https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

शुक्र मीन राशि में वक्री 2017: जानें बारह राशियों पर प्रभाव

शुक्र मीन राशि में वक्री 2017: जानें बारह राशियों पर प्रभाव

“अपनी भावनाआें को कभी भी अपने बुद्घि पर हावी ना होने दें।”

शुक्र वक्री की तारीखेंः
वक्री शुक्र अपनी उच्च की राशि मीन में जगह बनाएगा। जो कि 4 मार्च, 2017 से प्रारंभ होगा आैर 15 अप्रेल, 2017 को समाप्त होगा। इसके बाद शुक्र मार्गी होगा। शुक्र अंत में मीन राशि से 31मर्इ, 2017 को निकलेगा।

शुक्र मीन राशि में वक्रीः भावनाआें की कीमत जानने का समय
शुक्र गोचर के तहत प्रत्येक राशि में लगभग 28-30 दिन तक रहता है। हालांकि, वर्तमान में शुक्र का मीन में गोचर 31 मर्इ 2017 तक प्रभावित रहेगा। पिछले कुछ महीनों में किसी एक राशि में शुक्र के पारगमन की ये सबसे लंबी अवधि है। शुक्र 4 मार्च 2017 से 15 अप्रेल 2017 तक वक्री गति में संचालित होगा। वक्री का मतलब ये कि वो अपनी गति धीमी कर देगा आैर विपरित चाल चलेगा। ग्रहों की ये स्थिति दर्शाती है कि इस चरण में आपकी छिपी भावनाएं बाहर आएंगी, जो आपके वर्तमान मूल्यों या निश्चित प्रतिरूप को कुछ नए या अलग तरीके से बदल देगी। तो आइए जानते है शुक्र के वक्री होने से बारह राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगाः

[कृपया ध्यान देंः ये भविष्यवाणियां चंद्र राशि को ध्यान में रखकर की गई हैं। लेकिन, इसका कुछ प्रभाव लग्न राशि वालों पर भी लागू होंगे]

मेष राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र बारहवें भाव में
इस अवधि में मेष राशि के जातक अपव्ययी बन सकते है। आपकी आर्थिक स्थिति को सावधानी से संभालने की जरूरत होगी। पेशेवर, दूसरे लोगों के साथ आपकी बातचीत गलतफहमियां पैदा करने वाली हो सकती है। दूसरे आपको गलत समझ सकते है जो आपके कैरियर पर प्रतिकूल प्रभाव ड़ाल सकता है। अगर आप कला के क्षेत्र से जुड़े है, तो इस अवधि को पार करने में आपको मुश्किलें आ सकती है। अपनी निजी जिंदगी में आप अत्यधिक भावुक बन सकते है जो आपका अपने लक्ष्यों से ध्यान भटका सकता है। इस अवधि में आपकी लव या मैरिड लाइफ आपका ध्यान खींचेगी आैर आपको पूर्व के मसलें सुलझाने पड़ सकते है। अपने स्टेटस काे बढ़ाने के लिए आप विलासिता आैर अपने परिवार की जरूरतों पर खर्च करेंगे।

शुक्र वक्री टिप्सः अपनी प्रतिष्ठा बनाने के लिए आपको अपने नैतिक मूल्यों के साथ समझौता नहीं करना चाहिए।

समृद्घि से संबंधित मार्गदर्शन प्राप्त करें, धन-संपत्ति एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से

वृषभ राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र ग्यारवें भाव में
शुक्र आपकी राशि का कारक है आैर जब आपकी राशि का कारक वक्री चाल चलेगा तो आपकी जिंदगी में महत्वपूर्ण बदलाव होगा। इस चरण में आप अपनी सेहत को लेकर अधिक चिंताशील होंगे। अपने लक्ष्यों के करीब पहुंचने के लिए आप आत्मविकास पर काम करेंगे। ये वो अवधि होगी जब आप भविष्य की योजनाआें के लिए अपनी इच्छाआें पर पुनर्विचार करने में सक्षम होंगे। विद्यार्थी जातकों के लिए ये अवधि प्रलोभन की होगी, जिससे बचने की जरूरत है। हालांकि एेसा करना मुश्किल होगा, लेकिन अपने से बड़ों की मदद आपके लिए सहायक होगी। नौकरी के मोर्चे पर, आप ग्रुप में आैर अलग स्वभाव के लोगों के साथ काम करेंगे, जो जिंदगी में अधिक अव्यवस्था ला सकता है।

