https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

आपका कॉस्मिक कैलेंडर – 13 से 19 जुलाई तक

ग्रह विशेष
यह सप्ताह कई उल्लेखनीय ग्रह घटनाओं का साक्षी बनने जा रहा है। 13 जुलाई, 2014 की शुरूआत से आप पाएंगे कि हर किसी के भीतर विचार विमर्श एवं बहस में हिस्सा लेने की इच्छा तीव्रता से उत्पन्न हो रही है। सावधान होना ! कुछ वार्ताएं एवं चर्चाएं उग्र रूप धारण कर सकती है। आपको बुध, सूर्य एवं गुरू का आभार मानना चाहिए, जो तीनों ग्रह इस समय कर्क में उपस्थित हैं। कर्क जातक घर प्रेमी होते हैं, इसलिए इनमें से बहुत सी चर्चाएं एवं बहसें घर से संबंधित मामलों पर आधारित हो सकती हैं। बुध का प्रभाव सुनिश्चित करेगा कि आप अपने मन की बात को ठोस तर्कों के साथ रखें। गुरू चर्चा के विस्तार के लिए हर संभव प्रयास करेगा। सूर्य की उपस्थिति के लिए आभारी होना चाहिए, जो बुध एवं गुरू की आक्रमकता को कम करेगा, जब यह दोनों ग्रह सूर्य के निकट पहुंचेंगे। गणेशजी आपको सलाह देते हैं कि इस समय उस स्थिति से दूर रहें, जहां विवाद होने की अधिक संभावनाएं नजर आएं। सबसे बेहतर होगा यदि सप्ताह अंत आप स्वयं के साथ आनंदपूर्ण गुजारें।

13जुलाई 2014 को तुला राशि में मंगल एवं राहु डिग्रीकल संयोजन में होंगे। यह व्यक्तिगत एवं पेशेवर हिस्सेदारी के लिए अस्थिर संयोजन होगा। आपकी सामाजिक छवि भी दांव पर लग सकती है। हो सके तो सार्वजनिक तौर पर आक्रमक व्यवहार करने तथा लाइफ एवं बिजनस पार्टनर से भी किसी विवाद पर उलझने से बचें। नहीं तो स्थितियां इस तरह बिगड़ सकता हैं कि आप अपने जीवन साथी से तलाक लेने तक का विचार कर सकते हैं या अपने बिजनस सहयोगी से अलग होने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठा सकते हैं। इस समय आपको अपने चेतन की घुड़दौड़ रोकनी चाहिए एवं इसको पारगमन को शांतिमय तरीके से गुजरने देना चाहिए। अगर फिर भी किस तरह का फैसला लेना अति जरूरी लगता है तो कुछ हफ्ते या दिन गुजरने दें।

इसके बाद 17 जुलाई 2014 गुरू सिंह राशि में प्रवेश करेगा, जो अपने आप में महत्वपूर्ण ग्रहीय परिवर्तन है। इस ग्रहीय परिवर्तन का सर्वाधिक लाभ उनको जातकों को होगा, जिनकी सूर्य राशि सिंह एवं वृषभ है। मेष एवं धनु जातकों को सकारात्मक नतीजे मिलने की संभावना है, अगर जातक अनुसंधान, उच्च शिक्षा एवं परोपकार से जुड़े हुए हैं। साथ ही, शैक्षिक प्रयासों के लिए बहुत बढ़िया अवधि है। जो दंपति संतान प्राप्त की राह देख रहे हैं, उनके लिए समय काफी अनुकूल है। इसके अलावा खेल गतिविधियों में शामिल जातकों के लिए भी समय काफी फायदेमंद होने वाला है। हालांकि, गणेशजी कहते हैं कि तत्काल परिणामों की राह न देखें एवं साथ ही शुभ व अशुभ परिणाम आपकी कुंडली के ग्रहों पर भी निर्भर करते हैं।

सप्ताह के अंतिम दौर में, 19 जुलाई 2014 को शुक्र, बुध और सूर्य कर्क राशि में मिलेंगे। इस पहलू सकारात्मक प्रभाव 4 से 5 दिनों तक रहेगा। घरेलू मोर्चे पर शांति पुनःस्थापित होगी। इस समय आप कुछ मेहमानों के आने की उम्मीद कर सकते हैं। आप अपने पिता या उनके समकक्ष से महंगी सुख सुविधा की वस्तुएं, चल अचल संपत्ति, वाहन तथा अन्य वस्तुएं खरीदने के लिए विचार विमर्श करें। इस ग्रहीय परिवर्तन के कारण आपके व्यक्तिगत जीवन पर किस तरह का प्रभाव रहेगा एवं इस बारे में जानने के लिए आप हमारी बेहद लोकप्रिय एवं विश्वसनीय ज्योतिषी से बात करें सेवा का लाभ उठाएं।

