राशि से जानिए कैसे माता-पिता है आप, आपकी राशि बताती है आपके पैरेटिंग का स्टाइल - GaneshaSpeaks
https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

राशि से जानिए कैसे माता-पिता है आप, आपकी राशि बताती है आपके पैरेटिंग का स्टाइल

राशि से जानिए कैसे माता-पिता है आप, आपकी राशि बताती है आपके पैरेटिंग का स्टाइल
माता-पिता बनना जीवन की सबसे बड़ी खुशी होती है, लेकिन पैरेटिंग का जॉब अपने आप में बहुत टफ है। बच्चों को सबसे अच्छी परवरिश देना सभी माता-पिता का सपना होता है। कहते हैं बच्चों को उनकी साइकोलॉजी के अनुसार ट्रीट किया जाना चाहिए। माता-पिता बच्चों पर ज्यादा कठोर नहीं हो सकते हैं। parenting एक फुल टाइम जॉब है, जिसे करना बिल्कुल भी आसान नहीं है। कई बार यह बहुत थका देने वाला या ऊबाऊ तो कई parenting बहुत रोमांचक हो सकता है। हालांकि आपकी राशि आपकी पैरेटिंग स्टाइल के बारे में काफी कुछ कहती है। यहां स्टार्स आपकी मदद के लिए तैयार है। आप राशि के अनुसार जान सकते हैं कि आपकी पैरेंटिंग स्टाइल कैसी है? और इसे कैसे बहुत अच्छा बनाया जा सकता है। जानिए आपकी राशि के अनुसार आप कैसे पिता या माता हैं और अपने आदतों में कहां आपको सुधार की जरूरत है।

मेष- बच्चों पर आगे बढ़ने का समय दें

यदि आप मेष राशि के माता या पिता हैं, तो बच्चों की पूरी दृढ़ता और ईमानदारी के साथ परवरिश करते हैं। वे बच्चों को अच्छे संस्कार देते हैं और उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं। मेष राशि के माता-पिता चाहते हैं कि बच्चे जल्दी से जल्दी सबकुछ सीख लें। ऐसे में कई बार वे बच्चों के प्रति कठोर भी हो जाते हैं, यहां आपको यह समझने की जरूरत है कि पैरेटिंग का दूसरा नाम धैर्य है। बच्चे अपने गति से सीखते हैं। आपको उन्हें आगे बढ़ने के लिए पर्याप्त समय देना होगा।

वृषभ- बच्चों को पर्याप्त स्वतंत्रता दें

यदि आप वृषभ माता या पिता हैं, तो आप बच्चों के लिए हमेशा उपलब्ध रहते हैं। आप बच्चों को हमेशा अपनी आंखों के सामने रखते हैं। यहीं पर आप से थोड़ी सी गलती हो जाती है। वृषभ राशि के माता-पिता को चाहिए कि वे बच्चों को पूरी स्वतंत्रता दें। बच्चों को अपने तरीके से कुछ सिखाने की जगह कुछ स्वतंत्रता जरूर दें। आपका जिद्दी स्वभाव कभी-कभी बच्चों के लिए मुसीबत बन सकता है।

मिथुन – बच्चों के सामने हमेशा मजाक अच्छा नहीं

यदि आप मिथुन माता-पिता हैं, तो बच्चों के लिए बहुत ही सहज बने रहते हैं। आप हमेशा बच्चों के साथ मजाक-मस्ती के मूड में रहते हैं। यह एक अच्छी आदत है, लेकिन कभी यही आदत आपके लिए मुसीबत बन सकती है। इसी आदत के कारण हो सकता है बच्चे आपको सीरियसली नहीं लेने लगे। मिथुन राशि के माता पिता को यह ध्यान रखना चाहिए कि बच्चों के सामने हमेशा मजाक अच्छा होता है। कभी-कभी parenting में आपको अपना व्यवहार गंभीर भी रखना चाहिए।

कर्क- सभी जिद पूरी नहीं करें

यदि आप कर्क राशि के माता-पिता है, तो बच्चों के लिए आप बहुत ही भावुक होते हैं। आप हमेशा ही बच्चों के लिए उपलब्ध होते हैं और उन्हें बहुत लाड-प्यार करते हैं। कर्क राशि के माता-पिता कई बार बच्चों की जिद के आगे झुक जाते हैं। यहीं पर वे थोड़े नुकसान में आ जाते हैं। बच्चों को लाड-प्यार करना अच्छी बात है, लेकिन आपको बच्चों की सभी जिद को नहीं मानना चाहिए। इससे बच्चों के मन में किसी चीज की कोई वैल्यू नहीं रहेगी।

सिंह- बच्चों को अति महत्वाकांक्षी ना बनाएं

यदि आप सिंह राशि के माता-पिता हैं, तो आप बच्चों के लिए बेहद खुले विचारों वाले हो सकते हैं। आप हमेशा बच्चों को नेतृत्व और लक्ष्य की ओर बढ़ने का गुण सिखाते हैं। सिंह राशि के माता-पिता parenting के दौरान अपनी महत्वाकांक्षा भी बच्चों पर थोपते हैं। वे बच्चों में जबरन प्रतियोगिता की भावना भरते हैं। आपको बच्चों को अति महत्वाकांक्षी होने से बचाना चाहिए। बच्चों पर अपने विचार थोपने की जगह उन्हें अपने आसपास की चीजों से सीखने के लिए प्रेरित करना चाहिए।

