https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

नवरोजः पारसी नववर्ष 2017 – जानें सेलीब्रेशन का तरीका

नवरोजः पारसी नववर्ष 2017

नवरोज उत्सव का एेतिहासिक महत्व ?
” कहते है परिवर्तन संसार का नियम है ” लेकिन क्या आपने कभी ये सोचा है कि हमें अपनी जिंदगी में बदलाव की क्यूं जरूरत है, दरअसल ये ‘नवीनता’ लाने के लिए है, जो मजबूती प्रदान करती है। ये हमें प्रेरणा के मार्ग की आेर प्रशस्त करती है। ये आपकी जिंदगी को आकार दे सकती है। आैर कुछ इसी तरह की नवीनता को प्रकट करता है पारसी समुदाय का पर्व ‘नवरोज’। पारसी लोग नवरोज फारस के राजा जमशेद की याद में मनाते है, जिन्होंने पारसी कलैंडर की स्थापना की थी। तो आइए जानते है नवराेज से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातेंः

इस महत्वपूर्ण दिन पर हमारे विशेषज्ञों द्वारा तैयार जन्मपत्री प्राप्त करें

नवरोज पर्व 2017 या जमशेद नवरोज पर्व के बारे मेंः
जमशेद नवरोज उत्सव, पारसी नववर्ष उत्सव का मूल र्इरानी आैर पारसी संस्कृति में पाया गया है। ये मुख्यरूप से मध्य-पूर्व, यूएसए, दक्षिण एशियार्इ देशों जैसे भारत आैर पाकिस्तान में मनाया जाता है। इन देशों में लोग सेहत, उत्पादकता, धन-समृद्घि का स्वागत करने के लिए इसे पूर्ण निष्ठा अौर ऊर्जा के साथ मनाते है। नवरोज उत्सव में पवित्र अग्नि, सुगंध आैर दोस्ती महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

अपने जीवन की विस्तृत भविष्यवाणी से जानें ग्रह आपकी जिंदगी के बारे में क्या संकेत दे रहे है

नवरोज उत्सव का ज्योतिषीय महत्वः
नवरोज उत्सव की महत्वपूर्ण ज्योतिषीय पृष्ठभूमि है। पारसी कलैंडर के प्रमुख सुधारों के अनुसार र्इरानी दार्शनिक आैर वैज्ञानिक टयूसी ने अधिकारिक रूप से जमशेद नवरोज उत्सव को पारसी कलैंडर का पहला दिन घोषित किया जब सूर्य मीन के नक्षत्र से दोपहर के बाद मेष राशि में प्रवेश करता है।

नवरोज पर्व 2017:
20 मार्च 2017, सोमवार

नवरोज उत्सव2017- पारसी न्यू र्इयर सेलीब्रेशन 2017 परंपराए:
जीवनशैली में पाश्चात्य संस्कृति अत्यधिक हावी होने के बावजूद, पारसी लाेग नवरोज सेलीब्रेशन में पुरानी परम्पराआें को अग्नि, सुगंध, दोस्ती आैर व्यंजन के जरिए फाॅलो करते है।

अग्नि:
– नवरोज पर पारसी मंदिर अगियारी में विशेष प्रार्थना करने जाए। जहां प्रार्थना के दौरान अपने सिर को ढकें। इसके बाद पवित्र अग्नि के समक्ष चंदन की लकड़ी जलाए। सच्चे मन से प्रार्थना करने के बाद सभी उपस्थित लोगों को नववर्ष की शुभकामनाएं दें।

2017 कैरियर रिपोर्ट से जानें अपने कैरियर के रूझानों के बारे में

सुगंध:
– इस दिन हवा का शुद्घिकरण करना चाहिए, जो कि नवरोज उत्सव के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। इसके अलावा इन निम्न परंपराआें का अनुसरण करें। – सुबह जल्दी उठें -गुलाब के पानी से पवित्र सुगंधित स्नान करें – इस दिन नए कपड़े पहनें- इस खास दिन पर इत्र लगाना ना भूलें – अपने घर को लाल गुलाब आैर चमेली के फूलों से सजाए। नवरोज सेलीब्रेशन पर प्राकृतिक रूप से सुगंधित गुलाब कमरे में सकारात्मक प्रभामंडल बनाता है।- अपने घर के प्रत्येक कोने को उज्जवल रंगों से सजाए। -हल्दी सुगंध बिखेरने वाली अगरबत्तियां जलाए । -जिसके बाद, बैठक कक्ष में चंदन का पाउडर छिड़कें। -एक चांदी की ट्रे में गुलाब, नारियल आैर सिंदूर रखें – आपके घर जो भी आए उस पर गुलाबजल छिड़कें। -नवरोज उत्सव पर सूर्य की अाभा को मजबूत करने के लिए घर के मुख्य दरवाजे पर उज्जवल रंगों जैसे लाल, गुलाबी, पर्पल, आॅरेंज अौर पीले रंग से रंगोली बनाए। ये आपकी ऊर्जा आैर आत्मविश्वास को बढ़ाएगा।

