https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

पहले अश्वेत अमेरिकी राष्ट्रपति बराक हुसैन ओबामा के भविष्य में चुनौतियां या अवसर ? जानिए!

पहले अश्वेत अमेरिकी राष्ट्रपति बराक हुसैन ओबामा के भविष्य में चुनौतियां या अवसर ? जानिए!

अमेरिका के 44वें एवं प्रथम अश्वेत राष्ट्रपति बराक हुसैन ओबामा 4 अगस्त 2015 को 54वां जन्मदिवस मनाने जा रहे हैं।विश्वशांति में उल्लेखनीय योगदान के लिए वर्ष 2009 के नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित अमेरिकी राष्ट्रपति बराक आेबामा जल्द ही बड़े पर्दे पर लव आइकन बनकर उभरेंगे। दरअसल, उनके प्रेम जीवन पर ‘साउथसाइड विद यू’ नामक फिल्म का निर्माण किया जा रहा है। हमेशा ख़बरों में रहने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति पर 4 अगस्त 2015 को भी मीडिया की नजर रहेगी कि आख़िर विपक्ष के निरंतर हमलों के बीच अपने जन्मदिवस को किस तरह मनाते हैं ? बराक आेबामा का दूसरा कार्यकाल समाप्ति की तरफ है, अब भी उनके सामने काफी चुनौतियां हैं ? क्या बराक आेबामा चुनौतियों से पार पाएंगे या नहीं ? यह जानने के लिए गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम के विशेष ज्योतिषविद ने उनकी जन्म कुंडली का अध्ययन किया एवं उनके भविष्य को जानने का प्रयास किया।

बराक ओबामा – अमेरिकी राष्ट्रपतिजन्म तिथि – 4 अगस्त 1961जन्म समय – 19.24जन्म स्थान – होनोलूलू (एचआई) संयुक्त राज्य अमरीका
kundali

ज्योतिषीय फलकथन :-
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की जन्म कुंडली के ग्रहों पर मौजूदा ग्रहीय पारगमन मिले जुले प्रभाव डालेंगे। गणेशजी महसूस कर रहे हैं कि राष्ट्रपति बराक ओबामा कड़ी मेहनत करना चाहेंगे, किंतु उनको ग्रहों का सकारात्मक सहयोग नहीं मिलेगा, जैसे कि गुरू जैसे शुभ ग्रह का भी अधिक अच्छा सहयोग नहीं मिलेगा। गुरू उनके जन्म के मंगल एवं राहु पर से आठवें स्थान के बीच से पारगमन करेगा। साथ ही, उसकी दृष्टि दूसरे स्थान में स्थित केतु पर पड़ रही है, जो 11 अगस्त 2016 तक यथावत बनी रहेगी। यह पारगमन बहुत अनुकूल साबित नहीं होगा, इस तरह की संभावना है या इस पारगमन के कारण उनकी जन्म कुंडली के ग्रहों को अनिवार्य सकारात्मक प्रभाव नहीं मिलेगा।

इस समय दौरान बराक आेबामा दूसरे देशों की यात्रा पर जाने का प्लान बना सकते हैं एवं दूसरे देशों के नेताआें के साथ वार्ता भी कर सकते हैं। इसके अलावा आतंकवाद को खत्म करने के लिए रणनीतियां बनाने में बराक आेबामा महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। इस समय गुरू उनके जन्म के मंगल को सक्रिय कर रहा है, जो ग्रहीय हलचल उनको उत्कृष्ट बचाव एवं सुरक्षा व्यवस्था स्थापित करने के लिए प्रेरित करेगी एवं उनका यह कदम अमेरिकी नागरिकों को पसंद आ सकता है।

इसके अलावा, बराक आेबामा 6 अप्रैल 2018 तक शनि की महादशा एवं बुध की अंतर दशा के प्रभाव में रहेंगे। इस सकारात्मक प्रभाव के अधीन बराक आेबामा अपने अधीनस्थ नौकरशाहों / राजनयिकों / सचिव / मंत्रियों तथा विपक्षी दलों के नेताआें के साथ सकारात्मक बातचीत करने में सफल रहेंगे। दरअसल, इस समय विरोधी उन पर हावी होने में सफल नहीं होंगे। साथ ही, बराक आेबामा विश्व स्तर पर संयुक्त राज्य अमेरिका के वर्चस्व को बनाए रखने में सक्षम होंगे, तथा वैश्विक मुद्दों पर कुछ ठोस निर्णय लेने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

हालांकि, शायद यह सब कुछ उनकी कार्य शैली और नीतियों के अनुरूप नहीं होगा। उनको बहुत सारे मामलों में समझौता करना पड़ सकता है। इतना ही नहीं, उनको कुछ इस तरह के फैसले लेने पड़ सकते हैं, जो लोगों को पसंद नहीं आएंगे, एवं उनकी छवि को नुकसान पहुंच सकता है, जब जनवरी 2016के पश्चात राहु उनके आठवें स्थान में स्थित ग्रहों पर से पारगमन करेंगे एवं केतु भी उनके जन्म के केतु पर से दूसरे घर के बीच से गुजरेंगे। जनवरी 2016 के बाद भविष्य को ध्यान में रखते हुए बराक आेबामा अपनी वित्तीय और राजकोषीय नीतियों, वित्तीय संगठनों के काम करने के तरीकों, कार्यान्वित व्यवस्था को नियंत्रित और विश्लेषण करने पर विशेष ध्यान दे सकते हैं।

इसके अलावा जनवरी 2017 तक गोचर का शनि उनके प्रतिगामी गुरू पर दृष्टि डालेगा एवं स्वगृही शनि लग्न में स्थित है एवं उनका उच्च का चंद्रमा पांचवें स्थान में है एवं आठवें स्थान पर दृष्टि डालेगा। बराक आेबामा अत्यधिक काम या विभिन्न राजनीतिक दबाव के कारण अशांत रह सकते हैं। विरोधी पार्टियां समस्याएं खड़ी कर सकती हैं एवं उनको अचानक झटकों का सामना करना पड़ सकता है।

इस समय के दौरान उनको बहुत सारे मामलों में अधिक तनाव से गुजरना पड़ सकता है एवं उनको अपने कार्य प्रदर्शन से संतुष्टि महसूस नहीं होगी। इस समय उनको स्वास्थ्य संबंधी काफी सतर्क रहने की जरूरत रहेगी एवं थोड़ी सी लापरवाही भी मुश्किल में डाल सकती है। उनको बाहरी ताकतों से सतर्क रहने की जरूरत है, जो उनके प्रबंधन एवं व्यवस्था दोनों को प्रभावित करने का प्रयास करेंगी। इस समय बराक आेबामा अपनी नीतियों को उतनी तेजी के साथ लागू नहीं कर पाएंगे, जितनी तेजी की उम्मीद बराक आेबामा कर रहे होंगे। इस समय कार्यों में विलंब की बड़ी संभावना है।

गणेशजी अमेरिकी राष्ट्रपति बराक आेबामा को उनके जन्मदिवस पर शुभेच्छा एवं आशीर्वाद देते हैं।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
रंतीदेव ए उपाध्यय
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम