https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

वलयाकार सूर्य ग्रहणः आपके लिए अच्छा है या बुरा?

वलयाकार सूर्य ग्रहणः आपके लिए अच्छा है या बुरा?

इस वर्ष में वलयाकार सूर्यग्रहण तारीख 26/02/2017 के दिन यानी रविवार को कुंभ राशि अाैर शतभिषा नक्षत्र में पड़ेगा। हालांकि ये आंशिक ग्रहण होगा जो कि भारत में नजर नहीं आएगा, एेसे में इस दिन धार्मिक गतिविधियों का अनुसरण करना अावश्यक नहीं होगा। पूर्ण सूर्यग्रहण दक्षिण अमेरिका, अटलांटिक महासागर, अफ्रीका आैर अंटार्कटिका के दक्षिणी क्षेत्रों में दिखार्इ देगा। तो आइए सूर्य ग्रहण से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें जानते हैः

महत्वपूर्ण समय
सूर्य ग्रहण 2017 घंटे मिनट सेकेंड
ग्रहण प्रारंभ 17 40 33
अधिकतम ग्रहण 20 23 10
ग्रहण समाप्ति 23 05 16
ग्रहण संमिलन 18 45 12
ग्रहण विच्छेद 22 01 21
अन्य जानकारियां
एक्लिप्स मैक्नीट्यूड 0.992
ग्रहण की कुल अवधि 44 seconds

जातकों की जन्म राशि के अनुसार सूर्य ग्रहण के अनुकूल आैर प्रतिकूल प्रभाव:- ज्योतिष के अनुसार यह सूर्य ग्रहण उन जातकों के लिए प्रतिकूल माना जाएगा जब यह घटना जातक की कुंडली के पहले, चौथे, आठवें या बारहवें भाव में घटित होगी। जबकि कुंडली के तीसरे, छठें, दसवें आैर ग्यारवें भाव में होने वाली ये घटना जातक को लाभदायी परिणाम देगी। वहीं दूसरे, पांचवें, सातवें आैर नौवें भाव में घटित होने वाली ये घटना मिश्रित फल प्रदान करेगी।

राशि सूर्य ग्रहण का प्रभाव
कर्क, वृश्चिक, कुंभ, मीन प्रतिकूल परिणाम
धनु, कन्या, वृषभ, मेष अनुकूल परिणाम
मिथुन, सिंह, तुला, मकर मिश्रित परिणाम

[कृपया नोट करें- इन भविष्यवाणियों को चंद्र राशि के अनुसार समझें। पर इसके कुछ प्रभाव लग्न राशि के आधार पर लागू होंगे]

विभिन्न राशियों के लिए सूर्य ग्रहण का प्रभाव इस प्रकार होगा :-

मेष राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:

– ग्यारहवें भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
मेष राशि के जातकों की कुंडली में ये ग्रहण ग्यारवें भाव को प्रभावित करेगा, जो कि अनुकूल रहेगा। दोस्तों के जरिए आकस्मिक लाभ आैर वित्तीय फायदे मिलने की संभावना नजर आ रही है। वहीं, बड़े भार्इ-बहिनों के साथ रिश्ते सामंजस्यपूर्ण रहेंगे आैर आप उनके साथ अधिक घनिष्ठता बनाए रख सकते हैं। सूर्य ग्रहण के बाद आप अपने सपनों को साकार करने की दिशा में आगे बढ़ सकते हैं।

हालांकि, चीजें काफी सकारात्मक रहेंगी, परंतु फिर भी आपको वित्त से संबंधित मामलों में सावधान रहना होगा। आपको अप्रत्याशित नुकसान या बड़े खर्च उठाने पड़ सकते हैं। इसके अलावा, वांछित परिणाम नहीं प्राप्त हो पाने के अंदेशे को देखते हुए आपको स्पेकुलेशन या शेयर बाजार से दूर रहने की सलाह दी जाती है।

निजी जीवन में व्यक्तिगत मुद्दों के समाधान के लिए उपचारात्मक समाधान पाएं।

वृषभ राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
– दसवें भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
वृषभ राशि के जातकों की कुंडली में सूर्य ग्रहण की ये घटना दसवें भाव में होगी, जो कि लाभकारी रहेगी। पिता से लाभ मिलने की संभावना है। वहीं आपको नौकरी या व्यापार में अप्रत्याशित आैर महत्वपूर्ण लाभ मिल सकता है। जो लोग सामाजिक क्षेत्र जैसे सामाजिक कार्यों आैर राजनीति में सक्रिय है, उन्हें बेहतरीन अवसर प्राप्त होने की संभावना है। लेकिन, इस समय आपको काफी सचेत रहना होगा, क्योंकि आपके विरोधी आपके लिए समस्या पैदा कर सकते हैं। ग्रहण के इस बुरे असर से अतीत के कुछ पुराने मुद्दे उभर कर आपको चिंता में डाल सकते हैं। पर अच्छी बात यह है कि इस दौरान आपको अपनी गलतियों को सुधारने का भी मौका मिलेगा। इसलिए, मिले समय का सदुपयोग करें।

साल 2017 की हमारी बिजनेस रिपोर्ट के जरिए अपने बिजनेस के बारे में सही गाइडेंस पाइये।

मिथुन राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
– नौवें भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
मिथुन राशि के जातकों की कुंडली में ये ग्रहण नौवें भाव को प्रभावित करेगा, जो कि मध्यम परिणाम प्रदान करेगा। आप किसी धार्मिक यात्रा पर जा सकते है आैर कुछ धार्मिक गतिविधियां का आयोजन कर सकते है। यदि आपको विदेश यात्रा को लेकर विलंब का सामना करना पड़ रहा है तो ग्रहण के बाद इस मामले में आपको कुछ सफलता मिल सकती है। आने वाले दिनों में आपको विकास के नए अवसर मिलने वाले हैं, इसलिए तैयार हो जाएं।

यदि आपके छोटे भाई-बहनों के साथ आपके रिश्ते बहुत सौहार्दपूर्ण नहीं रहे हैं तो इस अवधि में आप इस और कुछ सुधार की उम्मीद कर सकते हैं। अपने भाई-बहनों के साथ किसी प्रकार की गलतफहमियों को दूर करने के लिए एक अच्छा समय होगा।

निजी जिंदगी के व्यक्तिगत मुद्दों के संदर्भ में एक विस्तृत मार्गदर्शन प्राप्त करने हेतु हमारे अनुभवी ज्योतिषी से एक प्रश्न पूछकर विस्तारपूर्वक मुद्दे का हल जानिए।

कर्क राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
– आठवें भाव में साल 2017का सूर्य ग्रहण
ये सूर्य ग्रहण कर्क राशि के जातकों की कुंडली के आठवें भाव को प्रभावित करेगा, जो कि प्रतिकूल हो सकता है। आपको इस अवधि में अपने स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखना होगा। आप अचानक बीमार पड़ सकते हैं। यदि आप एक लंबे समय से बीमार चल रहे हैं तो आपको अपने रोग का किसी विशेषज्ञ डॉक्टर से उपचार करवाने का परामर्श है।

पैतृक संपत्ति, सरकारी कार्यों आैर कानूनी मुद्दों से संबंधित मामलों में बाधाआें के संकेत मिल रहे है। परिवार में मतभेद होने की भी संभावना नजर आ रही है। एेसे में आपको घी से भरकर तांबे या पीतल का बर्तन, अलावा तिल के बीज, कपड़े इत्यादि ब्राह्मणों को को दान में देना चाहिए।

हमारी सेवा- कोई भी सवाल पूछें रिपोर्ट की मदद से अपने सवाल का सटीक जवाब हासिल करें।

सिंह राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
– सातवें भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
सिंह राशि में ग्रहण की ये घटना सातवें भाव में घटित होगी, जो कि मिश्रित फल प्रदान करेगी। आपकी सार्वजनिक छवि धूमिल हो सकती है। करीबी लोगों के साथ तनावपूर्ण संबंध हो जाने की आशंका है। वहीं शादीशुदा जीवन में अपने जीवनसाथी के साथ संबंधों में सुधार होगा। आप दोनों साथ बैठकर किसी पुराने मतभेदों को सलुझाने लिए सहमत रहेंगे। बिजनेस में कारोबारी पार्टनर की तरफ से कुछ अनबन होने की आशंका को देखते हुए आपको अपने पार्टनर के साथ लेन-देन में सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है।

सूर्य ग्रहण के बाद आप अपने दुश्मनों और प्रतिस्पर्धियों को धूल चटाने के उद्देश्य से एक ठोस रणनीति तैयार करेंगे। इस चरण के दौरान आप कानूनी मैटर्स में और अनुबंधों में कुछ शर्तों के साथ अहम बदलाव लाने की सोचेंगे।

