https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

मंगल का वृषभ राशि में प्रवेश-राशियों पर इसका शुभाशुभ असर

मंगल का वृषभ राशि में प्रवेश-राशियों पर इसका शुभाशुभ असर

22 मार्च 2019 को मंगल का वृषभ में प्रवेश- जानें राशियों के हाल

सौरमंडल में मंगल ग्रह का अपना एक अलग ही विशेष स्थान माना जाता है। मंगल यानी शारीरिक शक्ति, ऊर्जा और जोश। अगर किसी प्राणी में शक्ति नहीं हो तो उसका जीवन निरर्थक माना जाता है। बलशाली मंगल को ग्रह मंडल में सेनापति का पद प्राप्त है।

मंगल का वृषभ राशि में प्रवेशतारीख 12-4-2017 के दिन प्रातः 4.12 बजे

22 मार्च 2019 को मंगल का वृषभ में प्रवेश- जानें राशियों के हाल
मंगल तारीख 12-2-2017से 27-4-2017 तक रोज सवेरे 9.50 तक कृतिका नक्षत्र यानी सूर्य के नक्षत्र में भ्रमण करेगा। तब तक गर्मी का प्रकोप अधिक रहेगा। इसके बाद मंगल रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करके दिनांक 16-5-2017 के रोज दोपहर 14.22 तक वहीं विद्यमान रहेगा। रोहिणी नक्षत्र चंद्र का नक्षत्र होने से इस समय अंतराल में लोगों को गर्मी से आंशिक रूप से राहत रहेगी। दिनांक 16-5-2017के दिन दोपहर को 14.22 से तारीख 26-5-2017 तक मंगल मृगशीर्ष नक्षत्रमें स्थित रहेगा। इस समय आपको गर्मी अधिक महसूस होगी। मंगल का भ्रमण अंतराष्ट्रीय क्षेत्र में अनावश्यक विवाद और युद्ध की स्थिति पैदा कर सकता है। वृषभ राशि में मंगल का भ्रमण (ता.12-4-2017से 26-5-2017) के दरमियान मीडिया तथा मनोरंजन क्षेत्र, फिल्म जगत इत्यादि के लिए अनुकूल कहा जाएगा। इस समय में पुलिस, आर्मी, इलेक्ट्रॉनिक्स, केमिकल तथा रियल एस्टेट में भी प्रगति दिखाई पड़ने की संभावना है। आपको गोचर के मंगल का अनेक राशियों पर शुभाशुभ असर देखने को मिलेगा जिसका उल्लेख यहां किया जा रहा है।

मेष राशि- दूसरे स्थान में से भ्रमण
मेष राशि में दूसरे स्थान से मंगल का गोचर होगा। मंगल की शुभ स्थिति मेष राशि के जातकों के लिए धन प्राप्ति का योग बनाएगी। पारिवारिक सुख में आंतरिक विवादों की संभावना को देखते हुए संयम रखना होगा। यात्रा-प्रवास का योग बनेगा। धार्मिक मुसाफिरी की भी संभावना है। परस्पर संबंधों और विद्याभ्यास में आपको अनुकूलता रहेगी। अगर आपके जीवन में भी शिक्ष्रा से जुड़ा कोर्इ सवाल है, तो शिक्षण एक प्रश्न पूछें
( सविस्तार सलाह) से पाए शैक्षिक मसलों का समाधान।

वृषभ राशि -पहले स्थान से भ्रमण
हाल में वृषभ राशि के ऊपर से मंगल का गमन चलते रहने से यानी चंद्र के ऊपर से मंगल का भ्रमण ज्योतिष के एक चर्चित लक्ष्मी योग को बना देता है जिससे इस दौरान आर्थिक मोर्चे पर लाभ मिलने की संभावना जन्म लेगी। चल-अचल संपत्ति से जुड़े कार्य बनेंगे। शादीशुदा जीवन में विवादों के अंदेशे को देखते हुए जीवनसाथी के साथ वर्तमान में संयम से काम लेना होगा। उनकी बातों को समझने का प्रयास कीजिए। सार्वजनिक जीवन पर अपनी वाणी पर कंट्रोल रखना होगा नहीं तो लोगों के साथ गलतफहमियां बहुत बढ़ जाएंगी। स्वास्थ्य के प्रति भी जागरूकता रखनी होगी। व्यवसाय में लाभ मिलने की संभावना है। वैवाहिक मसलों को लेकर मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए वैवाहिक समस्या रिपोर्ट
का लाभ उठाए।