कन्या- नई चीजें सिखाने पर भी ध्यान दें

यदि आप कन्या राशि के माता-पिता है, तो अपने साथ बच्चों को भी परफेक्ट होना सिखाते हैं। कन्या माता-पिता हमेशा पारंपरिक मूल्यों के बीच बच्चों को बड़ा करते हैं। यह अच्छी बात है, लेकिन आपको यहां यह ध्यान रखने की जरूरत है कि आप पारंपरिक मूल्यों का यह मतलब नहीं कि कोई नई चीज बच्चे ना सीखें। बच्चों को आगे बाहर की दुनिया के लिए तैयार करना है। यह तब होगा, जब आप उन्हें नई चीजे सीखने के लिए भी प्रेरित करेंगे।

तुला- कभी-कभी रिएक्ट करना भी जरूरी होता है

तुला हमेशा बैलेंस्ड लाइफ जीते हैं। वे जीवन के प्रति शांतिपूर्ण रवैया रखते हैं। यदि तुला राशि के माता-पिता है,तो बच्चों को भी कुछ इसी तरह की शिक्षा देते हैं। आप बच्चों को किसी भी परिस्थिति में शांत रहना सिखाते हैं। यह बहुत अच्छी बात है, लेकिन आपको यहां ध्यान रखना चाहिए कि लाइफ में किसी सिचुएशन पर रिएक्ट करना भी जरूरी होता है। आप बच्चों को शांत रखकर उनकी नेचुरल फीलिंग्स को ओवरलेप ना करें।

वृश्चिक- ज्यादा अनुशासन भी ठीक नहीं

वृश्चिक माता-पिता अपने बच्चों को बेहद आत्म सम्मान से जीना सिखाते हैं। उनके लिए parenting एक अनुशासन भी है। वे बच्चों को बेहद अनुशासन में रखते हैं। यदि आप वृश्चिक माता-पिता है, तो आपको यहां बेहद ध्यान रखने की जरूरत है कि ज्यादा कठोर होने से बच्चे आपसे इमोशनली दूर होते जाएंगे। वे बाहर की कोई चीज आपसे शेयर करने से डरेंगे। इसका आपको नुकसान हो सकता है।

धनु- बाहरी दुनिया पर ज्यादा निर्भर ना रहें

धनु राशि के माता-पिता बेहद एडवेंचर प्रिय होते हैं। वे बच्चों में भी ऐसी ही भावनाएं भरते हैं। वे बच्चों को टूर पर ले जाते हैं और बाहरी दुनिया से सीख लेने की प्रेरणा देते हैं। ऐसे में धनु माता या पिता एक गलती कर देते हैं। वे बच्चों को कुछ भी सिखाने के लिए बाहरी दुनिया पर ही निर्भर रहते हैं। इसका बच्चों पर नकारात्मक असर भी पड़ सकता है। आपको चाहिए कि कुछ चीजें आप खुद बच्चों के लिए सीखें और फिर उन्हें करने के लिए प्रेरणा दें।

मकर – बच्चों को भी बदलाव की जरूरत होती है

मकर राशि के लोग अपनी तर्कशक्ति और लॉजिक के लिए जाने जाते हैं। यदि आप मकर राशि के माता-पिता है, तो बच्चों को एक जैसे स्थायी वातावरण में लालन-पालन करते हैं। बच्चों के लिए यह अच्छी बात है, लेकिन कई बार बच्चे इस तरह के एक जैसे व्यवहार से घबरा सकते हैं। उन्हें भी समय-समय पर बदलाव की जरूरत होती है। मकर राशि के माता या पिता बच्चों के किसी भी नखरे को ज्यादा बर्दाश्त भी नहीं करते हैं।

कुंभ- ज्यादा स्वतंत्रता ठीक नहीं

कुंभ राशि के माता-पिता बेहद स्वतंत्र विचारधारा वाले होते हैं। वे अपने बच्चों को जिम्मेदारी और कर्तव्यपालन अच्छी तरह सिखाते हैं, लेकिन कई बार वे बच्चों को जरूरत से ज्यादा स्वतंत्रता दे देते हैं। आपको बच्चों को थोड़ा कंट्रोल में रखने की भी जरूरत है। बच्चों के समझदार होने तक होने उतनी ही स्वतंत्रता दी जानी चाहिए, जितनी जरूरी है। अतिरिक्त स्वतंत्रता का नुकसान कुंभ राशि के माता-पिता को हो सकता है।

मीन- बच्चों के साथ खुद पर भी ध्यान दें

मीन राशि के माता-पिता भी भावुक होते हैं। वे अपने बच्चों को हर चीज करने की प्रेरणा देते हैं। वे उन्हें स्पिरिचुअल भी बनाते हैं। कई बार मीन राशि के माता-पिता बच्चों के लालन-पोषण के आगे खुद को भूल जाते हैं। आपको बच्चों की परवरिश के साथ खुद का भी ध्यान रखना होगा। याद रखिए बच्चों के समझदार और जिम्मेदार बने रहने तक उन्हें आपकी जरूरत होती है।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित
भावेश एन पट्टनी
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

Follow Us