हमारी रिपोर्ट के उपयोग से वर्ष 2017 में अपनी शादी की संभावनाओं को पता करिए।

कन्या राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
– छठवें भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
साल 2017का ये सूर्य ग्रहण कन्या राशि की कुंडली के छठें भाव को प्रभावित करेगा, जो कि फलदायी रहेगा। इस समय में आपके अंदर अपने शत्रुओं को एक अच्छा सबक सिखाने का एक मजबूत हौसला रहेगा। हालांकि, जहां आपको अपने कॅरिअर में नए-नए अवसर प्राप्त होंगे, वहीं आपको सामने कुछ चुनौतियां भी रहेंगी।

इस प्रकार से देखा जाए तो बिना कष्टों से गुजरे आपको सुख नसीब नहीं होगा। स्वास्थ्य में सुधार की संभावना है लेकिन इस ओर बिल्कुल लापरवाही भी ठीक नहीं है। सावधानी के तौर पर अपने मामा के साथ व्यवहार में अपनी बोली का विशेष ध्यान रखें।

वर्ष2017 में हमारी कॅरिअर रिपोर्ट की सहायता से अपने कॅरिअर ट्रेंड के विषय में अनमोल जानकारियां पाइये।

तुला राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
– पांचवें भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
तुला राशि में ये घटना पांचवें भाव में होगी, जो कि आैसत परिणाम देगी। मन भटकाव की स्थित रहने के कारण आपको विशेष तौर पर शिक्षा से संबंधित मामलों में सावधान रहना होगा। पढ़ाई की सफलता के लिए आपको अपनी एकाग्रता शक्ति को हर हाल में बनाए रखना होगा। लव मैटर्स में कुछ गड़बड़ियां हो सकती हैं इसलिए एेसे नाजुक मामलों को आपको बड़ी कुशलता से संभालना होगा।

गणेशजी की सलाह है कि इस समय के दरमियान शेयर ट्रेडिंग और सट्टे से दूर ही रहें तो ही अच्छा है, क्योंकि जरा-सी चूक से भारी नुकसान के सिग्नल मिल रहे हैं। इस अवधि के दौरान खानपान का विशेष ख्याल रखते हुए निर्धारित शिड्यूल के अनुसार चलें तो बेहतर रहेगा। आपके बच्चों का प्रदर्शन आपको कुछ चिंता में डाल सकता है।

साल 2017 में एजुकेशन से रिलेटेड एडवाइस पाने के लिए हमारे एक्सपर्ट एस्ट्रोलॉजर्स से इस विषय पर एक प्रश्न पूछिये।

वृश्चिक राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
– चौथे भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
वृश्चिक राशि के जातकों की कुंडली में ये ग्रहण चौथे भाव पर प्रभाव ड़ालेगा, जो अनुकूल नहीं होगा। इस समय आपको खासकर अपनी माता की सेहत को लेकर सतर्क रहना होगा। अपनी माँ और मातृ पक्ष के रिश्तेदारों के साथ किसी बहस में पड़ने से बचना होगा। आपके संदर्भ में दुर्घटनाओं के संकेत मिल रहे होने से आपको वाहन चलाते समय या सड़क पर चलते समय बहुत सावधानी रखनी चाहिए। इसके अलावा, यदि आप अपनी किसी पुरानी संपत्ति को बेचने की योजना बना रहे हैं तो आपके लिए इस वक्त यह अच्छा रहेगा कि यदि आप अपने निर्णय को स्थगित कर दें।

वर्क प्लेस पर कुछ बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। उच्च शिक्षा प्राप्त करने में कुछ अड़चनें अाने की संभावना नजर आ रही है।

धन संबंधी सवालों के उत्तर पाने के लिए धन संपत्ति से जुड़ा एक प्रश्न पूछें।

धनु राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:

– तीसरे भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
यह वलयाकार सूर्य ग्रहण धनु राशि के जातकों की कुंडली के तीसरे भाव को प्रभावित करेगा, जो कि शुभ होगा। आप में साहस और आत्मविश्वास रहेगा। नौकरी या व्यापार में प्रगति के संकेत मिल रहे है। आगामी दिनों में गणेशजी को शाॅर्ट ट्रिप की संभावना भी नजर आ रही है। भाई-बहन या चचेरे भाई के साथ व्यवहार में ध्यान देना होगा। आपकी किसी बात से गलतफहमियां पैदा हो सकती है।