शुक्र वक्री टिप्सः लोगों को आैर अच्छे से समझने के लिए आपको उनके साथ अधिक समय बिताना चाहिए ताकि आप उनके वास्तविक स्वभाव को या उनके व्यक्तित्व को बेहतर ढंग से समझ सकें।

निजी जीवन एक प्रश्न पूछें – विस्तृत सलाह से निजी जिंदगी के मसलों का समाधान पाए

मिथुन राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र दशम भाव में
अगर आप यात्रा की योजना बना रहे है तो आपको इस पर दोबारा विचार करने या उसे कुछ दिनों तक टालने की जरूरत हो सकती है। क्यूंकि आप कुछ बाधाआें से गुजर सकते है या आपकी योजना में अचानक बदलाव की स्थिति अा सकती है। निजी जिंदगी में, आप किसी विपरित लिंग के व्यक्ति की आेर आकर्षित हो सकते है, जो आपके काम से आपका ध्यान हटा सकता है। एेसी स्थिति आपके प्रदर्शन में बाधा ड़ाल सकती है, जिससे वित्तीय नुकसान हो सकता है। आपका पूरा फोकस अपनी स्किल को सुधारने आैर अपनी रूचि के क्षेत्र में ज्ञान बढ़ाने पर होगा। दूसरों को अपनी भावनाएं बताने की बजाय आप मशगूल रहने के लिए हाॅबी क्लासेज शुरू करेंगे। अपने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आप अच्छे से पेश आएंगे आैर पिता के साथ आपके संबंध सुधरेंगे। इस अवधि में, आप एेसे लोगों से ज्यादा बातचीत कर सकते है, जो आपके पेशे से जुड़ा होगा।

शुक्र वक्री टिप्सः दूसरों से अच्छा बर्ताव पाने की उम्मीद करने से पहले आपको दूसरों के प्रति अधिक नम्र अौर दयालु होना चाहिए।

अपने रिश्ते के बारे में जानना चाहते है ? तो जवाब पाए संबंध एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से

कर्क राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र नवम भाव में
इस चरण में आप अपनी सभी इच्छाएं आैर लक्ष्य पूरे करने वाले है। आपकी योजनाआें में आपके दोस्त आैर रिश्तेदार आपको सहयोग देंगे। आप अपनी मौजूदा समस्या का समाधान खोजने के लिए वैकल्पिक रास्ते खोजेंगे। लक्ष्य प्राप्ति में आपके गुरू आैर मार्गदर्शक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। आपके अपने प्रियजनों के साथ दीर्घामी यात्रा की योजना बनाने की संभावना है। आप अपने प्रियजनों के साथ सामाजिक बनना पसंद करेंगे आैर परिवार की आेर अधिक ध्यान केन्द्रित करेंगे। जबकि आपका कैरियर आपकी प्राथमिकता सूची में दूसरे स्थान पर होगा। ये वो अवधि होगी जब आप आध्यात्मिक बनेंगे आैर जीवन के प्रति अपने दृष्टिकोण में अधिक दार्शनिक होंगे।

शुक्र वक्री टिप्सः आपको अपने पूरे ग्रुप या टीम की ग्रोथ के बारे में सोचना चाहिए, स्वयं को विकसित करने के लिए आपको अपने दृष्टिकोण को विस्तृत करने की जरूरत है।

अपने प्यार के मसलें का समाधान पाए प्रेम एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से

