https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

गुरु गोचर 2021 – जानें बृहस्पति के कुंभ में गोचर का कैसा होगा मीन राशि पर प्रभाव

गुरु गोचर 2021 – जानें बृहस्पति के कुंभ में गोचर का कैसा होगा मीन राशि पर प्रभाव

गुरु का राशि परिवर्तन मीन राशि पर प्रभाव

राशियों में भ्रमण करते हुए प्रत्येक ग्रह को एक निश्चित समय के बाद राशि परिवर्तन करना पड़ता है। इन ग्रहों के राशियों में रहने और उसमें अलग अलग स्थान प्राप्त करने के अनुसार लोगों पर प्रभाव देखने को मिलते हैं। फिलहाल 6 अप्रैल 2021 को गुरु राशि परिवर्तन कर कुंभ राशि में गोचर करेंगे। गुरु का यह गोचर आने वाले 6 महीने राशिचक्र की सभी राशियों को प्रभावित करने वाला है। गुरु एक विशाल ग्रह है, जिसके प्रभाव कुंडली धारी पर प्रत्यक्ष रूप से देखने को मिलते हैं। राशिचक्र पर गुरु के प्रभाव जानने के क्रम में हम फिलहाल मीन राशि पर गुरु के प्रभावों को जानने का प्रयास करेंगे।

मीन कुंडली में गुरु की स्थिति

मीन लग्न कुंडली में गुरु का मौजूदा गोचर कुंडली के बारहवें भाव में होने वाला है। कुंडली के बारहवें भाव को व्यय स्थान या मोक्ष स्थान के नाम से जाना जाता है। बारहवां भाव मीन राशि का स्वाभाविक घर है, लेकिन वहां कुंभ राशि में गुरु की मौजूदगी मीन राशि के लोगों के संपूर्ण जीवन पर गहरा प्रभाव डालने वाली है।

गुरु का राशि परिवर्तन: मीन राशि के कॅरियर और फाइनेंस पर प्रभाव

6 अप्रैल 2021 गुरु का कुंभ में प्रवेश करना मीन के लिए कई मायनों में कॅरियर और फाइनेंस अनस्टेबिलिटी के बुरे दौर से बचने जैसा है। जो लोग अपने कार्यक्षेत्र में प्रमोशन प्राप्त करने में असमर्थ रहे हैं, उन्हें अपने प्रयास जारी रखने चाहिए। गुरु की स्थिति के अनुसार 7 अप्रैल से 10 जून 2021 तक आपके कंधों पर अतिरिक्त जिम्मेदारियां आने की संभावना है। 7 अप्रैल से 10 जून 2021 के बीच नौकरी चाहने वालों को अपना अपनी पसंदीदा नौकरी प्राप्त करने में सफलता मिल सकती है। अपने काम को बदलने की योजना बना रहे मीन राशि के लागों को भी लाभ मिल सकता है। यद्यपि आप अपने वरिष्ठों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखने की संभावना रखते हैं, फिर भी आप 18 जून से 15 जुलाई 2021 के बीच उनके साथ किसी तरह के वाद-विवाद में पड़ सकते हैं। इस अवधि के दौरान आपको अपने आसपास किसी भी तरह की निराशा नहीं आने देनी चाहिए। चार्टर्ड अकाउंटेंट और कंपनी सचिव परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। अन्य क्षेत्रों में प्रवेश पाने के इच्छुक छात्र 17 मई से 18 जून 2021 के बीच अपने करियर की राह में अटक सकते हैं।

सरकारी परीक्षा की तैयारी में व्यस्त रहने वाले मीन राशि के लोगों को अप्रैल और मई में अधिकतम लाभ मिल सकता है। जबकि जो लोग पढ़ाई के लिए विदेश यात्रा के इच्छुक हैं, उन्हें 1 मई से 10 जून 2021 बीच प्लानिंग करनी चाहिए। वित्तीय मोर्चे पर मीन राशि के लोगों के लिए गुरु गोचर का यह दौर वित्तीय और आर्थिक मामलों में काफी सहज अनुकूल रहने की संभावना है। जो लोग निवेश करना चाहते हैं, उन्हें 1 मई से 10 जून 2021 तक स्टॉक मार्केट या भूमि में निवेश करना चाहिए। हालांकि किसी भी तरह के निवेश से पहले आपको अपने वित्तीय सलाहकार की सलाह जरूर ले लेनी चाहिए। इसके अलावा 7 अप्रैल से 7 जून फिक्स्ड डिपॉजिट या म्यूचुअल फंड बनाने का एक सही समय होगा। 2 मई से 26 मई 2021 तक की अवधि आपको उधार दिए गए पैसे या अटके हुए पैसे वापस लाने में मदद करेगा। हालांकि, 15 मई से 1 जून 2021 तक आपको लोन पर पैसा नहीं देना चाहिए।

हालांकि इस दौरान आपको कुछ अप्रत्याशित खर्च करने पड़ सकते हैं, मुख्य रूप से आपके परिवार या परिजनों के स्वास्थ्य पर यह पैसा खर्च हो सकता है। व्यवसाय से जुड़े लोग अच्छा लाभ अर्जित करने की संभावना रखते हैं, जो उनकी आर्थिक स्थिति को मजबूती प्रदान करने का काम करेगी। इतना ही गुरु के कुंभ में रहने के दौरान आप अपने अधीन कार्य करने वाले कर्मचारियों के इरादों के बारे में जान सकते हैं और इससे आपको नई रणनीतियां बनाने में मदद मिल सकती है। नया व्यवसाय शुरू करने के लिए ऋण चाहने वाले लोगों को 1 अगस्त से 10 सितंबर 2021 की अवधि में आवेदन करना चाहिए। होम लोन के लिए आवेदन करने वाले मीन राशि के लोगों को 10 मई से 3 जून 2021 तक इसके लिए संपर्क करना चाहिए, क्योंकि इन दिनों के दौरान आपको तत्काल स्वीकृति मिलने की संभावना है। हालांकि आपको अपना खर्च अप्रैल, मई और जून के महीनों में कम रखने की सलाह है, क्योंकि इस दौरान आपके खर्चों में तीव्र वृद्धि होने की संभावना है।

उपाय – नौकरी में स्थिरता प्राप्त करने के लिए पेशेवर कर्मचारियों को हर सुबह सूर्य मंत्र या गायत्री मंत्र का पाठ करना चाहिए। मीन राशि के व्यवसायी वर्ग को अपने व्यवसाय में निरंतर वृद्धि प्राप्त करने के लिए गुरु मंत्र, विष्णु मंत्र, या पंचाक्षर मंत्र का जप करना चाहिए। विद्यार्थियों को कॅरियर संबंधी बाधाओं को दूर करने के लिए गुरु दत्तात्रेय मंत्र का पाठ करना चाहिए।

गुरु का राशि परिवर्तन: मीन के लव और रिलेशन पर प्रभाव

गुरु मीन राशि के स्वामी हैं और कुंभ में उनका गोचर हो रहा है। इस लिहाज से गुरु का गोचर मीन राशि के लोगों के लिए कुछ बड़ी और अच्छी खबर लाने का काम कर सकता है। गुरु गोचर का यह दौर मीन राशि के उन लोगों के लिए सबसे उपयोगी रहने वाला है, जो विवाह का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे लोगों को अप्रैल के पहले सप्ताह के बाद कभी भी वांछित साथी मिलने की पूरी संभावना है। मीन राशि के प्रेमी वर्ग को सलाह है कि वे अपने रिश्ते में किसी भी तरह की गलतफहमी पैदा न होने दें, क्योंकि इसके परिणाम काफी गंभीर हो सकते हैं। आपको सलाह है कि आप अपने साथी के साथ ईमानदार रहें और यदि फिर भी कोई परेशानी आती है तो उसे बड़ों की मदद हल करने का प्रयास करें। इसके अलावा, आपको अपने माता – पिता के साथ असभ्य होने से बचना चाहिए क्योंकि यह चरण उनके साथ आपके संबंधों को नुकसान पहुंचा सकता है। आपको अपने पिता के पैसे से अपने खर्चों को नियंत्रित करना चाहिए और अपनी मां से बात करते समय अपनी भाषा को नियंत्रित रखना चाहिए। पेशेवर कर्मचारी अपने वरिष्ठों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखेंगे, लेकिन उन्हें अपने सहयोगियों के साथ संबंधों की देखभाल करने की आवश्यकता होगी। इसके अलावा 10 मई से 16 जून 2021 तक, आपके शब्दों से आपके दोस्तों की भावनाएं आहत हो सकती हैं और इसलिए आपको अपने दोस्तों से सावधान रहना चाहिए। वैवाहिक जीवन का आनंद ले रहे लोग अनावश्यक खर्च को लेकर एक दूसरे से झगड़ा कर सकते हैं। आपको अपने साथी के साथ साथ मधुर संबंध बनाए रखने के लिए अपने ससुराल वालों से बहस करने से बचना चाहिए। गुरु राशि परिवर्तन 2021 के दौरान आप अपने बच्चों के बारे में भी चिंतित रह सकते हैं।

उपाय – यदि आप अपने विवाह संबंधों में समस्याओं से निपट रहे हैं, तो आपको मां दुर्गा मंत्र का पाठ करना चाहिए। अपने बच्चे के साथ बेहतरीन प्रेम संबंध बनाए रखने के लिए को सलाह दी जाती है कि रोज सुबह नवार्ण मंत्र (‘ऐं ह्रीं क्लीं चामुंडायै विच्चे’ ) का पाठ करें। सिंगल लोगों को गुरु मंत्र का जाप करने से अपने इच्छित जीवन साथी की प्राप्ती हो सकती है। समाज में अपनी छवि को सुधारने के लिए गणेश मंत्र का जाप करना आपके लिए लाभकारी हो सकता है।

गुरु का राशि परिवर्तन: मीन राशि के स्वास्थ्य पर प्र्रभाव

जब अन्य लोग कुंभ राशि में बृहस्पति का स्वागत करने में व्यस्त होंगे तब मीन राशि के लोग अपने स्वास्थ्य के संबंध में प्रतिकूल समय का सामना करे सकते हैं। मीन राशि से संबंध रखने वाले लोगों खासकर बुजुर्गों और महिलाओं को पेट में दर्द, रक्तचाप की समस्या, मूत्र संबंधी समस्याएं या मांसपेशियों में दर्द की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। मीन राशि की महिलाओं के लिए यह उचित है कि आप 16 जुलाई से 10 अगस्त 2021 तक अपने खाने की आदतों पर ध्यान दें, क्योंकि यह आपके लिए एक कठिन दौर हो सकता है। जबकि, 3 जून से 1 अगस्त 2021 तक, उन महिलाओं के लिए एकदम सही समय होगा, जो बच्चों की उम्मीद कर रही हैं। हालांकि, आपको अपने घर से बाहर निकलने से बचना चाहिए, केवल घर के बने खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए, और 14 मई से 16 जुलाई 2021 के बीच अपने परिवार के डॉक्टर की सलाह का पालन करना चाहिए। जो बुजुर्ग मोतियाबिंद का ऑपरेशन कराना चाहते हैं, उन्हें 1 अगस्त से 10 सितंबर 2021 तक की तारीखों पर विचार करना चाहिए। बच्चों और किशोरों को 8 अप्रैल से 15 मई 2021 तक भीड़ वाली जगहों पर इकट्ठा होने से बचना चाहिए, क्योंकि उन्हें वायरस संक्रमण हो सकता है। अप्रैल, मई, और जून के महीने के दौरान मीन राशि के लोगों को अधिक सावधान और सतर्क होना चाहिए। अन्यथा आपको गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। गुरु राशि परिवर्तन 2021 के दौरान मीन राशि के पुरुष खुद को काम में अधिक व्यस्त पाएंगे जिससे उन्हे नींद की कमी हो सकती है आगे चलकर यह आपके सामने मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या भी पैदा कर सकती है।

उपाय – मीन राशि के लोगों को अपनी स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने के लिएउगते सूर्य के सामने ओंकार मंत्र का जाप करना चाहिए। बच्चों को ‘गुरु’ मंत्र या गुरु दत्तात्रेय ’मंत्र का पाठ करके मानसिक तनाव को कम करने का प्रयास करना चाहिए। जबकि बड़ों को सलाह दी जाती है कि वे मानसिक शांति पाने और शरीर के दर्द से राहत पाने के लिए महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें।

श्री गणेशजी की कृपा के साथ

गणेशास्पीक्स डॉट कॉम/हिंदी

ये भी पढ़ें-

जानिए मेष राशि के लोगों पर गुरु के राशि परिवर्तन का प्रभाव, क्लिक करें यहां

वृषभ राशि के लिए क्या उपहार लाना वाला है गुरु का राशि परिवर्तन

मिथुन राशि के लिए राशि परिवर्तन करके नवें भाव में जाएंगे गुरु, पढ़िए कुंभ के गुरु का प्रभाव यहां

गुरु नीच राशि से बाहर जाकर अब कुंभ में ट्रांजिट करेंगे, कर्क राशि के लोगों के लिए होगा विशेष प्रभाव

सिंह राशि के लोगों के लिए गुरु के राशि परिवर्तन का प्रभाव, क्लिक करें यहां

कन्या राशि के लिए क्या उपहार लाना वाला है गुरु का राशि परिवर्तन

तुला राशि के लिए राशि परिवर्तन करके पांचवें भाव में जाएंगे गुरु, पढ़िए कुंभ के गुरु का प्रभाव यहां

गुरु नीच राशि से बाहर जाकर अब कुंभ में ट्रांजिट करेंगे, वृश्चिक राशि के लोगों के लिए होगा विशेष प्रभाव

धनु राशि के लोगों के लिए गुरु के राशि परिवर्तन का प्रभाव, क्लिक करें यहां

मकर राशि के लिए क्या उपहार लाना वाला है गुरु का राशि परिवर्तन

कुंभ राशि के लिए राशि परिवर्तन करके पहले भाव में आएंगे गुरु, पढ़िए कुंभ के गुरु का प्रभाव यहां

गुरु नीच राशि से बाहर जाकर अब कुंभ में ट्रांजिट करेंगे, मीन राशि के लोगों के लिए होगा विशेष प्रभाव

17 Feb 2021

View All blogs