फरहान अख्तर – कठिन समय में अपने टैलेंट के बूते पर प्रगति करेंगे ! - GaneshaSpeaks
https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

फरहान अख्तर – कठिन समय में अपने टैलेंट के बूते पर प्रगति करेंगे !

फरहान अख्तर – कठिन समय में अपने टैलेंट के बूते पर प्रगति करेंगे !

सिनेजगत का ज्ञान माता-पिता से जन्म से ही हासिल करने वाले बॉलीवड में एक सफल डायरेक्टर अभिनेता, प्रोड्यूसर, स्क्रिप्ट राइटर, प्लेबैक सिंगर और टीवी होस्ट जैसे मल्टी टैलेंट के बल पर अपना एक अलग ही प्रशंसक वर्ग बनाने वाले फरहान अख्तर (Farhan Akhtar) के विषय में ज्यादा बताने की जरूरत नहीं है। कारण यह है कि रूपहले पर्दे पर आज उनका काम बोल रहा है। “भाग मिल्खा भाग”, “रॉक ऑन!!”, “जिंदगी ना मिलेगी” दोबारा जैसी फिल्मों में एक अभिनेता के रूप में और “दिल चाहता है”, “डॉन”, “वजीर” और “लखनऊ सेंट्रल” इत्यादि फिल्मों में डायरेक्टर के रुप में अपनी प्रतिभा का परिचय दिया है। 9 जनवरी को फरहान का जन्मदिन होने से उनकी कुंडली का अध्ययन करके गणेश जी उनके भावी भविष्य के विषय में यहां अपने विचार प्रकट कर रहे हैं। आइये देखें-

फरहान अख्तर
जन्म तारीख: 9 जनवरी 1974
जन्म स्थान: मुंबई, भारत

फरहान अख्तर की सूर्य कुंडली
kundali

हमारे अनुभवी दैवज्ञों से अपनी जन्मकुण्डली तैयार करवाएं।

क्या संकेत करते हैं जन्मकालीन ग्रह?
सूर्य कुंडली के अनुसार, बॉलीवुड फिल्मेकर फरहान अख्तर का जन्म धनु लग्न में हो रहा है। लग्नेश गुरु दूसरे स्थान और मकर राशि में कुमार अवस्था में है। लाभेश शुक्र और गुरु की युति बनती है। लग्न स्थान में सूर्य, बुध और बुध इन तीन ग्रहों की युति है। जहां सूर्य भाग्येश है वहीं बुध सप्तमेश और कर्मेश है। इसके उपरांत, सप्तम स्थान में शनि और केतु की युति है। मंगल पंचम स्थान पर और चंद्र अष्टम स्थान पर स्वगृही है।

ग्रहों की स्थितियों का आकलन करने पर ज्ञात होता है कि चंद्र इनको एक दृढ़ मनोबल प्रदान करता है। चंद्र और शुक्र की प्रतियुति और गुरू व शुक्र की युति इनको अपने क्षेत्र में विलक्षण प्रतिभा प्रदान कर रही है। इसके अलावा, पंचम स्थान परफॉरमेन्स का स्थान है जो कि सिनेजगत के लिए काफी महत्व का स्थान माना जाता है। मंगल के प्रभाव से अप्रतिम ऊर्जा के साथ अपने काम पूरा करने में सक्षम हैं। कलाक्षेत्र में कौशल इनको अपने पिता पटकथा लेखक जावेद अख्तर और माता हनी ईरानी की ओर से विरासत में मिली है। इस लेख में की गई भविष्यवाणियां फरहान अख्तर के जन्मदिन की सूर्य कुंडली के अनुसार हैं। क्या आप अपनी भविष्यवाणी जानना चाहते हैं? यदि हां, तो अपनी जन्मदिन रिपोर्ट खरीदें और स्पष्टता प्राप्त करें!