सिंह राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र आठवें भाव में
अपने कैरियर की संभावनाआें को लेकर आपकी सोच नकारात्मक हो सकती है। आपके पेशे में आकस्मिक या महत्वपूर्ण बदलाव होगा, जिसकी आपने उम्मीद भी नहीं की होगी। आप खुद को कमजोर या असुरक्षित महसूस कर सकते है आैर जिंदगी में किसी भी तरह का जोखिम लेने से डरेंगे। अपने लक्ष्यों की तरफ कार्रवार्इ करने के लिए आपमें साहस की कमी हो सकती है। आपको परिवार के सहयोग की जरूरत होगी। इस समय जीवनसाथी के साथ रिश्ते अस्थिर हो सकते है। यह अनिश्चित होगा कि निजी जिंदगी में जो हालात होंगे उन पर आप कैसी प्रतिक्रिया देंगे। ये निश्चित रूप से आपकी सामाजिक छवि आैर प्रतिष्ठा को प्रभावित करेगा, जो कि आपके लिए निराशाजनक होगा। इस कारण, आप खुद को सबसे पृथक रख सकते है आैर अपनी भावनाएं छुपाने की कोशिश कर सकते है। ये आपकी सेहत पर प्रतिकूल प्रभाव ड़ाल सकता है, एेसे में आपको इस संबंध में सतर्क रहने की जरूरत है।

शुक्र वक्री टिप्सः खुद पर भावनाआें का बोझ लादने की बजाय अगर कोर्इ एेसा व्यक्ति है जिसके साथ आप अपनी भावनाएं साझा कर सकते है, तो एेसा करने की कोशिश करें।

कैरियर के मसलें का समाधान पाए कैरियर एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से

कन्या राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र सातवें भाव में
आपके रिश्तों में समरसता की कमी आ सकती है इस वजह से आप चिड़चिड़ापन महसूस करेंगे आैर दूसरों की बुरार्इ करेंगे। शुक्र के वक्री होने के दौरान आप जिंदगी में क्या बेहतर हो रहा है इस पर ध्यान देने की बजाय, क्या गलत हो रहा है इस पर अधिक ध्यान केन्द्रित करेंगे। एेसा करना आपके लिए ज्यादा परेशानियां खड़ी करेगा आैर इस समय जो व्यक्ति आप को परफेक्ट नहीं लगेगा उसे आप खो सकते है। आपके परिजन आपको लेकर अधिक चिंतित होंगे, लेकिन आपकाे एेसा लग सकता है वे आपके मामले में हस्तक्षेप कर रहे है। जब शुक्र वक्री स्थिति में होगा तब आप हायर स्टडी के बारे में सोच सकते है आैर अपने लक्ष्यों को हासिल करने के लिए दूरस्थ स्थान पर जा सकते है। दूसरों से बातचीत के दौरान आप एक सलाहकार की तरह व्यवहार करेंगे आैर अपने विचार साझा करना चाहेंगे। आपकी वित्तीय स्थिति सुधरेगी आैर आप अपनी प्रोफेशनल जिंदगी में प्रगति हासिल करेंगे। हालांकि आपकी जिंदगी में चीजें स्थिर होगी, लेकिन शुक्र के वक्री होने की अवधि में आप अधूरापन या असंताेष महसूस कर सकते है।

शुक्र वक्री टिप्सः आपको जिंदगी के प्रति अधिक आशावादी आैर सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाने की कोशिश करनी चाहिए।

शादी के बारे में सोच रहे है ? तो विवाह एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से पाए सही मार्गदर्शन

तुला राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र छठें भाव में
शुक्र के वक्री होने की घटना आपको अनावश्यक चीजों को लेकर चिंतित बना सकती है। आपका ध्यान जिंदगी के खोए संतुलन को वापिस लाने पर अधिक होगा। आपको अंततः वैकल्पिक समाधान मिल जाएगा जो आपको मन की शांति तो नहीं देगा लेकिन आप आध्यात्मिकता की आेर अग्रसर हो सकते है। आप सांसारिक जीवन में अधिक आलसी होंगे जिसके कारण कार्यस्थल पर आपका प्रदर्शन प्रभावित हो सकता है। आप अंततः अपनी सेहत को महत्वता दे सकते है। आप नियमित रूप से व्यायाम या योगा करना शुरू करेंगे। शुक्र के वक्री होने की अवधि जिंदगी के लक्ष्यों को पाने के लिए बेहतर साबित होगी। जब आप पहले से कर्इ अधिक खुद पर अधिक ध्यान देंगे तो दूसरों को पर्याप्त समय ना देने पर वे आपके खिलाफ शिकायत करेंगे। शुक्र के मीन राशि में वक्री होने की अवधि में आप ज्यादातर निजी जिंदगी आैर सामाजिक जिंदगी के बीच संतुलन बिठाने में उलझे रहेंगे।

