मंगल गोचर 2017: मंगल मेष में, जानें बारह राशियों पर प्रभाव - GaneshaSpeaks
https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

मंगल गोचर 2017: मंगल मेष में, जानें बारह राशियों पर प्रभाव

मंगल गोचर 2017: मंगल मेष में, जानें बारह राशियों पर प्रभाव

मंगल पारगमन की तारीखः
मंगल मेष राशि में 2 मार्च, 2017 से 13 अप्रेल, 2017 तक गोचर करेगा। इसके बाद ये वृषभ राशि में प्रवेश करेगा।

मंगलः कार्रवार्इ का ग्रह
साहस, आत्मविश्वास, जोखिम आैर कार्रवार्इ का कारक मंगल मेष राशि के ऊपर से पारगमन करेगा। क्यूंकि मेष मंगल की स्वराशि है, एेसे में हम ज्यादातर सकारात्मक परिणामों का अनुभव करेंगे। मंगल ग्रह ब्रह्मांडीय सेना में कमांडर-इन-चीफ है, जो जिंदगी के इच्छित लक्ष्यों को प्राप्त करने, जोखिम उठाने की क्षमता आैर सफल होने की इच्छा का प्रतिनिधित्व करता है। मंगल मुख्यतः मिलिट्री, मिलिट्री उपकरण, कमांडर, स्पोर्टस पर्सनस, एथेलिटस, सर्जन, इंजीनियर्स पर अधिकार रखता है। मंगल के मेष में गोचर की घटना के दौरान, उपरोक्त क्षेत्रों में कुछ सकारात्मक घटनाएं हो सकती है।
मंगल के मेष में होने का प्रभावः ये समय अवरोधों आैर भय से मुक्त होने का है
अगर आप अपने दोस्तों के साथ लंबी साहसिक यात्रा पर जाना चाह रहे है, तो इसके लिए ये बेहतर समय हो सकता है।

मंगल के मेष राशि में गोचर के दाैरान काम में गति की उम्मीद रखें
अगले 45 दिनों में, आप कुछ त्वरित आैर महत्वपूर्ण परिवर्तन के साक्षी बनेंगे। विभिन्न कार्यों को लेकर लोगों का सामान्य दृष्टिकोण बदल सकता है। इस गोचर के बाद आप किसी चीज के निष्कर्ष तक पहुंचना चाहेंगे आैर किसी भी काम को पूरा करने के लिए अपना समय खर्च करने या उसकी योजना बनाने की बजाय आप उसे तुरंत पूरा कर देंगे। एेसा इसलिए क्यूंकि मंगल ग्रह इस कहावत पर विश्वास रखता है कि ” कथनी की तुलना में करनी ज्यादा असरदार होती है ”

मंगल ग्रह आैर आध्यात्मिक दृष्टिकोण
गणेशजी कहते है कि मंगल ग्रह मूलाधार चक्र आैर पृथ्वी चक्र को द्योतित करता है, जो कि मानव शरीर के प्रमुख चक्र है। मंगल को अंगारक आैर भूमिपुत्र के नाम से भी जाना जाता है।

मंगल का मेष राशि में गोचर 2017: सभी राशियों के लिए भविष्यवाणी

[कृपया ध्यान देंः ये भविष्यवाणियां चंद्र राशि को ध्यान में रखकर की गई हैं। लेकिन, इसका कुछ प्रभाव लग्न राशि वालों पर भी लागू होंगे]

मेष राशि में मंगल का गोचर – मेष राशि पर प्रभाव

– मंगल पहले भाव में
जब मंगल मेष राशि में गोचर करेगा तो ये अपनी चंद्रराशि में जगह बनाएगा। गणेशजी के अनुसार इस अवधि में आपकी ऊर्जा उच्चतम स्तर पर होगी, जिससे आप खुद को सक्रिय आैर उत्साही महसूस करेंगे। इस समय आपके किसी प्रकार की कोर्इ बड़ी सेहत संबंधी परेशानी का सामना करने की संभावना नहीं है। आप सामान्यतः अच्छे मूड में रहेंगे आैर इस समय का आनंद लेंगे। मानसिक रूप से भी आप अत्यधिक प्रसन्न आैर तनावमुक्त महसूस करेंगे। मंगल ग्रह के गोचर के साथ आपमें आक्रामकता बढ़ने की संभावना है। आप गुस्सैल या हिंसक रवैया दिखा सकते है। आपका अावेगी आैर आतुर व्यवहार समस्याएं खड़ी कर सकता है। एेसे में आपको इस तरह की प्रवृत्ति से सतर्क रहने की जरूरत है।
संभावित समस्याएंः इस पारगमन के दौरान आप क्रोध आैर चिड़चिड़ेपन की आेर प्रवृत्त होंगे, एेसे में इस पर नियंत्रण रखने की कोशिश करें।

आज ही खरीदें हमारी एक्सक्लूजिव राशिफल बुक

मेष राशि में मंगल का गोचर – वृषभ राशि पर प्रभाव

– मंगल बारहवें भाव में
इस अवधि में अपने नकारात्मक विचारों पर नियंत्रण रखें। अच्छी मानसिक स्थिति को बनाए रखना बेहद जरूरी है। गणेशजी कहते है कि इस दौरान अपने स्वभाव को शांत रखें आैर कार्यों को पूरा करना आपका प्रमुख लक्ष्य होना चाहिए। इस तरह की प्रवृत्ति आपको ये समय आसानी से पार करने में मदद करेगी। संक्षेप में, गणेशजी आपको कार्यस्थल पर अतिरिक्त आउटपुट देने की सलाह देते है। इस समय आप त्वरित, एकाएक अौर आवेगी कार्रवार्इ कर सकते है जो कि विभिन्न समस्याआें का कारण बन सकती है।
संभावित समस्याएंः आप कैरियर या आर्थिक मोर्चे पर नर्इ चुनौतियों का सामना कर सकते है। कार्यस्थल पर कुछ एेसी घटनाएं हो सकती है जो आपको तनावग्रस्त रख सकती है। आपको कुछ खर्चे करने पड़ सकते है।

कैरियर एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से कैरियर मार्गदर्शन पाए

मेष राशि में मंगल का गोचर – मिथुन राशि पर प्रभाव

– मंगल ग्यारवें भाव में
जब मंगल मेष राशि में गोचर करेगा तब आपके वित्त प्रवाह में वृद्घि होगी। अनुकूल वित्तीय स्थिति रहने के साथ ही लाभ मिलने की भी उम्मीद है। साथ ही इस अवधि में प्रोपर्टी से संबंधित निवेश होने की संभावना है। आपको अपने निवेश आैर लाभ की अच्छी तरह से देखभाल करनी होगी। आत्मविश्वासी रहें, अन्यथा आप संसाधनों को प्रभावी ढंग से संभालने में सक्षम नहीं हो पाएंगे।
संभावित समस्याएं: अपने अासपास के लोगों के साथ कड़ी प्रतिस्पर्धा या मतभेद होने की काफी संभावना है। एेसे में अापको इस अवधि में शांत रहने की जरूरत है।

धन के मामले में सही मार्गदर्शन प्राप्त करें, धन-संपत्ति एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से