करियर और व्यवसाय के लिए कैसा रहेगा यह सप्ताह?
इस सप्ताह के दौरान व्यापार अपेक्षाकृत स्थिर हो जाएगा, उसके बावजूद बहुत उत्साहजनक नहीं होने की संभावना है। कारोबार एवं रिटर्न्स के संदर्भ में सप्ताह के पहले कुछ दिन साधारण होंगे, जबकि सप्ताह का उत्तरार्द्ध निश्चित रूप से बेहतर होगा। गणेशजी कहते हैं कि जो जातक नौकरी करते हैं, उनको इस समय के दौरान अनुभव होगा कि कार्यस्थल पर भावनात्मक होना अच्छी बात नहीं है। बुध के कर्क राशि में होने से आप पूरी तरह से इस भावनात्मक माहौल से खुद को अलग करने में असमर्थ हो सकते हैं। वैसे भी, आप धीरे – धीरे और निश्चित रूप से स्थिति से उभर पाएंगे एवं सप्ताह अंत पर अच्छी स्थिति में पहुंचेंगे। आगे गणेशजी महसूस करते हैं कि इस सप्ताह के दौरान आप अपने वरिष्ठ अधिकारियों की अपेक्षाओं को पूरा करने की कोशिश करेंगे और यह शायद अधिक उत्साह के साथ काम करने के लिए प्रेरित करेगा। इन ग्रह परिवर्तनों के कारण आपके करियर फ्रंट पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है, जानने के लिए आप शत प्रतिशत व्यक्तिगत एवं जन्म कुंडली आधारित तीन वर्षीय करियर रिपोर्ट प्राप्त कर सकते हैं, जो आपको करियर संबंध में तिमाही वार विस्तृत जानकारी उपलब्ध करवाएगी।

प्यार और डेटिंग के लिए कैसा रहेगा यह सप्ताह?
इस सप्ताह का पहला हिस्सा प्रेम एवं डेटिंग के लिए बहुत अधिक उत्साहजनक नहीं रहने की संभावना है। जबकि, 18 से 20 जुलाई तक की अवधि के अपेक्षाकृत अधिक उत्साहजनक होगी। गणेशजी कहते हैं कि जो जातक प्रेम भाव से दूर हैं, इस सप्ताह के दूसरे हिस्से के दौरान उनके हृदय के भीतर प्रेम राग पनपने की संभावना है। आप अचानक महसूस करेंगे कि आपका दिल किसी खास व्यक्ति के लिए धड़कता है। हालांकि, आपको आगे बढ़ने से पूर्व दो बार विचार करना चाहिए। इसका मुख्य कारण है कि शुक्र कर्क राशि में प्रवेश करने जा रहा है, जिसकी प्रवृत्ति स्थानांतरित होना है, जैसे कि कर्क वृश्चिक की तरह स्थिर पानी नहीं, बल्कि बहते हुए पानी की तरह है। इसलिए, अगर आप नए प्रेम संबंध शुरू करते हैं, तो आप किसी बात के लिए वचनबद्घ होने के लिए कुछ समय लेना चाहेंगे। इसके अलावा अगर आप संबंधों के लिए गंभीर नहीं हैं तो संबंधों में केवल दिल बहलाने के लिए न उतरें। अगर आप किसी बात को लेकर दुविधा में हैं, तो ज्योतिषीय मार्गदर्शन प्राप्त करें। आप के नक्षत्र इस मिलन के संबंध में क्या कहते हैं, जानने के लिए आप संगतता आकलन रिपोर्ट प्राप्त करें। अपनी एवं अपने प्रेमी की जन्म विवरण तैयार रखें।

संबंध और सेक्स के लिए कैसा रहेगा यह सप्ताह?
शुक्र, सूर्य और बुध कर्क में एक साथ उपस्थित होने से परिवार सदस्यों के साथ आपके संबंधों में सुधार आएगा। इस समय आप अपने परिवार सदस्यों के लिए खुले मन से विचार विमर्श कर सकते हैं, इस तरह की संभावनाएं दिखाई पड़ रही हैं। इस सप्ताह के दौरान आप मेहमाननिवाजी के लिए उत्सुक रह सकते हैं एवं किसी पार्टी का आयोजन कर सकते हैं। घरेलू मुद्दे काफी स्थिर रहने की संभावना है। आप भी व्यक्तिगत और घरेलू मामलों पर गहरा ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। इसके कारण परिवारिक मामले बहुत आसानी से सुलझने की संभावना है। हालांकि, आपको अपनी मां के साथ अपने रिश्ते को लेकर सावधान रहना चाहिए, विशेषकर 17 एवं 18 जुलाई को। इसके अलावा यह सप्ताह प्रेम संबंधों के लिए बेहद अनुकूल है। पिछले सप्ताह की तुलना यह सप्ताह यौन संबंधों एवं इससे संबंधित मामलों के लिए अधिक अनुकूल है। फिर भी, नाजुक मामलों में किसी प्रकार का रिस्क न लें। अगर आप किसी गंभीर समस्या में उलझे हुए हैं, तो आप ज्योतिषी से बात करें सेवा का इस्तेमाल करें या फिर अंतरंग संबंध रिपोर्ट प्राप्त करें।