शुक्र वक्री टिप्सः अपने व्यक्तित्व में बदलाव करने के लिए आपको अपनी व्यक्तिगत जिम्मेदारियों से नहीं बचना चाहिए।

कोर्इ भी प्रश्न पूछें आैर त्वरित मार्गदर्शन एवं उपाय पाए

वृश्चिक राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र पंचम भाव में
शुक्र के वक्री होने की अवधि में आपके राज उजागर होंगे। वहीं अतीत के संबंध फिर से संगठित हो सकते है। आपकी शादीशुदा जिंदगी अनिश्चित होगी आैर आप विचारों में कुछ असमानताआें का सामना कर सकते है। जब शुक्र मीन राशि में वक्री होगा तब आप खुद को भावनात्मक रूप से निराश महसूस कर सकते है। साथ ही इस समय आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है, ये वित्तीय नुकसान भी हो सकता है। वक्री शुक्र आपके दैनिक जीवन पर नकारात्मक प्रभाव ड़ाल सकता है। उपरोक्त सभी पहलू रिश्तों के प्रति अापके दृष्टिकोण को बदलने के लिए मजबूर कर सकते है। बल्कि अाप अपने काम या अपनी जिंदगी में अधिक रचनात्मक बनने के बारे में सोच सकते है। शुक्र के मीन राशि में वक्री होने के दौरान आप भावनात्मक रूप से कमजोर होंगे, आप अपनी सारी ऊर्जा अपने कैरियर में लगा सकते है। पढ़ार्इ के प्रति एकाग्रता बढ़ाने के लिए आपको अत्यधिक प्रयास करने की आवश्यकता हो सकती है।

शुक्र वक्री टिप्सः आपको अपनी छवि बदलनी पड़ सकती है ताकि लोग आप पर आसानी से विश्वास कर सकें।

प्रेम एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से पाए प्यार के मसलों का समाधान

धनु राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र चौथे भाव में
शुक्र के वक्री होने की अवधि में आपकी भावनाएं गहरी आैर प्रबल होगी। आपमें एक अंदरूनी इच्छा हो सकती है जिसे पूरा करने के लिए आप साधन तलाशेंगे। कार्यस्थल पर असंतोष व्यक्त करने के लिए आपकी असमर्थता आपके घरेलू जीवन के साथ सामाजिक जिंदगी को भी प्रभावित कर सकती है। आपकी मुलाकात आपके स्कूल के पुराने दोस्तों से होगी, जिनसे बातचीत के दौरान आप पहले जैसी ऊर्जा से भरपूर नजर आएंगे। शुक्र के वक्री होने का प्रभाव ये होगा कि आपके दिमाग में नए विचार आएंगे जो आपके कैरियर के लिए लाभदायी रहेंगे। आप अपने विचारों को अपने बिजनेस, दिनचर्या या घर के मामलों में समाविष्ट कर सकते है। आप अपने घर की डिजाइनिंग में पैसा खर्च करना चाह सकते है। आपकी सेहत सामान्यतः अच्छी रहेगी, हालांकि आपको दिल से जुड़े मामलों को गंभीरता से लेना चाहिए।

शुक्र वक्री टिप्सः आपको अपनी बचत पर ध्यान देने की जरूरत हो सकती है क्यूंकि आप अपनी आमदनी से अधिक खर्च करेंगे।

