https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

आने वाले समय में कैसा रहेगा शेयर बाजार, पढ़िए ज्योतिषीय विश्लेषण

आने वाले समय में कैसा रहेगा शेयर बाजार, पढ़िए ज्योतिषीय विश्लेषण

गणेश ने पिछले लेख में शेयर बाजार पर एक ज्योतिषीय लेख लिखते हुए कहा था कि शेयर बाजार को आने वाले दिनों में कुछ नए सुधारों को स्वीकार करना होगा। फेड ने शेयर बाजार की दहशत को दूर करने की उम्मीद में ब्याज दरों में 0.75% की कमी की है। एशियाई और यूरोपीय बाजारों में भी गिरावट जारी रही। गणेश इस शेयर बाजार में गिरावट के ज्योतिषीय पहलुओं पर प्रकाश डालना चाहेंगे।

आपके जीवन में होने वाली सभी घटनाओं को जन्मपत्री के माध्यम से जानिए…

share market का तकनीकी और ज्योतिषीय विश्लेषण

वृषभ लग्न और दूसरे भाव में चन्द्रमा की वक्री मंगल के साथ युति के कारण शेयर बाजार में पहली गिरावट आई। मकर राशि में बुध ने सूर्य के साथ युति की। ऐसे में नेपच्यून आपके आत्मविश्वास को नष्ट कर सकता है, या फिर यह आपको कल्पना और विचारों के स्वप्नलोक में भटका सकता है। प्लूटो की गति को देखते हुए हम कह सकते हैं कि आने वाले कुछ दिनों में स्थितियां बड़ी विकट होने वाली हैं। ऐसे में हम स्पष्ट तौर पर देख सकते हैं कि सेंसेक्स ने 21,206 (सर्वकालिक उच्च) के अंक पर पहुंच कर एकदम से “यू” टर्न ले लिया था।

इसी तरह की एक अन्य घटना कुंभ लग्न में राहु के गोचर के कारण हुई। बृहस्पति और शुक्र को शेयर मार्केट का कारक माना गया है। इनकी युति के समय मार्केट में मंदी थी। प्लूटो अधिक से अधिक शक्ति चाहता है तथा अपने रास्ते में आने वाली ऐसी सभी चीजों को नष्ट कर देता है जो हमारे ओवरऑल विकास में मदद नहीं करती हैं। प्लूटो अक्सर अपनी अधिकाधिक ताकत के कारण जीवन में झटके देता है, इसे अनुकूल बनाने और इसके अनुरूप ढलने के लिए हमें खुद को बदलना होता है और इसकी ताकत के साथ तालमेल बिठाना सीखना होता है। केतु के साथ सिंह राशि में शनि की युति हमें आने वाले समय का संकेत देती है। इससे हमें स्पष्ट तौर पर यह संदेश मिलता है कि आने वाले समय में हम अपनी सीमाओं का, अपनी मर्यादा का ध्यान रखें। यदि हम ऐसा नहीं करेंगे तो हमें उसके लिए कष्ट उठाने होंगे।

सरकारें चाहती हैं कि हम पैसा खर्च करते रहें, ताकि इकोनॉमी में ग्रोथ होती रहे। परन्तु कोई भी चीज हमेशा के लिए बढ़ती नहीं रह सकती। हम अभी मंदी के दौरा में हैं। बाजार स्वभाव से ही एक सर्किल में चलता है। अत: सिंह राशि में शनि की युति संकेत देती है कि अधिक खर्च से बचना और बचत करना इस समय सर्वोत्तम है। आने वाले कुछ समय के बाद बाजार एक बार फिर स्थिर हो आगे की ओर बढ़ेगा।

share market में आगे क्या होगा

गणेश कहते हैं कि अगले दो हफ्तों में बाजार को भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है। फरवरी की दूसरी तिमाही के बाद बाजार स्थिर रहने की संभावनाएं है और फिर एक बड़े सुधार के साथ बाजार नई ऊंचाईओं को छू सकता है। इसलिए गणेशजी आपको सलाह देते हैं कि घबराएं नहीं, शांत रहें। निवेशकों को नुकसान नहीं उठाना पड़ सकता है, हालांकि, इंट्राडे और एफएंडओ व्यापारियों को फरवरी की दूसरी तिमाही तक अतिरिक्त सावधान रहने की आवश्यकता है।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
भावेश एन पट्टनी
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम