https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

वृषभ राशि में शुक्र का गोचर 2018: पढ़ें 12 राशियों पर इसके भ्रमण का प्रभाव

वृषभ राशि में शुक्र का गोचर 2018

वृषभ राशि में शुक्र के गोचर की तिथि

शुक्र गोचर मेष राशि से वृषभ राशि में शुरु: 20 अप्रैल 2018 (02:10 बजे, मध्य रात्रि)

इस भ्रमण की समाप्ति: 14 मई 2018 (20:47, सायं)

भारतीय पंचाग के मुताबिक वृषभ राशि में शुक्र ग्रह सबसे पहले कृतिका नक्षत्र में दिनांक 20 अप्रैल से 28 अप्रैल 2018 तक भ्रमण करेगा। उसके बाद यही शुक्र 28 अप्रैल से 9 मई 2018 तक रोहिणी नक्षत्र में भ्रमण करेगा। अपने भ्रमण के अंत में यह शुक्र दिनांक 9 मई 2018 से 14 मई 2018 तक मृगशीर्ष नक्षत्र से होकर चलायमान रहेगा।

शुक्र ग्रह क्या है?

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शुक्र देव दानवों के गुरु हैं। इंसान को जीने की कला शुक्र ही सिखाता है। सच पूछो तो शुक्र यानी जिंदगी जीने का असली आनंद। आपकी कुंडली में शुक्र ग्रह मुख्य रूप से कला, साहित्य, सुंदरता, जीवन की खुशी, वैभवशाली जीवन शैली, मौजमस्ती और भोग-विलास का कारक है। जिस जातक की कुंडली में शुक्र निर्बल होता है उसके जीवन में समझ लो परेशानी ही परेशानी। शुक्र 12 भाव में अपने भ्रमण के दौरान हर राशि के ऊपर अपना शुभाशुभ असर छोड़ेगा।

(कृपया ध्यान दें: इन भविष्यवाणियों को चंद्र राशि के अनुसार दिया गया है। परन्तु, कुछ प्रभावों को लग्न राशि से भी देखा जा सकेंगा। यदि आप अपनी लग्न राशि जानना चाहते हैं, तो कृपया यहां क्लिक करें।)

प्रस्तुत लेख से जानिये राशि चक्र की 12 राशियों पर पड़ने वाले शुक्र भ्रमण का प्रभाव कैसा रहेगा।

शुक्र का मेष राशि में गोचर

मेष राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र दूसरे और 7वें भाव का स्वामी (धनेश एवं सप्तमेश) होकर कुंडली के धन स्थान कहे जाने वाले दूसरे भाव से भ्रमण करेगा। मेष राशि के लिए शुक्र आय एवं पारिवारिक चीजों में अच्छा फल देगा। दांपत्य जीवन, निजी जीवन एवं साझेदारी के संबंध में मधुरता रहेगी। मेष राशि के जातकों के लिए आय, पारिवारिक एवं दांपत्य जीवन, निजी जीवन, सार्वजनिक जीवन एवं साझेदारों से संबंधित कामकाजों में दिनांक 20 अप्रैल से 28 मई 2018 तक नकारात्मक प्रभाव तथा दिनांक 9 मई से 14 मई 2018 तक शुभ फल देगा।

क्या आप अपने कैरियर से असंतुष्ट महसूस कर रहे हैं? सकारात्मक बदलाव के लिए हमारे विशेषज्ञों से सटीक मार्गदर्शन प्राप्त करें।

शुक्र का वृषभ राशि में गोचर

शुक्र वृषभ राशि में पहले व 6वें भाव का स्वामी (लग्नेश एवं षष्ठेश) होकर पहले भाव (लग्न स्थान) में से भ्रमण करता है। वृषभ राशि के ये जातकों को यह शुक्र शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूती देगा। नौकरी करने वाले जातकों की नौकरी में इन्क्रीमेंट और प्रमोशन दोनों मिल सकता है। आपके दुश्मन आप पर हावी नहीं हो पाएंगे। नौकरी में अनुकल समय है। शारीरिक तौर पर आप मजबूत रहेंगे। वृषभ राशि के जातकों के लिए शारीरिक एवं मानसिक स्थिति, नौकरी, व्यवसाय, रोग, शत्रु, नौकर-चाकर आदि सभी मामलों में दिनांक 20 से 28 अप्रैल 2018 एवं 28 अप्रैल से 9 मई 2018 का समय मध्यम तथा दिनांक 9 मई लेकर 14-5-2018 का समय श्रेष्ठ एवं बढ़िया फल देगा।

क्या आप अपनी नौकरी बदलने की योजना बना रहे हैं? क्या आपने सोचा कि क्या यह सही फैसला है या नहीं? अनुभवी ज्योतिषी लोगों की मदद से सभी समस्या को समाप्त करें।

शुक्र का मिथुन राशि में गोचर

मिथुन राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र 5वें और 12वें भाव का स्वामी ( पंचमेश एवं व्ययेश) होकर 12वें भाव से होकर भ्रमण करेगा। मिथुन राशि वाले जातकों के लिए अकस्मात धार्मिक मुसाफिरी एवं खर्च की स्थितियां पैदा होंगी। प्रेम संवाद में उन्नति के मौके आएंगे। संतान के मामलों में अनुकूलता रहेगी। मिथुन राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र प्रेम, विद्याभ्यास, संतान, शेयर-सट्टे, खेल-कूद, धर्म-कर्म व खर्च आदि के मामलों में दिनांक 20 से 28 अप्रैल 2018 और दिनांक 28 अप्रैल से 9-5-2018 के दौरान मध्यम तथा दिनांक 8मई से लेकर 14 मई 2018 तक उत्तम एवं श्रेष्ठ मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

क्या आप अपनी नौकरी में प्रगति से नाखुश हैं? हम बताएंगे कि आप सकारात्मक परिणाम कैसे प्राप्त कर सकते हैं।

शुक्र का कर्क राशि में गोचर

कर्क राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र चौथे और 11वें भाव का स्वामी (सुखेश एवं लाभेश) होकर कुंडली के 11वें स्थान यानी लाभ स्थान से भ्रमण करेगा। कर्क राशि के जातकों को वृषभ राशि का शुक्र स्थायी मिल्कियतों, वाहन, उच्च शिक्षा, माता, बड़े भाई-बहनों , मित्रों एवं आय के मामले में शुभ फल देगा। यह ग्रह जातकों को स्थायी संपत्तियों, माता, वाहन, उच्च शिक्षा, बड़े उम्र के भाई-बहनों, दोस्त-यारों और आय इत्यादि में दिनांक 20 अप्रैल 2018 से 28 अप्रैल 2018 एवं 28 अप्रैल से लेकर 9 मई 2018 तक मध्यम फल तथा 9मई2018 लेकर 14 मई 2018 तक श्रेष्ठ एवं उत्तम फल प्रदान करेगा।

क्या जानना चाहते हैं कि नौकरी में अभी बदलाव किया जा सकता है कि नहीं? हमारे ज्योतिषियों से पूर्ण स्पष्टता प्राप्त करने के लिए यहां क्लिक करें।

शुक्र का सिंह राशि में गोचर

सिंह राशि के जातकों के लिए वृष राशि का शुक्र तीसरे और 10वें भाव का स्वामी (पराक्रमेश एवं कर्मेश) होकर कर्म स्थान कहे जाने वाले 10वें भाव से भ्रमण करेगा। वृषभ राशि का शुक्र सिंह राशि के जातकों को छोटे भाई-बहनो, मित्रों, व्यवसाय, पिता और सत्ता सहित सभी मामलों में श्रेष्ठ परिणाम देगा। यह शुक्र छोटे भाई-बहन, मित्रों, व्यवसाय, पिता, सत्ता जैसे मामलों में दिनांक 20 अप्रैल 2018 से 28 अप्रैल 2018 एवं दिनांक 28 अप्रैल से 9 मई 2018 तक मध्यम तथा दिनांक 9 मई 2018 से 14मई 2018 के समय श्रेष्ठ फल देगा।

क्या आप जानना चाहते हैं कि आप शादी कब करेंगे? हमारे पंडितों से सटीक अवधि प्राप्त करें।

शुक्र का कन्या राशि में गोचर

कन्या राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र 9वें स्थान (भाग्य स्थान) में से भ्रमण करेगा। कन्या राशि के जातकों को राक्षसों का गुरु शुक्रदेव धन, परिवार, यात्रा, साला-साली, ननद-देवर, भाग्यवृद्धि इत्यादि के मामलों में शुभ फल देगा। वृषभ का शुक्र इस प्रकार के कामों में दिनांक 20 अप्रैल से लेकर 28 अप्रैल 2018 और 28 अप्रैल से लेकर 9 मई 2018 तक मध्यम तथा 9 मई से लेकर 14 मई 2018 तक के समय में बढ़िया फल देगा।

क्या आप अपने करियर में बड़ी जटिलताओं का सामना कर रहे हैं? बड़े और शुभ बदलाव के लिए हमारे ज्योतिषों से परामर्श प्राप्त करें।

शुक्र का तुला राशि में गोचर

तुला राशि के जातकों के लिए शुक्र पारमगन पहले और 8वें भाव में से होगा। शुक्र आठवें भाव और पहले भाव से गुजरते हुए यह शुक्र शारीरिक एवं मानसिक स्थितियों, पुश्तैनी मिल्कियतों और आयु के मामलों में मध्यम परिणाम देगा। यह शुक्र ग्रह शारीरिक एवं मानसिक मोर्चे, आयुष्य और पुरखों की संपत्ति के मामलों में दिनांक 20 से 28 अप्रैल 2018 और 28 अप्रैल से 9 मई 2018 तक मध्यम तथा 9 मई 2018 से 14 मई 2018 तक के दौरान बेहतरीन फल देकर जाएगा।

क्या आप अपनी नौकरी में प्रगति से नाखुश हैं? यहां से जानें कि आप अच्छे परिणाम कैसे प्राप्त कर सकते हैं।

शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र 7वें और 12वें भाव का स्वामी (सप्तमेश एवं व्ययेश) होकर सप्तम भाव में से भ्रमण करता है। वृषभ राशि में शुक्र का गोचर 2018, वृश्चिक राशि वालों के लिए वैवाहिक जीवन,निजी जीवन, पब्लिक लाइफ, पार्टनरशिप, धार्मिक यात्रा, खर्च बीमारी आदि मामलों में मध्यम फल देगा। यह शुक्र बताई गई सभी चीजों में दिनांक 20 से 28 अप्रैल 2018 और 28 अप्रैल से 09 मई 2018तक मध्यम तथा 9से 14मई 2018 तक के समय के दौरान उत्तम फल देगा।

क्या आप अपनी नौकरी बदलने की योजना बना रहे हैं? क्या आपने सोचा कि क्या यह सही फैसला है या नहीं? अनुभवी पंडित जी की राय से सभी संदेहों को समाप्त करें।

शुक्र का धनु राशि में गोचर

धनु राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र छठें एवं 11वें भाव का स्वामी (षष्ठेश एवं लाभेश) होकर छठे भाव में से भ्रमण करता है। धनु राशि वालों के लिए वृषभ राशि का शुक्र बड़े भाई-बहनों, मित्रों, आय, नौकरी, व्यवसाय, नौकर-चाकर, रोग, शत्रु आदि में दिनांक 20से 28 अप्रैल 2018 एवं 28 अप्रैल 2018 से 9 मई 2018 की अवधि तक मध्यम तथा 9मई से 14मई2018 तक की समयावधि में श्रेष्ठ व उत्तम फल का प्रदाता रहेगा।

जानना चाहते हैं कि आपके लिए सितारे नौकरी में बदलाव के क्या संकेत दे रहे हैं? हमारे ज्योतिषियों से पूर्ण स्पष्टता प्राप्त करने के लिए यहां क्लिक करें।

शुक्र का मकर राशि में गोचर

मकर राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र 5वें व 10वें भाव का स्वामी (पंचमेश एवं कर्मेश) होकर 5वें स्थान से भ्रमण करेगा। यह शुक्र मकर राशि वाले लोगों के लिए प्रेम, विद्याभ्यास, संतान, शेयर-सट्टा, पिता, सत्ता, व्यवसाय आदि के मामलों में मध्यम फल देगा। यह शुक्र इन चीजों में दिनांक 20 अप्रैल से 28 अप्रैल 2018 एवं 28 अप्रैल से 9 मई 2018 तक मध्यम तथा 9मई से लेकर 14 मई 2018 की कालावधि में श्रेष्ठ एवं उत्तम फल का दाता होगा।

क्या आप अपने करियर में बड़ी जटिलताओं का सामना कर रहे हैं? कैरियर में व्यापक परिवर्तन के लिए हमारे दैवज्ञों से सही मार्गदर्शन प्राप्त करें।

शुक्र का कुंभ राशि में गोचर

कुंभ राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र चौथे एवं 9वें भाव का स्वामी होकर (सुखेश एवं भाग्येश) चौथे स्थान से प्रसार होता है। यह शुक्र कुंभ राशि के व्यक्तियों के लिए चल-अचल संपत्तियों, माता, वाहन, उच्च शिक्षा, भाग्यवृद्धि, धार्मिक यात्रा, छोटे साला, साली, ननद-देवर आदि में शुभ परिणाम देगा। इस दृष्टि से 20 अप्रैल 2018 से 28 अप्रैल 2018 और 28 अप्रैल से 9 मई 2018 के दौरान मध्यम फल तथा 9 मई से लेकर 14 मई 2018 तक के दौरान सर्वश्रेष्ठ फल की प्राप्ति होगी।

क्या आप अपनी नौकरी बदलने की प्लानिंग कर रहे हैं? क्या आपको पता है कि आपका यह फैसला सही है या नहीं? ज्योतिषियों के मार्गदर्शन से अपनी सभी चिंता को समाप्त करें।

शुक्र का मीन राशि में गोचर

वृषभ राशि में शुक्र का गोचर2018 अगर हम मीन राशि के संदर्भ में सोचें तो मीन राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का शुक्र तीसरे एवं अष्टम भाव का स्वामी (पराक्रमेश एवं अष्टमेश) होकर तृतीय स्थान से भ्रमण करेगा। यह शुक्र मीन राशि के लोगों को छोटे भाई-बहन, दोस्तों, एक्टिविटी, आयु,वसीयत की संपत्तियों आदि के मसलों में दिनांक 20 अप्रैल से 28 अप्रैल 2018 और 28 अप्रैल 2018 से 09 मई 2018 तथा 09 मई से लेकर 14 मई 2018 तक के समय दौरान अच्छे फलों को प्रदान करेगा।

जानना चाहते हैं कि आपके लिए तारे क्या संकेत देते हैं? नौकरी में बदलाव के संकेत है या नहीं? हमारे ज्योतिषियों से पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां क्लिक करें।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
बिंदुबेन पंड्या
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

आपकी कुंडली में छिपे हैं आपके सवालों के सभी जवाब ! तो क्यों न किसी ज्योतिषी से बात करें और अपनी राह आसान बनाएं।

Follow Us