https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

ग्रहों के मस्त रहने से रणवीर भी बेफिक्र रहें ! …कहते हैं गणेशजी

ग्रहों के मस्त रहने से रणवीर भी बेफिक्र रहें !

परंतु, फरवरी 2017 के बाद शनि के सूर्य और मंगल के सामने आने से रणवीर की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

“ बाजीराव की रफ्तार ही बाजीराव की पहचान है।”

वैसे तो ये डाॅयलाॅग रणवीर की बेहतरीन फिल्मों में शामिल ‘बाजीराव मस्तानी’ का है, लेकिन इसे अगर रणवीर की असल जिंदगी से जोड़ा जाए तो हम ये कह सकते हैं कि रणवीर का जीवंत व्यक्तित्व ही रणवीर की पहचान है। फिल्म ‘बैंड बाजा बाराती’ से बाॅलीवुड में अपना फिल्मी कैरियर शुरू करने वाले रणवीर ने बहुत ही अच्छी गति से सफलता की रफ्तार पकड़ी। आज वो जिस मुकाम पर हैं उसके पीछे कोर्इ गाॅडफादर नहीं, बल्कि उनकी लगन, मेहनत और उम्दा अभिनय है। लाजवाब एक्टिंग की वजह से आज उनकी पहचान बी-टाउन के अग्रणी अभिनेताओं में होती है। इसी कड़ी में रणवीर की आगामी फिल्म बेफिक्रे का हाॅट ट्रेलर दर्शकों को क्रेजी बना रहा है। इस ट्रेलर में वे अभिनेत्री वाणी कपूर के साथ रोमांस करते नजर आ रहे हैं। तो आइए इस लेख से जानते हैं कि गणेशजी ने रणवीर की सूर्य कुंडली का विश्लेषण करने के बाद क्या भविष्यवाणियां की हैंः

रणवीर सिंह
जन्म दिनः 6 जुलार्इ, 1985
जन्म समयः अज्ञात
जन्म स्थान: मुंबर्इ, महाराष्ट्र, भारत

रणवीर सिंह की सूर्य कुंडली
kundali

बाॅलीवुड के इस उम्दा अभिनेता के बारे में सितारे क्या संकेत देते हैं ?

“ चीते की चाल, बाज की नजर और बाजीराव की तलवार पर कभी संदेह नहीं करना चाहिए, कभी भी मात दे सकते हैं। ”

– रणवीर की फिल्म बाजीराव मस्तानी का एक डायलाग

शुक्र का अाशीर्वादःक्या आप उन लोगों में से हैं जो रणवीर के जोशिले, चुंबकीय व्यक्तित्व और उत्साही स्वभाव को देखकर आश्चर्यचकित हो जाते हैं ? तो यहां हम आपको खासतौर से गणेशजी द्वारा रणवीर की कुंडली के विश्लेषण के आधार पर की गर्इ व्याख्या के बारे में बताते हैं। उनकी कुंडली में दो विचित्र विशेषताएं है, तो चलिए पहली विशेषता से शुरूआत करते हैं-

रणवीर की सूर्य कुंडली को देखने पर ज्ञात होता है कि शुक्र अपनी स्वराशि वृषभ में स्थित है। क्या बात है ! कला, रचनात्मकता, महिला और सुख का कारक अपनी ही राशि में ! तो इसमें कोर्इ आश्चर्य की बात नहीं है कि इसी कारण उनका महिलाओं के साथ तालमेल भी अच्छा ही रहता है। जाहिर-सी बात है कि शुक्र के आरामदायक स्थिति में रहने से रणवीर लवर बाॅय या ड्रीम बाॅय की अपनी इस छवि का ज्यादातर आनंद उठाएंगे।

“ किसी के प्रभाव में आए बगैर अपनी पहचान बनाए रखना ही स्वतंत्रता है। ”

