water sign: यदि आप जल तत्व की राशि से हैं, तो जानिए क्या है आपकी विशेषता

water sign: यदि आप जल तत्व की राशि से हैं, तो जानिए क्या है आपकी विशेषता

क्या आप बहुत ज्यादा भावुक हैं? क्या कभी-कभी आप खुद को अपने कंफर्ट जोन में खुद को सुरक्षित पाते हैं? क्या अपनी क्वालिटी को आप ज्यादातर समय छिपाकर रखना चाहते हैं? क्या आप शर्मीले स्वभाव के हैं? तो आप जल तत्व की राशि के हो सकते हैं। दरअसल व्यवहार और आदतों से हम जान सकते हैं कि कौन किस तत्व का प्रतिनिधित्व करता है। जल तत्वों के लोग अक्सर शर्मीले, भावुक, प्यार करने वाले और अपनी बातों को गुप्त रखने वाले होते हैं। जानिए यहां जल तत्व का होने के कारण आपमें क्या विशेषता हैं।

जल तत्व की राशियां- कर्क, वृश्चिक और मीन

राशिचक्र की 12 राशियों को अलग-अलग तत्वों में बांटा गया है। कर्क, वृश्चिक और मीन जल तत्व की राशियां है। कर्क का चिह्न केकड़ा, वृश्चिक का चिह्न बिच्छु और मीन का चिह्न मछली है। ये भी जानवर पानी या नमी वाली जगहों पर ज्यादा पाए जाते हैं। जल तत्व की राशियों के लोगों की सबसे बड़ी विशेषता होती है, चलते रहना। वे हमेशा लक्ष्य की ओर चलते रहते हैं। जैसे नदी आगे बढ़ते हुए अपने आसपास की सभी चीजों पर प्रभाव डालती है, वैसे जल तत्व की राशि कर्क, वृश्चिक और मीन राशि के लोग भी अपने आसपास के सभी लोगों पर अपना प्रभाव डालते हैं। हालांकि तीनों राशियों के लोगों के चरित्र और व्यवहार में अंतर होता है, फिर भी तीनों कुछ भावुक जरूर होते हैं। तीनों का दिल बहुत जल्दी टूट सकता है।

जल तत्व की राशियां- इनका आकर्षण विशेष

पानी सभी को अपने डूबाने या भिगोने की क्षमता रखता है। बस कर्क, वृश्चिक और मीन राशि के लोगों का आकर्षण भी कुछ इसी तरह का होता है। ये लोग अपने आसपास के लोगों को बहुत ही जल्दी आकर्षित कर लेते हैं। हालांकि कई बार ये लोग इतने इमोशनल हो जाते हैं कि अपना अच्छा बुरा भूलकर दूसरों की मदद करने में लग जाते हैं। ये लोग अपने साथ हुई गलत बात हो कभी भूलते नहीं है। सबसे विशेष बात तो वृश्चिक के साथ लागू होती है, वे बहुत भावुक और अच्छे होते हैं, लेकिन यदि कोई उनके साथ कुछ गलत कर देता है, तो उनसे बदला लेने के लिए उतारू हो जाते हैं।

जल तत्व की राशियां- अपनी सोच में खोए रहते हैं

कर्क, वृश्चिक और मीन राशि के लोग जल तत्व के होने के कारण अपनी सोच में ही खोए रहते हैं। दूसरों के विचार इन्हें बहुत जल्दी आकर्षित नहीं करते हैं। हालांकि ये अपने विचार भी अपनी सोच या क्षमता के अनुसार बनाते हैं। हालांकि जल तत्व का होने के कारण तीनों राशियों के लोग बहुत ही शर्मीले स्वभाव के होते हैं। वे चीजों का पूरी तरह से विश्लेषण करने में प्रवीण है। इस कारण खुद के जीवन को बहुत जटिल भी बना लेते हैं। कई बार अपनी ज्यादा सोचने की प्रवृत्ति के कारण वे उस समस्या से घिरे रहते हैं, जो वास्तव में होती ही नहीं है।

जल तत्व की राशियां- ढूंढते हैं अपनों की खुशी

जल तत्व की राशि कर्क, वृश्चिक और मीन के लोग इमोशनल होने के कारण अपनों की खुशी ज्यादा तलाशते हैं। वे अपने परिवार, दोस्तों या खास लोगों को खुश रखने का तमाम प्रयास करते हैं। वे अपने लिए कुछ करके उतना खुश नहीं होते हैं, जितना दूसरों के लिए कुछ करके खुश होते हैं। अपने आसपास के लोगों को दु:खी देखकर वे हमेशा दु:खी महसूस करते हैं।

जल तत्व की राशियां- आसानी से बहक जाते हैं

जल तत्व की राशियों के लोग बहुत आसानी से बहक जाते हैं। हालांकि दूसरों के विचारों से जल्दी प्रभावित नहीं होते, फिर भी यदि कोई इन्हें भड़काना चाहें, तो वे आसानी से भड़क या बहक सकते हैं। इनके विचारों में दृढ़ता नहीं होती है। वे बहुत जल्दी-जल्दी अपने विचार बदलते हैं। कभी-कभी वे अचानक इतने खामोश हो जाते हैं कि इनके आसपास रहने वाले लोग चिंता में पड़ सकते हैं।

जल तत्व की राशि- नकारात्मक गुण

जल तत्व की राशि कर्क के लोग बहुत जल्दी नकारात्मक उदासीनता और निराशावाद से भर जाते हैं। वे बहुत संवेदनशील होते हैं और छोटी-छोटी बातों को वे दिल पर ले लेते हैं। वहीं वृश्चिक राशि के लोगों का स्वामी मंगल होता है। जल तत्व का होने के बावजूद उसमें मंगल की ऊर्जा रहती है। वे बात-बात पर गुस्सा होते हैं और बदला लेने पर उतारू हो जाते हैं। वे काम की शुरुआत तो कर देते हैं, लेकिन थोड़ी सी असफलता से निराश हो जाते हैं। वहीं मीन भी जल तत्व की राशि है, ये लोग कभी अपने कंफर्ट जोन से बाहर ही नहीं निकलना चाहते हैं। इसलिए कोई बड़ा टारगेट अचीव करना कई बार इनके बस की बात नहीं होती है। मीन राशि के लोग दो विचारों में फंसे रहते हैं। मीन राशि के लोग भी बहुत जल्दी निराशा से भर जाते हैं।

श्री गणेशजी की कृपा के साथ
गणेशास्पीक्स डॉट कॉम/हिंदी

 

Follow Us