गोचर के ग्रहों पर एक नजर
आकाश मंडल के गोचर ग्रहों की मूवमेंट्स को देखें तो फरहान अख्तर की कुंडली में कर्क राशि से चौथे स्थान पर गोचर के गुरु का भ्रमण तुला राशि में हो रहा है। यह दिनांक12-10-2018 तक वहीं रहेगा। इसके पश्चात यह गुरु वृश्चिक राशि में चला जाएगा। जन्मकालीन चंद्र पर से गोचर का राहु का प्रसार और दूसरे स्थान के शुक्र और गुरु के ऊपर से गोचर के केतु का प्रसार हो रहा है। लग्न स्थान से सूर्य, शनि, शुक्र और बुध का भ्रमण हो रहा है। और तो और जन्म के चंद्र से चौथे स्थान में तुला राशि में मंगल का भ्रमण होता है जो 17-1-2018 के रोज वृश्चिक राशि में और 7-3-2018 से धन राशि में प्रवेश करेगा। इसके बाद 3-5-2018 से मकर राशि में केतु के साथ युति में आ जाएगा जो 185 दिनों तक साथ में रहेगा। आगामी वर्ष में अपनी आर्थिक स्थिति जानने के लिए देखें हमारी नि: शुल्क 2018 वित्त रिपोर्ट पाएं और धन संबंधी चिंता से हो जाए मुक्त !

आगामी वर्ष कैसा रहेगा?
ज्योतिषीय दृष्टि से ग्रहों की स्थिति और उनके प्रभावों को देखकर एेसा प्रतीत होता है कि आगामी वर्ष फरहान अख्तर के लिए संघर्षपूर्ण हो सकता है। प्रस्तुत कुंडली में जन्म के चंद्र से छठें स्थान में सूर्य व राहु है जिन पर से गोचर के शनि का प्रसार हो रहा है। धन राशि का शनि 3-3-2018 तक अशुभ और 3-3-2018से लेकर 3-5-2018 तक मध्यम फल प्रदान करेगा। तारीख 6-6-2018से लेकर 28-11-2018 इसका फल अशुभ फल रहेगा। इसके बाद यानी दिनांक 29-11-2018 से यह पुनः अपना शुभ फल देने में समर्थ हो जाएगा। तुला राशि का गुरु दिनांक12-10-2018 तक पब्लिक लाइफ में फरहान के लिए शुभ परिणाम लाएगा। दिनांक 17-1-2018 तक तुला राशि का मंगल शुभ फल तथा दिनांक 17-1-2018से लेकर 7-3-2018 की अवधि तक वृश्चिक राशि का स्वगृही मंगल इन्हें आर्थिक लाभ पहुंचाएगा। इस समय के दौरान फरहान अख्तर कुछ नवीन रचनात्मक कार्य करेंगे जिसके बल पर उनको नए-नए अवसर भी मिलेंगे। इसके पश्चात 7-3-2018से लेकर 2-5-2018 की अवधि में धन राशि का मंगल इनकी लाइफ में संघर्ष पैदा करने में अपनी भूमिका निभा सकता है। इसके पश्चात यानी 3-5-2018 से लेकर 6-11-2018 के समयकाल में मकर राशि में सेनापति मंगल और छायाग्रह केतु की युति बन रही है जो सामान्य रूप से तो ठीकठाक लगती है, पर ज्योतिषीय नजरिए से पूरी तरह नहीं। इस प्रकार से विचार करें तो होने वाली प्रगति संभावित प्रगति से कहीं ज्यादा कम हो सकती है। कुल मिलाकर, यही कहा जाएगा कि फरहान अख्तर आगामी अवधि में अपने क्षेत्र में कुछ विलक्षण प्रतिभा का परिचय देते हुए ख्याति बटोरेंगे और विकास के पथ पर आगे बढ़ेंगे। साथ ही इनकों अशुभ ग्रहों के कारण उत्पन्न होने वाली प्रतिकूल स्थितियों से निपटने के लिए भी हर तरह से तैयार रहना होगा। हालांकि, इस दौरान फरहान अख्तर कठिन समय में अपने टैलेंट के बूते पर प्रगति करेंगे। गणेश जी फरहान अख्तर के जीवन में उतार-चढ़ाव रहने की भविष्यवाणी कर रहे हैं।

गणेश जी के आर्शीवाद से,
प्रकाश पंड्या
गणेशास्पीक्स.कॉम टीम

अपने जीवन की व्यक्तिगत समस्याओं का वैदिक ज्योतिष (Vedic Jyotish) के माध्यम से समाधान प्राप्त करने हेतु हमारे भविष्यवक्ता से बात करें!

Follow Us