https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

क्या Bitcoin विश्व अर्थव्यवस्था के लिए एक क्रांतिकारी कदम साबित होगी ?

बिटकॉइन

क्या आप ई-मुद्रा – Bitcoin की कीमत को जानना चाहते हैं? तो ये जानकारी आपके लिए हैः
1 Bitcoin बराबर होती है = 64,996.79 रु औसत मूल्य
1 Bitcoin बराबर होती है = 945,99 अमेरिकी डालर

दुनिया में इनोवेटिव डिजीटल करंसी – बिटकॉइन (Bitcoin) की लोकप्रियता दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। यह एक एेसी वर्चुअल करेंसी है जिसे सॉफ्टवेयर डेवलपर के एक ग्रुप-सतोषी नाकामोतो ने डेवलेप किया था। यह एक एेसा शानदार पीयर-टू-पीयर-नेटवर्क है जहां उपयोगकर्ताओं के बीच फाइनैंशियल ट्रांजैक्‍शन सीधे तौर पर हो सकता है। इन ऑनलाइन भुगतान यानी ट्रांसक्शन्स की पुष्टि कंप्यूटर से जुड़े नेटवर्क नोड्स करते हैं जो blockchain ( डिजिटल हस्तांतरण लॉग) में इन जानकारियों का रिकॉर्ड रखते हैं। हैकिंग के खतरे से बचने के लिए इसमें कोडिंग की भाषा cryptography का यूज किया जाता है। Bitcoin एक तरह की स्वतंत्र मुद्रा है जिस पर किसी भी देश या संस्था का अधिकार नहीं होता। लेकिन कुछ ट्रेडर्स के अनुसार इसमें साइबर फ्रॉड के खतरे को देखते हुए इसमें बहुत ज्यादा रूचि नहीं दिखा रहे हैं। बिटकॉइन के लिए साल 2017 कैसा रहगा? चलिए गणेशजी से इसके भविष्य के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं।

3 जनवरी, 2009 को ओपन-सोर्स सॉफ्टवेयर के रूप में इस मुद्रा की शुरूआत हुई
स्थान- डबलिन, आयरलैंड
बिटकॉइन की सूर्य कुंडली

kundali

हमारे विशेषज्ञों द्वारा अपनी हस्तलिखित जन्मपत्री पाएं

ग्रहों की तस्वीरें:
गणेश के दृष्टिकोण के अनुसार डिजिटल क्रिप्टोकरेंसी-बिटकॉइन की सूर्य कुंडली में फाइनेंस से संबंधित दूसरे भाव में गुरू-राहु चांडाल दोष का निर्माण हो रहा है। इसके अलावा, बुध राहु के साथ युति में है जिससे पूरी तस्वीर काफी रहस्यमयी बन जाती है। सूर्य और मंगल कुंडली में इकट्ठा बैठे हैं जो एक बेहद आक्रामक और स्वतंत्र ढंग से कामकाज के होने को दर्शा रहे हैं। जिस तरह से इस आर्गेनाईजेशन ने बड़े ही सुनियोजित ढंग से 15, 285 और 225 बिटकॉइंस जारी किये हैं उसी से इस तथ्य की पुष्टि हो जाती है।

बिटकॉइन का भविष्य
विश्व के पहले ओपन पेमेंट नेटवर्क- बिटकॉइन के फाइंडेशन चार्ट में काल-सर्प दोष के होने से ये किसी प्रकार के विवादों में उलझ सकती है। वर्तमान में चल रहा राहु-केतु और शनि का गोचर कई तरह का कॉम्प्लीकेशन्स पैदा कर सकता है। 12 सितंबर, 2017 के बाद ऑनलाइन मुद्रा Bitcoin की कीमतों में कोई बड़ा उतार-चढ़ाव होने की आशंका है। मूल रूप से यह परिवर्तन मात्रा और मूल्य को लेकर हो सकते हैं।

उक्त ग्रहों के प्रभाव के कारण, लोगों का विश्वास इस डिसेंट्रलाइज़ड डिजिटल करेंसी सिस्टम के कंसेप्ट से उचटने का अंदेशा है। नतीजतन, लोगों का विश्वास इस मुद्रा प्रणाली पर घट सकता है।

क्या आप जानना चाहते हैं कि 2017 में आपके सितारे आपके फाइनेंस के बार में क्या इंगित कर रहे हैं? तो हमारी 2017 वित्त रिपोर्ट के जरिए अपनी वित्तीय समस्याओं का समाधान पाकर दिमागी सुकून व शांति हासिल करें।

कानूनी समस्याएं और उलझनें
26 अक्टूबर, 2017 तक शनिदेव इसकी कुंडली के जन्म के सूर्य और मंगल के ऊपर से भ्रमण करते हुए वक्री-मार्गी गति करेंगे। इससे इसको कानूनी समस्याएं हो सकती हैं। ग्रहों के कुप्रभाव से विश्व के कुछ देश इस करंसी पर कड़े रेगुलेशन्स यानी कि सख्त नियम लागू कर सकते हैं। गणेशजी का विचार है कि धनु राशि में से होने वाला शनि का गोचर इसके लिए काफी चुनौतियां पैदा कर सकता है।

संक्षेप में:
साइबर करेंसी बिटकॉइन की कुंडली का भलीभांति अध्ययन करने पर गणेशजी को लगता है कि बिटकॉइन का फ्यूचर काफी अनिश्चित और जोखिम भरा हो सकता है। अच्छा यही होगा कि इसके सिस्टम में काफी सावधानी बरती जाये जिससे कि ऑनलाइन भुगतान का यह जरिया लोगों के लिए अधिक फायदेमंद और सुरक्षित बना रहे।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
तन्मय के ठाकर
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

Follow Us