मेष राशि में मंगल का गोचर – कर्क राशि पर प्रभाव

– मंगल दशम भाव में
कर्क राशि के जातकों के लिए मंगल गोचर की ये अवधि ज्यादातर सकारात्मक परिणाम लाने वाली है। इस चरण में आपकी पेशेवर जिंदगी खुशनुमा आैर शांतिमय रहेगी। साथ ही आपके सहकर्मी आैर सीनियर्स अापके प्रति सहयोगी आैर मददगार हो सकते है। कुल मिलाकर, ये गोचर मुख्यतः दोस्तों, सहकर्मियों आैर सुपीरियर्स के साथ मधुर रिश्तों के संकेत दे रहा है। ये गोचर आपको सकारात्मक बनाएगा आैर चीजों को लेकर अच्छा महसूस कराएगा। जो आपको मानसिक खुशी आैर आनंद देगा। साथ ही इस समय अपने कमिटमेंट को पूरा करने के लिए अतिरिक्त प्रयास की जरूरत हो सकती है।
संभावित समस्याएंः आप महिलाआें के साथ अनावश्यक बहस कर सकते है। जो आपके खिलाफ काम कर सकता है। एेसे में आपको अत्यधिक सावधान रहने आैर बहस से बचना चाहिए।

प्रेम एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से लव टिप्स आैर मार्गदर्शन प्राप्त करें

मेष राशि में मंगल का गोचर – सिंह राशि पर प्रभाव

– मंगल नौंवे भाव में
मेष राशि में मंगल के गोचर का समय सिंह राशि के जातकों के लिए सेहत के संबंध में अच्छा रहेगा। कुल मिलाकर, स्वास्थ्य की दृष्टि से ये गोचर आशाजनक आैर क्रियाशील रहेगा। आप इस पूरी अवधि में सकारात्मक स्वभाव आैर आत्मविश्वासी मानसिकता का आनंद लेंगे। आपके आसपास के लोग भी आपसे प्रसन्न रहेंगे। इस समय आप आध्यात्मिकता की आेर प्रवृत्त हो सकते है। एेसे में, इस अवधि का अधिकतम लाभ उठाए। अपनी योजनाआें आैर विचारों को अमल में लाने के लिए ये अच्छा समय है।
संभावित समस्याएं: एेसी संभावना कि इस गोचर के बाद के हिस्से में कुछ अवांछित विचार आपको परेशान कर सकते है।

2017 कैरियर रिपोर्ट से अपने कैरियर के बारे में जानें

मेष राशि में मंगल का गोचर – कन्या राशि पर प्रभाव

– मंगल आठवें भाव में
मेष राशि में मंगल का गोचर कन्या राशि के जातकों के लिए कुछ कठिनार्इयां ला सकता है। आपको अच्छा स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए अपना बेहतर ख्याल रखना चाहिए। इस समय आपमें गहन भावनाएं उभरेगी आैर कर्इ बार अाप अत्यधिक तीव्र आैर डिमांडिंग बन सकते है। अगर आप इस तरह की स्थितियों से आसानी से बाहर निकलना चाहते है तो आपको इन्हें अच्छे से संभालना होगा। क्यूंकि इस तरह की प्रवृत्ति आैर भावनाएं आपकी निजी आैर पेशेवर जिंदगी की समरसता को भंग कर सकती है। आपको इस बात का खास ख्याल रखना होगा कि भावनाएं आप पर हावी ना हो।
संभावित समस्याएंः आपको निजी आैर पेशेवर जिंदगी के बीच संतुलन बिठाने में कठिनार्इयां आ सकती है। एेसे में आपको घरेलू मोर्चे पर शांति बनाए रखनी चाहिए।

गुरू पारगमन रिपोर्ट से जानें गुरू आपकी जिंदगी पर क्या प्रभाव ड़ालेगा

मेष राशि में मंगल का गोचर – तुला राशि पर प्रभाव

– मंगल सातवें भाव में
क्यूंकि तुला राशि मेष की विपरित राशि है, इस कारण तुला राशि के जातक इस गोचर की अवधि में अपने करीबी लोगों के साथ शत्रुता बढ़ा सकते है। आप के इस स्वभाव आैर बर्ताव के कारण उनके साथ आपके रिश्ते तनावपूर्ण हो सकते है। आपको इस स्थिति को अच्छे ढंग से संभालना होगा आैर चतुरार्इ के साथ पेश आना होगा, अन्यथा आपको कठिनार्इयों का सामना करना पड़ सकता है। अपने करीबीजन के साथ मधुर संबंध बनाए रखने की कोशिश करें। सेहत की दृष्टि से इस पारगमन में खास देखभाल आैर सावधानी रखने की जरूरत होगी। कैरियर या वित्त के मोर्चे पर कोर्इ बड़ी घटना होने की संभावना नहीं है।
संभावित समस्याएंः कुछ अनजान भय, र्इर्ष्या आैर द्वेष आपकी निजी जिंदगी के तारतम्य को बाधित कर सकता है। एेसे में अापको इन्हें व्यवस्थित ढंग से संभालना होगा।

कैरियर या व्यवसाय कौन-सा चुने रिपोर्ट से जानें, आपके लिए जाॅब करना उपयुक्त है या फिर बिजनेस

मेष राशि में मंगल का गोचर – वृश्चिक राशि पर प्रभाव

– मंगल छठें भाव में
मंगल का मेष राशि में गोचर आपके लिए अनुकूल रहेगा। यानि इसके प्रभाव से आपको जिंदगी के प्रमुख क्षेत्रों में सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। इस चरण में, आपकी प्रतिष्ठा अौर स्टेटस को बढ़ावा मिल सकता है। प्रभावशाली लोग आपके पक्ष में होंगे आैर आपको सहायता देंगे। आपकी उम्मीदें आैर ख्वाहिशें पूरी होगी। ये अवधि आपको काफी सक्सेस दिलाएगी। यानि आपको काम पूरा करने में किसी प्रकार की कोर्इ दिक्कतें नहीं आएगी।
संभावित समस्याएंः इस समय आपको अपनी सेहत का खास ख्याल रखना होगा। क्यूंकि एसिडिटी की समस्या या कुछ स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां अापको तनावग्रस्त रख सकती है।

कैरियर के लिए शनि पारगमन रिपोर्ट से जानें शनि आप कैरियर पर क्या प्रभाव ड़ालेगा

मेष राशि में मंगल का गोचर – धनु राशि पर प्रभाव

– मंगल पांचवें भाव में
मंगल का मेष राशि में पारगमन आपकी निजी जिंदगी के लिए अच्छा साबित होगा। आप अपने प्रियजनों के साथ अच्छा समय बिताएंगे। परिजन भी आपको पूर्ण सहयोग प्रदान करेंगे। जो कि आपको प्रसन्न आैर सकारात्मक महसूस कराएगा। अपने आसपास की चीजों को लेकर आप खुशी महसूस करेंगे। हालांकि, आपके ऊर्जा के स्तर आैर आंतरिक बल में कमी चिंता का कारण बन सकती है। अत्यधिक कठिन काम आपकी सेहत आैर फिटनेस पर प्रतिकूल प्रभाव ड़ाल सकता है। आप अपने संतान से जुड़े मसलों को लेकर परेशान रहेंगे।
संभावित समस्याएंः इस समय आपमें सट्टेबाजी में पैसा लगाने की तीव्र इच्छा होगी। हालांकि, आपको जल्दबाजी में वित्तीय फैसले लेने से बचना चाहिए।

प्यार के लिए शनि पारगमन रिपोर्ट से जानें, शनि आपके रिश्तों पर कैसे असर ड़ालेगा ?

मेष राशि में मंगल का गोचर – मकर राशि पर प्रभाव

– मंगल चौथे भाव में
मंगल के मेष राशि में गोचर के दौरान, आपकी कुछ समय के लिए अपने ही लोगों के साथ शत्रुता बढ़ सकती है। इस चरण में अापमें अपने अधिकारों के लिए खड़े होने की प्रवृत्ति होगी आैर इसके परिणाम स्वरूप आप झगड़े को बढ़ावा दे सकते है। टकराव के हालात आपको परेशान कर सकते है। एेसे में आपको आसपास के लोगों से बातचीत के दौरान सतर्क रखना चाहिए। इस समय आपको दैनिक कार्यों को पूरा करने में भी परेशानियां आ सकती है।
संभावित समस्याएंः मिजाज में आने वाली अस्थिरता के कारण आपमें कर्इ बार असंतुष्टि की भावना हो सकती है। अतः अपने से बड़े लोगों से बातचीत के दौरान अपने बातचीत के तरीके को सरल आैर मधुर बनाने की कोशिश करनी चाहिए।

साढ़े साती का आपके जीवन पर क्या प्रभाव होगा, जानें शनि साढ़े साती रिपोर्ट से

मेष राशि में मंगल का गोचर – कुंभ राशि पर प्रभाव

– मंगल तीसरे भाव में
मंगल के मेष राशि में गोचर के दौरान, आपकी उम्मीदें आैर इच्छाएं पूरी होगी। इस दौरान आपके कैरियर की पूर्ण संभावना भी अच्छी नजर आ रही है। आप निर्धारित समय में अपने महत्वपूर्ण काम पूरे कर पाएंगे। आपको अपने सहकर्मियों से सहयोग प्राप्त होगा। आपके रिश्तेदार आैर मित्र अधिक सहयोगी बन सकते है आैर उनके साथ संबंध सुधरने से आपकी निजी जिंदगी खुशहाल बनेगी। ये समय काफी अच्छा जाने वाला है। वहीं कैरियर के मोर्चे पर भी आपको सफलता मिलेगी।
संभावित समस्याएंः इस अवधि के दौरान, आप अपने दृष्टिकोण में हठीले हो सकते है। हालांकि आत्मविश्वासी बनना अच्छा है, लेकिन लापरवाही आपको महंगी पड़ सकती है। एेसे में आपको इस आेर सावधानी बरतनी होगी।

अपने कैरियर के रूझानो के बारे में जानें कैरियर रिपोर्ट एक वर्ष से

मेष राशि में मंगल का गोचर – मीन राशि पर प्रभाव

– मंगल दूसरे भाव में
मंगल के मेष राशि में गोचर की घटना के दौरान आपको एेसे मामलों की समीक्षा सावधानीपूर्वक करने की सलाह दी जाती है जो आपके कैरियर आैर वित्त को प्रभावित करें। आत्मविश्वासी बनना आपके लिए बेहद जरूरी होगा। इसके बाद ही आप अपनी जिंदगी का उचित तरीके से प्रबंधन कर पाएंगे। अगर आप आत्मविश्वासी रहें, तो आप कर्इ अन्य चीजें भी प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा, आपको कुछ बोलने से पहले अपने शब्द जांच लेने चाहिए। एेसा करना आपकाे मुश्किल स्थिति में फंसने से बचाएगा।
संभावित समस्याएंः मंगल के मेष राशि में पारगमन के दौरान कुछ अनजान वित्तीय चिंताआें के कारण आप लगातार तनाव में रह सकते है। एेसे में इस अवधि में खुद पर आत्मविश्वास बनाए रखने का प्रयास करें।

एक वर्ष की धन-संपत्ति रिपोर्ट के साथ अपनी समृद्घि की संभावनाआें को जानें

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
मालव भट्ट
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

ग्रहों के पारगमन से जुड़े अन्य लेख पढ़ना ना भूलें
1. शनि का धनु में गोचरः कुछ बड़े बदलाव के लिए हो जाए तैयार
2. साल 2017 में गुरू कन्या राशि में वक्री और आपका किस्मत…
3. जानिए शनि की साढ़े साती से जुड़े दिलचस्प पहलू !
4. 2017 में शनि का गोचर : जानें 12 राशियों पर इसका प्रभाव
5. देखो शुक्र आये मीन राशि में: जानें किस राशि के लिए क्या Good News लाये ?

Follow Us