किसी भी मसलें का समाधान पाए कोर्इ भी प्रश्न पूछें रिपोर्ट से

दोस्ती:
– सबसे महत्वपूर्ण चीज जो आप नवरोज उत्सव के दौरान देखेंगे वो है, पारसी समुदाय के पुरूषों आैर महिलाआें की स्वतंत्र बैठक, जो कि समानता का प्रतीक है। -नवरोज उत्सव के शुभ दिन अपने परिजनों आैर परिचितों से मिलें। – घर पर आए रिश्तेदारों, पड़ौसियों, दोस्तों आैर सहकर्मियों का स्वागत करें। -एक-दूसरे के गले मिलें, आैर ‘साल मुबारक’ कहें। -सुसज्जित उपहार, खाने की चीजें आैर कपड़ों का आदान-प्रदान करें।

व्यंजन:
पारसी न्यू र्इयर सेलीब्रेशन के तहत व्यंजन की भी काफी महत्वपूर्ण भूमिका है। पारसी भोजन भारत में सबसे अधिक स्वास्थ्यप्रद आैर प्रोटीन से भरपूर होता है जो कि मध्य-पूर्व आैर विशेषकर गुजराती व्यंजनों का मिश्रण है।

2017 वार्षिक रिपोर्ट से जानें इस वर्ष में चीजें किस तरह से आकार लेगी

नवरोज उत्सव के लाभः पारसी नववर्ष उत्सव 2017 पर भाग्य, प्रेम आैर धन लाने के तरीके
– हमेशा समानता आैर निष्पक्ष सिद्घांतों- अच्छे विचारों, अच्छे शब्दों आैर अच्छे कर्मों में विश्वास रखें आैर जरूरतमंदों की मदद करने की कोशिश करें। – नवरोज उत्सव पर सामंजस्यपूर्ण संबंध बनाए रखना आवश्यक है। इसलिए, एक दूसरे से ड्रार्इ फ्रूटस, नटस आैर अनाज साझा करना महत्वपूर्ण है जो कि नवरोज पर विपुलता आैर सीमा के अच्छे संतुलन को दर्शाता है। -पारसी समुदाय नवरोज के दिन मेज पर कुछ पवित्र वस्तुएं रखते है जिसमें जरथुस्त्र की तस्वीर, मोमबती, दर्पण, अगरबत्ती, फल, फूल, चीनी, सिक्के इत्यादि शामिल होते है। एेसा माना जाता है कि इससे परिवार के लोगों की आयु आैर समृद्घि बढ़ती है।

नवरोज उत्सव खुशहाल जीवन के सात तत्वों का प्रतीकः
– नवरोज उत्सव में सात नंबर (#7) पारसी समुदाय के लिए पवित्र नंबर है क्यूंकि ये खुशहाल जीवन के सात तत्वों का प्रतीक है। प्रेम, संबंध आैर समृद्घि की तरफ सकारात्मक आभा बढ़ाने के लिए निम्म बातों पर अवश्य ध्यान देंः -सुंदरता बढ़ाए: दो सेव टेबल पर रखें आैर जवान व चुस्त-दुरूस्त रहने के लिए रोजाना दो सेव खाए। – प्यार को करें आकर्षितः नवरोज उत्सव के खास मौके पर प्यार को आकर्षित करने के लिए कमल के सूखे फल को खाए व साझा करें -सकारात्मकता अपनाएः अगर नकारात्मक विचार आपको परेशान कर रहे है तो नवरोज के मौके पर सकारात्मक रहने के लिए बेर खाए। – अच्छी सेहत बनाएः आप टेबल पर लहसुन का एक गुच्छा रख सकते है या फिर सुरक्षित रहने के लिए इसे अपनी जेब में रखें। अपनी सेहत आैर हार्इजिन को बनाए रखने के लिए आप लहसुन चबा सकते है। -धैर्य रखें: अगर आपके परिवार में कोर्इ हमेशा मानसिक रूप से परेशान रहता हो तो उसे नवरोज उत्सव के दौरान एेसा खाना बनाए जिसमें सिरके का इस्तेमाल किया जाए। -पुनर्जन्म में विश्वास रखें: पारसी समुदाय में एेसी मान्यता है कि अगर आप गेहूं, जौ या मसूर से निर्मित सब्जी खाते है तो आपका पुनर्जन्म होगा। – भाग्य आैर समृद्घि को आकर्षित करने के लिए नवरोज पर मछली की आकृति की रंगोली बनाए। – कमरे में धूपबत्ती जलाने से पवित्रता बनी रहती है जो आपके मन को तरोताजा रखती है। – नवरोज के अवसर पर चटकदार लाल रंग की रंगोली मेहमानों को आकर्षित करती है, जिससे रिश्ते मजबूत होते है। – सौभाग्य व समृद्घि का स्वागत करने के लिए एक छोटा सिक्का रखें।

आपको आैर आपके परिवार को पारसी नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
गणेशास्पीक्स डाॅटकाॅम टीम