इसके अलावा, आप इस चरण में अपने पिता के स्वास्थ्य का ख्याल रखें। सूर्य ग्रहण की अवधि में रचनात्मक या संचार के क्षेत्रों से वास्ता रखने वालों को मानसिक रूप से कुछ अवरोध का सामना करना पड़ सकता है। आपका भाग्य वांछित सहायता प्रदान नहीं कर पाएगा। हमारी सर्विस कॅरिअर संभावना रिपोर्ट की मदद से अपने कॅरिअर के भविष्य के बारे में अंतर्दृष्टि प्राप्त करें।

मकर राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
– दूसरे भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
ये ग्रहण मकर राशि के जातकों की कुंडली के दूसरे भाव पर प्रभाव ड़ालेगा, जो कि आैसत परिणाम प्रदान करेगा। परिवार के सदस्यों के साथ मतभेद होने की संभावना है। आपकी वाणी की वजह से ये समस्याएं पैदा हो सकती हैं। आर्थिक रूप से स्थिति बहुत उज्जवल नहीं लगती। आपके लिए अच्छा यही होगा कि आप तय योजना के साथ आगे बढ़ें। आपकी हेल्थ के बारे में बात करें तो आपको कान, नाक या गले से संबंधित समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए आपको इस ओर भी नजर रखनी होगी। यह समय मौसमी बीमारियां के पैदा होने का भी लगता है।

अगर आप आने वाले दिनों में कोई बड़ा वित्तीय निर्णय लेने की योजना बना रहे हैं तो उसके लिए यह एक शुभ समय नहीं है। लेकिन परिस्थिति वश अगर आपको कुछ ठोस कदम उठाने भी पड़ें तो गणेशजी की राय है कि वित्तीय विशेषज्ञों की सलाह से आगे बढ़ना ठीक रहेगा।

अपने जीवन के बारे में सब कुछ जानने के लिए हमारे द्वारा आपके द्वारा तैयार की जाने वाली सेवा-आप के जीवन की भविष्यवाणी रिपोर्ट प्राप्त करें।

कुंभ राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
-पहले भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
कुंभ राशि के जातकों की कुंडली में वलयाकार सूर्य ग्रहण की घटना स्वराशि में घटित होगी। आने वाली चुनौतियों के लिए कमर कस लीजिए। इसका हमला सर्वप्रथम आपके मानसिक स्वास्थ्य पर तत्पश्चात आपके शरीर पर होगा। पर्सनल लाइफ से निराश रहेंगे। जीवनसाथी के साथ रिलेशन पर इससे बुरा असर पड़ेगा और साथी के साथ तीखी बहसबाजी होने की आशंका है।

आपकी पब्लिक लाइफ के कुछ विवादों की वजह से कलुषित हो जाने का खतरा रहेगा। इसलिए हर हालत में अपनी प्रतिष्ठा को दागदार होने से बचाएं। विपरीत लिंगियों के साथ बोलचाल में अत्यधिक सावधनी बरतिए।

2017 की वार्षिक रिपोर्ट के द्वारा वर्तमान वर्ष को अपने जीवन का श्रेष्ठ वर्ष बनाइये।

मीन राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव:
-बारहवें भाव में साल 2017 का सूर्य ग्रहण
ये ग्रहण मीन राशि के जातकों की कुंडली के बारहवें भाव को प्रभावित करेगा जिसके कारण हानिकारक प्रभाव देखने को मिल सकते है। आप अचानक से बीमार पड़ सकते है। अप्रत्याशित खर्च आैर आकस्मिक यात्रा के भी संकेत मिल रहे है। आकस्मिक घटनाएं आपके विश्वास को चकनाचूर करके रख देंगी। ग्रहों के कुयोग से आपके जलने या टखने के नीचे के क्षेत्र में चोट लगने की आशंका है।

आने वाले दिनों में आपके शत्रु आपकी राह में कांटे बिछा सकते हैं। उनकी हरकतों से आपके मन की शांति छिन्न-भिन्न हो सकती है। आपको विशेषकर भोलेनाथ की पूजा अौर रूद्राभिषेक करना चाहिए। इसके अलावा घी से भरकर तांबे या पीतल का बर्तन आैर तिल के बीज इत्यादि ब्राह्मणों को दान में दें।

हमारी साल 2017 की वित्त रिपोर्ट में दी गई जानकारियों से इस साल अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत करते हुए विकास को सुनिश्चित करिए।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
प्रकाश शांतिलाल पंडया
गणेशास्पीक्स डाॅटकाॅम टीम

Follow Us