विवाह व संतान के लिए कैसा रहेगा यह सप्ताह?
मंगल राहु के आगे चल रहा है। इसलिए गणेशजी महसूस करते हैं कि वैवाहिक जीवन के मोर्चे पर संघर्ष धीरे धीरे कम होता चला जाएगा एवं संबंधों में महान परिवर्तन देखने को मिलेंगे। हालांकि पिछले घर्षण से उबरना मुश्किल हो सकता है। हालांकि, आप और आपका जीवन साथी दोनों धीरे – धीरे शांत हो जाएंगे। बाद में, आप दोनों संयुक्त रूप से समस्याओं के समाधान ढूंढ़ेंगे। इसके अलावा बृहस्पति इस सप्ताह के दौरान, सिंह में प्रवेश करती है के रूप में इसके अलावा, इस सप्ताह के दौरान बृहस्पति सिंह में प्रवेश कर रहा है, जिसके प्रभाव के कारण आपके बच्चों की शैक्षणिक प्रगति में सुधार होगा। गणेशजी कहते हैं कि जो जातक परिवार शुरू करने की योजना बना रहे हैं, उनके लिए नक्षत्र बहुत अनुकूल हैं। अगर गर्भ धारण में किसी प्रकार की मुश्किल पेश आ रही है तो आपको जन्म कुंडली आधारित संतान प्रसव संबंधित समस्याएं रिपोर्ट प्राप्त करनी चाहिए।

व्यक्तिगत जीवन के लिए कैसा रहेगा यह सप्ताह?
इस सप्ताह बृहस्पति गुरू में प्रवेश कर रहा है, इसलिए आपके पूर्व निर्धारित लक्ष्य स्पष्टता से दिखाई पड़ने की संभावना है। आप अपने व्यक्तिगत काम में अत्यंत संतुष्टि महसूस करेंगे एवं आप पेशेवर जीवन में जिस काम को भी हाथ में लेंगे, उनको खुशी खुशी पूरा करना चाहेंगे। गणेशजी कहते हैं कि किताबों को नए सिरे से पढ़ने के लिए एकदम सही समय है। इसलिए आप इस सप्ताह सबसे पहले अपनी व्यक्तिगत लाइब्रेरी को साफ सुथरा बनाएं, अगर धूल आदि जमी है तो उसको हटाएं, एवं अपनी मनपसंद किताबों को एकबार फिर से खोलें। दरअसल, यह ज्ञान उन्मुख सप्ताह है। गणेशजी महसूस करते हैं कि इस समय आप जिस विषय को भी पढ़ना शुरू करेंगे, उसके अच्छे एवं सकारात्मक प्रमाण भविष्य में मिलेंगे। अपने व्यक्तिगत दायरे में ग्रहों के परिवर्तन के कारण अच्छे के लिए बहुत सारे बदलाव होने की संभावना है। ग्रहों की स्थिति किस तरह आपके व्यक्तिगत जीवन को प्रभावित करती है, के बारे में जानने के लिए आप अद्वितीय वैदिक रिपोर्ट गुरू पारगमन या राहु केतु पारगमन रिपोर्ट प्राप्त करें।

निवेश, जायदाद और वित्त के लिए कैसा रहेगा यह सप्ताह?
इस सप्ताह शुक्र कर्क में है, जो संकेत देता है कि इस सप्ताह आप अपने घर की साज सज्जा पर धन खर्च कर सकते हैं। गणेशजी कहते हैं कि अगर आप वाहन आदि खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तो इससे बेहतर समय नहीं होगा एवं सुख सुविधा की चीजें खरीदने के लिए भी समय अनुकूल है। आप वित्तीय स्थिति को लेकर तनाव में नहीं होंगे एवं आप अपनी जीवन शैली को उच्चस्तरीय बनाने के लिए प्रयास करेंगे। अगर आप बड़ी रकम का निवेश करने के बारे में सोच रहे हैं तो आप अपना बजट देखने के लिए बाद ही किसी नतीजे पर पहुंचें। गणेशजी कहते हैं कि वित्तीय मामलों को लेकर जल्दबाजी में लिए गए फैसले आपको भविष्य में भारी पड़ सकते हैं, इसलिए थोड़ी सी सावधानी बरतते हुए आगे बढ़ें। अगर आप अपने निवेश व वित्त मामलों को लेकर चिंता या दुविधा में हैं तो आप संपत्ति एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट या ज्योतिषी से बात करें सेवा की मदद ले सकते हैं, जो आपको शत प्रतिशत व्यक्तिगत एवं एक स्पष्ट नजरिया प्रदान करेगी।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम