https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

गुरु गोचर 2021 – धनु राशि पर कैसा होगा गुरु के राशि परिवर्तन का प्रभाव

गुरु गोचर 2021 – धनु राशि पर कैसा होगा गुरु के राशि परिवर्तन का प्रभाव

गुरु का कुंभ गोचर धनु पर प्रभाव

वैदिक ज्योतिष के अनुसार राशियों में भ्रमण कर रहे, ग्रह एक निश्चित समय के बाद एक राशि से दूसरी राशि में संक्रमण अर्थात गोचर या गमन करते है। इन ग्रहों की मानव जीवन और प्रकृति के पोषण में बड़ी भूमिका होती है। ग्रहों का राशि परिवर्तन करना मानव जीवन में कई सारे बदलावों का सूचक भी है। मौजूदा वर्ष में 6 अप्रैल 2021 से गुरु राशि परिवर्तन कर मकर से कुंभ में प्रवेश करने वाले है। गुरु के राशि परिवर्तन का राशिचक्र की राशियों पर प्रभाव के क्रम में, हम धनु राशि पर गुरु राशि परिवर्तन 2021 के प्रभावों को जानेंगे।

धनु कुंडली मे गुरु की स्थिति

गुरु का कुंभ गोचर 2021, धनु लग्न कुंडली के तीसरे भाव में होने वाला है। कुंडली का तीसरा भाव को पराक्रम और शौर्य का स्थान माना जाता है। गुरु का राशि परिवर्तन कर मकर से कुंभ में जाना धनु लग्न के तीसरे भाव में गुरु का प्रवेश होगा।

गुरु का राशि परिवर्तन: धनु के करियर और फायनेंस पर प्रभाव

धनु राशि के लोगों के लिए गुरु राशि परिवर्तन का यह चरण फलदायी रहेगा। इस दौरान आप धार्मिक यात्राओं पर जा सकते हैं। जो लोग आध्यात्मिक जीवन जी रहे हैं, उन्हें अपने धर्म को बढ़ावा देने के अवसर मिल सकते हैं, लोग आपके विचारों को सुनेंगे और उससे प्रेरित भी होंगे। इस चरण के दौरान बृहस्पति की पूजा करने से आपको अपनी मानसिक शक्ति बढ़ाने के साथ – साथ अपने करियर में लगातार वृद्धि हासिल करने में मदद मिलेगी। छात्रों को भी अच्छा लाभ मिल सकता है, लेकिन इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता होगी। जो लोग पढ़ाई के साथ – साथ नौकरी कर रहे हैं, उन्हें सलाह दी जाती है कि वे दोनों को बराबर का समय दें। साथ ही, यह उन लोगों के लिए अनुकूल समय होगा जो उच्च शिक्षा या किसी अन्य डिग्री कोर्स करने के इच्छुक हैं। आप अंतरराष्ट्रीय यात्राओं पर जा सकते हैं, जो आपको वांछित परिणाम दे सकती हैं। जो लोग खेल या अभिनय से जुड़े हैं, उन्हें नए काम शुरू करने से पहले दो बार सोचना चाहिए। इस चरण के दौरान, आपको किसी भी नए कार्यक्रम को शुरू करने से पहले और दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करने से पहले सावधान रहना चाहिए। किसी भी कार्य को शुरू करने से पहले उसके विभिन्न पहलुओं पर गौर करें और तभी निर्णय लें। वहीं किसी दस्तावेज पर हस्ताक्षर करते समय उसे अच्छे से दो बार पढ़ें, तभी हस्ताक्षर करें। अन्यथा इससे आपको निकट भविष्य में प्रतिकूल परिणाम मिलने की संभावना है। इस चरण के दौरान आपको अपने वित्तीय मामलों में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ऋण के लिए आवेदन करते समय आपको गंभीर होना चाहिए, अन्यथा आप इसे चुकाने में विफल हो सकते हैं।

उपाय – किसी तरह के वित्तीय संकट और कॅरियर संबंधी बाधाओं को दूर करने के लिए आपको भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए और बुधवार को तैलीय खाद्य पदार्थों का दान करना चाहिए।

गुरु राशि परिवर्तन: धनु राशि के लव और रिलेशन पर प्रभाव

गुरु का कुंभ में प्रवेश 2021 धनु के लव और रिलेशन को कई मायनों में प्रभावित करने वाला है। बड़े परसेप्शन में देखें तो धनु राशि के लोगों के लिए के प्रेम संबंधों के लिए यह राशि परिवर्तन काफी अच्छा रहने वाला है। आप दोनों के बीच अच्छा तालमेल होगा और आप दोनों एक साथ किसी यात्रा पर भी जा सकते हैं। इस दौरान एक नया व्यक्ति भी आपके जीवन में प्रवेश कर सकता है। अप्रैल – मई का महीना सिंगल्स के लिए अच्छा रहने वाला है इस दौरान उनकी अपने इच्छित जीवनसाथी से मुलाकात हो सकती है। जो लोग शादी करने के इच्छुक हैं वे इस दौरान अपनी इच्छा पूरी कर सकते हैं। आपको अप्रैल, मई या जून में शादी का प्रस्ताव मिल सकता है और फिर नवंबर के बाद आपके लिए विवाह के योग बनेंगे। इसके अलावा गुरु गोचर 2021 के दौरान, आपको अपने पड़ोसियों के साथ संबंध खराब करने से बचना चाहिए। इस समय में आपको अपने परिवार के सदस्यों के साथ आपसी समझ को बढ़ाना चाहिए और चचेरे भाई के साथ संबंधों में सतर्कता बरतनी चाहिए। यदि आपके सामने अपनी पैतृक संपत्ति से संबंधित कोई समस्या है, तो वह जून या जुलाई के महीने में हल हो सकती है। शिशुओं और बच्चों को अपने दादा – दादी या नाना – नानी के साथ अच्छा समय बिताने को मिलेगा, जिससे उनके आपसी संबंध और प्रगाण और मधुर होंगे। गलतफहमी से निपटने या अदालत से संबंधित मामलों में उलझे लोग अगस्त से नवंबर के बीच समाधान की उम्मीद कर सकते हैं।