अपने धन की संभावनाआें के बारे में जानें, धन-संपत्ति से जुड़ा एक प्रश्न पूछें

मकर राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र तीसरे भाव में
शुक्र के मीन राशि में वक्री होने की अवधि में आप छोटी दूरी की यात्राआें पर ध्यान केन्द्रित करेंगे जो कि अचानक बढ़ सकती है। इस समय आप अपने नेटवर्क को बढ़ा सकते है जो कि आपकी निजी जिंदगी के साथ ही पेशेवर जिंदगी के लिए भी अनुकूल रहेगा। आपके अपने क्षेत्र के कुछ महत्वपूर्ण या अत्यधिक बुद्घिजीवी व्यक्तियों से मुलाकात की संभावना है। ये अवधि आपकी लव लाइफ या प्रोफेशनल लाइफ के लिए टर्निंग पाॅइंट साबित हो सकती है। अपने साथी के लिए समय निकालना आपके लिए मुश्किल हो सकता है। हालांकि आप अपने साथी की अपरिचित विशेषता का पता लगाना चाह सकते है। जिसके लिए आपको अपनी तरफ से प्रयास करने की जरूरत हो सकती है क्यूंकि आपका साथी किसी निजी कारण के चलते ये राज आपके सामने नहीं खोलना चाहेगा। आपको प्रोफेशनल कारण के चलते यात्रा करनी पड़ सकती है, जो आपको अच्छा अनुभव देगी।

शुक्र वक्री टिप्सः इस अवधि में आप नए संबंध स्थापित करेंगे, हालांकि आपको अपने पुराने दोस्तों के साथ भी समान प्रगाढ़ता बनाए रखने की जरूरत है।

कैरियर एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से कैरियर टिप्स आैर समाधान पाए

कुंभ राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र दूसरे भाव में
जब शुक्र वक्री होगा तब आप अपनी बातचीत में अधिक नम्र होंगे आैर रिश्तों में समरसता बनाए रखने के लिए अपनी कम्यूनिकेशन स्किल पर काम करना चाहेंगे। अपनी घरेलू जिंदगी में स्थिरता तलाशने के लिए आप हर संभव कोशिश करेंगे। आप अपने वित्त को लेकर अधिक चिंतित होंगे, जो कि अनिश्चित होगा। इस अवधि में आप एेसे व्यक्ति की मदद पा सकते है जिससे आपको मदद पाने की उम्मीद कम है। अपने परिवार आैर मूल्यवान चीजों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आप अक्सर यात्राएं कर सकते है। शुक्र वक्री की अवधि में आपकी मां आपके आकर्षण का केन्द्र होगी। आपके ज्वैलरी पर सबसे ज्यादा पैसा खर्च करने की संभावना है। आपके घर की किसी आैरत के जरिए कमार्इ की संभावनाएं है। इसके जरिए आपको लाभ आैर प्रतिफल मिल सकता है। इस समय आप हायर स्टडी के बारे में सोचेंगे।

शुक्र वक्री टिप्सः हालात थोड़े अव्यवस्थित हो सकते है, लेकिन आपको धैर्य बनाए रखना चाहिए आैर सोच-विचारने के बाद जो चाहे वो काम करें।

बिजनेस एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से बिजनेस के मसलों का समाधान पाए

मीन राशि के लिए शुक्र के वक्री होने का फल

-वक्री शुक्र प्रथम भाव में
शुक्र जब मीन राशि में वक्री होगा तब आप अपनी जिंदगी में कुछ बदलाव ला सकते है, ये वो बदलाव नहीं होंगे जिनकी आप तलाश कर रहे थे लेकिन अंत में, ये वो ही होगा जो आपकी जिंदगी के लिए आवश्यक है। भार्इ-बहिनों के साथ आपके संबंध सुधरेंगे आैर जो आपके फोकस के मूल क्षेत्र होंगे। आपके आसपास के माहौल में बदलाव आने की संभावना है, जो ज्यादातर आपके पक्ष में होगा। ये आपके निजी विकास के लिए लाभदायी रहेगा। जब वक्री शुक्र प्रभाव दिखाएगा तब आप अपने हित के लिए अधिक आकर्षक बनने पर ध्यान दे सकते है। बल्कि इससे आपकी सेहत की स्थिति में सुधार हो सकता है। वक्री शुक्र आपका ध्यान जिंदगी के नकारात्मक पहलू से हटाएगा। आप अधिक सकारात्मक बनने की कोशिश करेंगे आैर चीजों के सामान्य होने का दावा करेंगे।

शुक्र वक्री टिप्सः आपको बदलाव के लिए यथार्थवादी कदम उठाने की जरूरत है आैर खुद को लेकर अधिक वास्तविक दृष्टिकोण रखें।

अपनी जन्मकुंडली के विश्लेषण के साथ खुद से जुड़े दिलचस्प पहलूआें के बारे में जानें

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
आकांक्षा झुनझुनवाला
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

Follow Us