मिथुन राशि -बारहवें स्थान से भ्रमण
मिथुन राशि के जातकों के लिए मंगल चंद्रसे बारहवें स्थान यानी व्यय स्थान से गुजरेगा। इससे मिथुन जातकों के आकस्मिक खर्च होने की संभावना बढ़ जाएगी। बीमारी एकाएक घेर लेंगी। यात्रा-प्रवास के आसार बनेंगे। प्रोफेशनल मोर्चे पर अर्थात नौकरी या धंधे में आंतरिक विवादों की संभावना है। व्यवसायियों की स्टाफ के साथ किसी बात पर बोलचाल होने से वे नौकरी छोड़ कर यकायक जा सकते हैं। दांपत्य जीवन में प्रतिकूलता रहने की आशंका रहेगी। विदेश से लाभ की आशा रख सकते हैं। आपके लिए वर्ष 2017 कैसा रहेगा इस बारे में विस्तार से जानने के लिए 2017 वार्षिक रिपोर्ट का लाभ उठाए।

कर्क राशि- ग्यारहवें स्थान से भ्रमण
कर्क राशि के जातकों के लिए वृषभ का मंगल पंचमेश व कर्मेश बनकर ग्यारहवें स्थान में से भ्रमण कर रहा है। योगकारक ग्रह मंगल के लाभ स्थान पर होने से इस राशि वालों के लिए स्थिति अच्छी कही जाएगी। इस मंगल के गोचर की वजह से निजी जीवन की अनुकूलता में वृद्धि होगी। कामकाज में प्रगति के संकेत हैं। आर्थिक मोर्चे पर उन्नति की आस लगा सकते हैं। वाणी पर संयम रखना सीखें अन्यथा कौटुंबिक विवाद पैदा होकर आपको भारी उलझनों में धकेल सकते हैं। आपकी निजी जिंदगी में हालात क्या रूप लेंगे, इस बारे में जानें निजी जीवन-एक प्रश्न पूछें विस्तृत सलाह रिपोर्ट से।

सिंह राशि -दसवें स्थान में से भ्रमण
सिंह राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का मंगल भाग्येश तथा सुखेश बनकर दसवें भाव से भ्रमण करेगा। यह मंगल ‘ दक्षिणए यमाय नमः’ श्लोक के अनुसार स्थान बली हो जाता है। सिंह राशि के जातकों के लिए यह मंगल उनके ध्येय में सफलता प्रदायक साबित होगा, परंतु उसके लिए उनको कड़ी मेहनत की आवश्यकता होगी। कार्यक्षेत्र से जुड़े नए अवसर हाथ लग सकते हैं। चल-अचल संपत्ति के कार्यों में भी अनुकूलता रहेगी। नए सौदे की संभावना से नकारा नहीं जा सकता। इस समय में आपको निजी संबंध और विद्याभ्यास में प्रगति का अनुभव होगा। अपनी आर्थिक स्थिति के बारे में विस्तार से जानें, समृद्घि एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से।

कन्या राशि-नौवें स्थान में से भ्रमण
कन्या राशि के जातकों के लिए मंगल वृषभ राशि में तृतीयेश और अष्टमेश हो जाता है। गोचर स्थिति के अनुसार इसका भ्रमण नौवें स्थान अर्थात भाग्य स्थान में से हो रहा है। इससे कन्या राशि के जातक अचानक से किसी दुर्घटना या चोट के शिकार हो सकते हैं। वाहन चलाते समय अपना ध्यान रखें। व्यर्थ की जल्दबाजी घातक हो सकती है। जरूरत हो तो हेल्थ की समस्या पता चलते ही अपने डॉक्टर से इलाज करवाएं। लापरवाही मत बरतना। आपके दैनिक प्रोफेशनल कामों में प्रगति दिखाई देगी। आकस्मिक धन प्राप्ति के योग हैं। आप इस दौरान और अधिक धार्मिक हो सकते हैं। वित्तीय दृष्टि से वर्ष 2017 आपके लिए कैसा रहेगा, इसका जवाब पाए 2017 वित्त रिपोर्ट से।

तुला राशि -आठवें स्थान में भ्रमण
तुला राशि में वृषभ का मंंगल सप्तमेश व धनेश होकर आठवें स्थान में से गोचर करता है। इस वजह से इस अंतराल में आपको अपनी तबीयत का ध्यान रखना होगा अन्यथा छोटे-मोटे विकार बड़ी बीमारी का रूप ले सकते हैं। वाहन चलाते समय जरा भी असावधान मत रहिए। मध्यम फलदायी समय है। पारिवारिक सुख भी सामान्य तौर पर मिलेगा। अगर आप अपनी वाणी पर संयम नहीं रखेंगे तो संबंधों में दरार पड़ने की संभावना है। क्या आप अपनी जिंदगी के विभिन्न मसलों को लेकर परेशान है ? तो कोर्इ भी प्रश्न पूछें रिपोर्ट से सही मार्गदर्शन पाए।

वृश्चिक राशि- सातवें स्थान से भ्रमण
वृश्चिक राशि के जातकों, वृषभ का मंगल लग्नेश और षष्ठेश होकर सातवें भाव से भ्रमण करता है। इससे दांपत्यजीवन में पति-पत्नी के बीच मतभेद की संभावना बढ़ेंगी। आप अपनी बात को सच साबित करने और अपनी बात को मनवाने के लिए जोर जबरदस्ती से पेश आएंगे। जहां तक संभव हो दलीलबाजी टालिए। प्रोफेशनल मोर्चे पर हर एक व्यक्ति के साथ रिश्ते अच्छे रखें और कामकाज में लोगों के साथ विनम्रता से पेश आइए। स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना होगा। इस अवधि में किए गए कामों का यश प्राप्त होने के आसार कम लगते हैं। क्या आपके कैरियर से जुड़ा कोर्इ मसला आपको परेशान कर रहा है तो कैरियर एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से इसका समाधान पाए।

धनु राशि -छठें स्थान से भ्रमण
धनु राशि वालों के लिए वृषभ का मंगल पंचमेश और व्ययेश होकर छठें स्थान में से भ्रमण करता है। अनपेक्षित खर्च होने की संभावना है। खर्च पर अंकुश नहीं रखेंगे तो अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए दूसरे के सामने हाथ फैलाने तक की नौबत आ सकती है। स्वास्थ्य के मामले में प्रतिकूल संयोग नजर आ रहा है। घनिष्ठ संबंधों से लाभ की आशा कर सकते हैं। विद्याभ्यास हेतु अनुकूल समय होने से अपेक्षित परिणाम हेतु कमर तोड़ मेहनत की दरकार रहेगी। संतान के मामले में यह समय मध्यम फलदायी होने की भविष्यवाणी है। क्या आपको पढ़ार्इ में सफलता मिलेगी, इसका जवाब जानें शिक्षण एक प्रश्न पूछें रिपोर्ट से।

मकर राशि- पंचम स्थान में से भ्रमण
मकर राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का मंगल सुखेश और लाभेश होकर पंचम स्थान में से भ्रमण करता है। इससे जातकोंको संतान की ओर से शुभ परिणाम देखने को मिलेगा। आर्थिक लाभ के योग रूप लेंगे। चल-अचल संपत्तियों में लाभ अर्जित करने के लिए अनुकूल समय होने से हमारे जो जातक जमीन संबंधी सौदों का विचार कर रहे हैं वे एेसे निर्णय ले सकेंगे। कुल मिलाकर यदि देखा जाए तो आपके लिए शुभ व फलदायी रहेगा। वर्ष 2017 में चीजें कैसे आकार लेगी, इस बारे में विस्तार से जानें 2017 विस्तृत वार्षिक रिपोर्ट से।

कुंभ राशि- चौथे स्थान में से भ्रमण
कुंभ राशि के जातकों के लिए वृषभ का मंगल तृतियेश और कर्मेश होकर चौथे स्थान से भ्रमण करता है। इससे जातकों के मुसाफिरी के योग रहेंगे। माता के लिए शुभ व फलदायी समय रहेगा। नयी संपत्ति खड़ी करने और घर से संबंधित कामकाजों में खर्च की संभावना बढ़ेंगी। वाहन या इलेक्ट्रॉनिक्स की चीजों की खरीदी करने करने की संभावना है। सितारे आपकी जिंदगी के प्रमुख क्षेत्रों को लेकर क्या संकेत देते है इसको लेकर विस्तार से जानें 2017 विस्तृत वार्षिक रिपोर्ट से।

मीन राशि- तृतीय स्थान में से भ्रमण
मीन राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का मंगल धनेश व भाग्येश होकर तीसरे स्थान यानी कुंडली के पराक्रम स्थान से भ्रमण करता है। भाग्यवृद्धि के मौके रहेंगे एवं आपके सुख व समृद्धि में देखते ही देखते वृद्धि होगी। पारिवारिक सुख उठा सकेंगे। आर्थिक मोर्चे पर भी आपकी स्थिति मजबूत बनेगी। प्रोफेशनल मोर्चे पर कुछ नया साहस करने की प्रेरणा जागृत होगी। कुल मिलाकर, यदि देखें तो मीन राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का मंगल शुभ व मंगलकारी रहने की संभावना है। 2017 कैरियर रिपोर्ट खरीदेंआैर जानें कि सितारे आपके कैरियर को लेकर क्या संकेत देते है।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
प्रकाश पंड्या
गणेशास्पीक्स डाॅटकाॅम टीम