की तरह स्वतंत्र रूप से गतिशील नहीं है। केतु के गोचर के प्रभाव से विभिन्न मामलों में असमंजस की स्थिति होगी आैर आपके समझ की ताकत में कमी आ सकती है। जब केतु आपकी कुंडली के पांचवें भाव में गोचर करेगा, तब आपको ये सुनिश्चित करना होगा कि आप अपने दुश्मनों या प्रतिद्वंदियों को अपनी मुश्किलें बढ़ाने का मौका नहीं देंगे क्यूंकि वे आपकी परेशानी का कारण बनने के लिए सही समय का इंतजार करेंगे।

केतु गोचर 2017 के दौरान आपके बच्चों के लिए कुछ आकस्मिक परेशानियाें के संकेत मिल रहे है, साथ ही इस समय उनकी सेहत भी प्रभावित हो सकती है, एेसे में उनकी आेर विशेष ध्यान दें। वहीं अगर आप किसी रिलेशनशिप में है, तो तूफानी मौसम के लिए तैयार रहें। क्यूंकि केतु के गोचर के प्रभाव से हालात पूरी तरह से सुखद नहीं रह सकते आैर आप दोनों के बीच कुछ गलतफहमियां होने के कारण आपको कुछ भावनात्मक तनाव का सामना करना होगा। केतु के मकर राशि में गोचर के दौरान आपके रचनात्मक कौशल में भी कमी आ सकती है।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
गणेशास्पीक्स डाॅटकाॅम टीम

बिजनेस से जुड़े मसलों के लिएः राहु-केतु रिपोर्ट बिजनेस के लिए का लाभ उठाए आैर जानें अपनी बिजनेस की समस्याआें के बारे में।

कैरियर से जुड़े मसलों के लिएः राहु-केतु रिपोर्ट कैरियर के लिए का लाभ उठाए आैर जानें कि ये आपके कैरियर के मसलों पर क्या प्रभाव ड़ालेगा ?