‘रणवीर के पौरूष’ का मूल बिन्दुःशुक्र की मजबूत स्थिति के अलावा, रणवीर की सूर्य कुंडली का एक और महत्वपूर्ण कारक जो उन्हें अत्यधिक अाकर्षक और जोशीला बनाता है वह है सूर्य और मंगल का युति में होना। ये दोनों ग्रह ज्योतिष में अत्यधिक बलवान ग्रह माने जाते हैं और स्फूर्ति, उत्साह, पौरूष और साहस का प्रतिनिधित्व करते हैं। कुंडली में बन रहा सूर्य व मंगल का यह संयोजन रणवीर को बहुत सारी आक्रामकता और ऊर्जा प्रदान करता है। यही कारण है कि वो बेफिक्र, आत्मविश्वासी और आकर्षक नजर आते हैं।

सूर्य-मंगल का संयोजन- हृष्ट-पुष्ट काया का राजग्रहों की यह युति इनके शरीर को सुडौल, मांसल और ताकतवर बना रही है। ये दोनों ग्रह मिलकर उन्हें अच्छी प्रतिरोधक शक्ति और बेहतर सेहत का आशीर्वाद भी देते हैं। यहां दिलचस्प बिंदु ये है कि सूर्य और मंगल का बेहद उग्र संयोजन वायुतत्व राशि मिथुन में हुआ है और जो उन्हें मानसिक रूप से संतुलित रहने और कूल रहने में मदद करता है।

क्या ‘बेफिक्रे’ फिल्म की रिलीज के बाद भाग्य करवट लेगा ?गणेशजी कहते हैं कि 9 दिसंबर, 2016 को रिलीज होने वाली फिल्म बेफिक्रे रणवीर के लिए अहम रहेगी। इस दौरान गोचर का मंगल और चंद्र उनके जन्म के शुक्र के साथ त्रिकोण स्थिति में आ जाएंगे। पिछले अगस्त से गोचर के गुरू की इनके जन्म के शुक्र पर दृष्टि पड़ना यह इंगित करता है कि इन्होंने इस फिल्म में वाकई बेहतरीन अभिनय किया है। आलोचकों की राय मानें तो रणवीर ने निश्चित रूप से अपना किरदार अच्छी तरह से निभाया होगा।

दौड़ आसान नहींः ढिलार्इ बरतना घातक साबित हो सकता हैइंसान के लिए बिंदास होना अच्छी बात है, पर आत्मसंतुष्टि कभी-कभी घातक सिद्धि हो सकती है। 26 जनवरी, 2017 से शनि का महत्वपूर्ण भावों से पारगमन करना और लगभग ढ़ार्इ सालों तक कुंडली के प्रमुख ग्रहों पर दृष्टि डालना उनके कैरियर के लिहाज से काफी अहम कहा जा सकता है। इस दौरान रणवीर को लक्ष्य के प्रति अपना ध्यान केन्द्रित रखना होगा और ये सुनिश्चित करना होगा कि उनकी तरफ से प्रयासों में कोर्इ कमी ना हो।

विवादों में फंसने की आशंका ?इसके अलावा, अगस्त 2017 के बाद रणवीर को अपनी मजाकिया हरकतों पर काबू रखना होगा। जन्म के सूर्य व मंगल पर शनि तथा जन्म के बुध व गुरू पर राहु-केतु का संयुक्त प्रभाव क्रमशः विवादास्पद स्थितियां उत्पन्न कर सकता है।

गणेशजी का निष्कर्षः अंत में गणेशजी बताते हैं कि रणवीर अपने कैरियर में अच्छा प्रदर्शन करेंगे, लेकिन कुछ उतार-चढ़ाव आने की भी संभावना है। वर्तमान ग्रहों के साथ अागामी ग्रहों के रूझान को देखते हुए गणेशजी रणवीर को सतर्क रहने और फिल्म ‘बेफिक्रे’ की ओर से बेफिक्र रहने की सलाह देते हैं। अब ये देखना बड़ा ही दिलचस्प रहेगा कि अपनी चुस्ती-फुर्ती के लिए मशहूर रणवीर जब शनि की दशा से गुजरेंगे तो वे इस परीक्षा को किस तरह पास करेंगे।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
भावेश एन. पट्टनी
और आदित्य सांर्इंगणेशास्पीक्स डाॅटकाॅम टीम

सूर्य राशि के साथ अपने व्यक्तित्व और अपने विशेषताआें के बारे में जानें, वो भी बिल्कुल मुफ्त !