उपाय – गुरु के कुंभ में प्रवेश के दौरान आपको माता सरस्वती की पूजा करनी चाहिए और ओम बुं बुधाय नमः मंत्र का पाठ करना चाहिए।

गुरु का राशि परिवर्तन: धनु के स्वास्थ्य पर प्रभाव

कुंभ राशि में गुरु को प्रवेश 2021 धनु राशि के स्वास्थ्य के लिहाज से थोड़ा नाजुक और सतर्क करने का समय है। स्वास्थ्य की दृष्टि से आपको मिश्रित परिणाम मिलने की संभावना है। बुजुर्ग जो दीर्घकालिक स्वास्थ्य मुद्दों से निपट रहे हैं, उन्हें सलाह दी जाती है कि वे अपने स्वास्थ्य की गंभीरता से देखभाल करें। बच्चों को गर्दन में समस्या होने की संभावना है, इसलिए माता – पिता को अपने बच्चे की उचित देखभाल करनी चाहिए। केयरटेकर या माता – पिता को सलाह दी जाती है कि वे 5 साल से कम उम्र के बच्चों की विशेष देखभाल करें क्योंकि वे अस्वास्थ्यकर भोजन खा सकते हैं। इसी के साथ उनके खिलौने गर्म पानी से धोने के बाद  इस्तेमाल करें। 35 – 55 वर्ष की आयु की महिलाओं को अपने स्वास्थ्य के प्रति चौकस रहने की आवश्यकता है, क्योंकि आपको मांसपेशियों या घुटने के दर्द का सामना करना पड़ सकता है।  जो लोग घुटने की रिप्लेसमेंट सर्जरी करने के लिए लंबे समय से इंतजार कर रहे हैं, उन्हे इस चरण के दौरान डाॅक्टर की परामर्श के साथ आगे बढ़ना चाहिए। जो लोग पैरों की समस्याओं से जूझ रहे हैं, उन्हें अगस्त या सितंबर के बाद ही सर्जरी करनी चाहिए। बच्चों के लिए यह अच्छा समय है, इसलिए वे शांति से अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं। बुजुर्गों को अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है, क्योंकि आप आंत की समस्याओं या अपच का सामना कर सकते हैं। धनु कुंडली के तीसरे भाव में गुरु की मौजूदगी आपकी रिकवरी या बेहतर स्वास्थ्य की संभावना को थोड़ा कम करती हैं।  आपको किसी भी छोटी मोटी स्वास्थ्य समस्या को भी प्रमुखता से लेना चाहिए और डॉक्टर से परामर्श करते रहना चाहिए। गुरु का कुंभ गोचर 2021 के दौरान आपको अपनी सेहत का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

उपाय – धनु राशि वालों को अपना स्वास्थ्य बेहतर बनाए रखने के लिए और गुरुवार के दिन व्रत रखने और पंचमुखी रुद्राक्ष धारण करने की सलाह दी जाती है।

श्री गणेशजी की कृपा के साथ

गणेशास्पीक्स डॉट कॉम/हिंदी

ये भी पढ़ें-

जानिए मेष राशि के लोगों पर गुरु के राशि परिवर्तन का प्रभाव, क्लिक करें यहां

वृषभ राशि के लिए क्या उपहार लाना वाला है गुरु का राशि परिवर्तन

मिथुन राशि के लिए राशि परिवर्तन करके नवें भाव में जाएंगे गुरु, पढ़िए कुंभ के गुरु का प्रभाव यहां

गुरु नीच राशि से बाहर जाकर अब कुंभ में ट्रांजिट करेंगे, कर्क राशि के लोगों के लिए होगा विशेष प्रभाव

सिंह राशि के लोगों के लिए गुरु के राशि परिवर्तन का प्रभाव, क्लिक करें यहां

कन्या राशि के लिए क्या उपहार लाना वाला है गुरु का राशि परिवर्तन

तुला राशि के लिए राशि परिवर्तन करके पांचवें भाव में जाएंगे गुरु, पढ़िए कुंभ के गुरु का प्रभाव यहां

गुरु नीच राशि से बाहर जाकर अब कुंभ में ट्रांजिट करेंगे, वृश्चिक राशि के लोगों के लिए होगा विशेष प्रभाव

मकर राशि के लिए क्या उपहार लाना वाला है गुरु का राशि परिवर्तन

कुंभ राशि के लिए राशि परिवर्तन करके पहले भाव में आएंगे गुरु, पढ़िए कुंभ के गुरु का प्रभाव यहां

गुरु नीच राशि से बाहर जाकर अब कुंभ में ट्रांजिट करेंगे, मीन राशि के लोगों के लिए होगा विशेष प्रभाव

17 Feb 2021

View All blogs