https://www.ganeshaspeaks.com/hindi/

6 सितंबर से मार्गी हो रहे हैं शनि, जानिए कितना सुखद होगा आपके लिए शनि का ये भ्रमण

शनिदेव

शनिदेव 6 सितंबर 2018 को धनु राशि में ही मार्गी हो रहे हैं। 18 अप्रेल से शनि वक्री चल रहे हैं। मार्गी होने पर कई राशि के लोगों को इसका सीधा फायदा होगा। बहुत दिनों से अटके काम पूरे हो सकते हैं। शनि न्याय के देवता माने जाते हैं। वे कर्म और सेवा के कारक है, इसका सीधा सा मतलब यह है कि इसका असर नौकरी और व्यवसाय पर होता है। शनि के मार्गी होने से कई राशियों पर लंबे समय से चल रही पीड़ा दूर होगी। फिर भी किसी भी ग्रह का वक्री होना या मार्गी होना का सीधा असर कुंडली में आपके ग्रहों की स्थिति के भी अनुकूल होता है। पशु-पक्षियों को सताने और गरीब और निचले तबके के लोगों को परेशान करने से शनि के दुष्परिणाम प्राप्त होते हैं।

(आपकी कुंडली में शनि ग्रह की स्थिति और उसके प्रभावों को जानने के लिए आप सीधे संपर्क करें हमारे ज्योतिषीय सलाहकारों से)

मेष- शनि के मार्गी होने से मेष राशि के लोगों की आर्थिक परेशानी दूर होगी। आय के नए स्रोत मिलेंगे। नौकरी में चल रही पीड़ा भी खत्म होगी। शनि के शुभ प्रभाव के लिए हर शनिवार को सरसों के तेल का दीपक शनि देव के मंदिर में लगाएं।

वृषभ- वृष राशि के लोगों के लिए शनि का मार्गी होना विशेष फायदे का रहने वाला है। अचानक बड़ा लाभ मिल सकता है। हालांकि जल्दबाजी में या उत्साह में किसी तरह का फैसला नहीं लें। गरीबों को जूते दान करने से फायदा मिल सकता है।

मिथुन- मिथुन राशि के लोगों पर इस तरह शनि के मार्गी होने का मिलाजुला असर रहेगा।शुभ समाचार मिल सकते हैं, लेकिन खर्च की अधिकता रहेगी। कुछ लोग परेशान कर सकते हैं। शनि के शुभ परिणाम के लिए शनिदेव के साथ भगवान शंकर की पूजा करें।

(यदि आपको लगता है कि आपके काम नहीं बन रहे हैं, तो हमारे विशेषज्ञ ज्योतिषियों से अच्छे भविष्य के लिए संपर्क है)

कर्क- इस राशि के जातकों को कानूनी विवादों में फायदा मिल सकता है। बिजनेस में आ रही दिक्कतें दूर होंगी। हालांकि कर्क राशि के लोगों को भी सावधानी रखने की जरूरत है। पुराने किसी रोग के फिर से उभरने की आशंका है। शनि मंदिर में हर शनिवार दर्शन करके दान चढ़ाएं।

सिंह- सिंह राशि के जातकों को धैर्य रखने की सलाह दी जाती है। हालांकि ऐसे जातकों को कार्यस्थल पर लाभ प्राप्त होगा। यदि किसी कार्य में बदलाव का मन है, तो शनि के मार्गी होने के बाद कोशिश की जकती है। शनिवार को पीपल के पेड़ में पानी डालें और सरसों के तेल का दीपक लगाएं।

कन्या- कन्या राशि के जातक पर शनि का ढैय्या चल रहा है। इस राशि के जातकों के लिए शनि का मार्गी होना थोड़ा राहत देगा। हालांकि शनि की विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए हनुमानजी को शनिवार को चोला चढ़ाने और हनुमान चालीसा का पाठ करने की सलाह दी जाती है।

(क्या आपको आर्थिक परेशानी है। क्या आपके भी काम बनने में विलंब हो रहा है, तो आपकी परेशानी को दूर करने का हम पूरा प्रयास करेंगे। आप बेझिझक हमें कॉल करिए।)

तुला- तुला राशि के जातक को खुशियां मिलने वाली है। छोटे भाई-बहनों की परेशानी दूर हो सकती है। आगे आने वाला समय राहत का रहेगा। शनि के सुखद परिणाम प्राप्त करने के लिए शनिवार और मंगलवार को हनुमानजी की पूजा करें। जातकों को कुष्ठ रोगियों को दान करने की भी सलाह दी जाती है।

वृश्चिक- वृश्चिक राशि के जातक अभी साढ़े साती के प्रभाव में है। हालांकि शनि के मार्गी होने से परेशानियां कम होंगी। हालांकि शनि कठिन परिश्रम करवाएगा। शनि के अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए हर शनिवार यथासंभव दान दिया जाना चाहिए। रोगियों की सेवा भी की जा सकती है।

धनु- धनु राशि में शनि होने के कारण इस राशि से जु़ड़े लोगों को विशेष सावधानी रखने की जरूरत है। शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव अभी बना रहेगा। आने वाले समय में अनावश्यक लोगों को परेशान नहीं करने की सलाह दी जाती है। शनि के दुष्प्रभाव को कम करने के लिए हनुमानजी की अाराधना करें।

(आपको कॅरियर संबंधी किसी भी तरह की समस्या आ रही है, तो आप हमारे विशेषज्ञों की सलाह लीजिए।)

मकर- मकर राशि के जातकों पर अभी साढ़े साती का असर शुरू हुआ है। इस राशि के जातकों को हालांकि शनि के मार्गी होने से इतनी परेशानी नहीं आएगी। फिर भी अनावश्यक बहस से बचें। शनि की विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए कुत्तों और गायों को रोटी खिलाएं। श्रीगणेश की आराधना करें।

कुंभ- कुंभ राशि के जातकों की आमदनी बढ़ेगी। मेहनत के अच्छे परिणाम सामने आएंगे। रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। शनि के और अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए भगवान शंकर और हनुमानजी की पूजा की सलाह दी जाती है। बिगड़े कामों को बनाने के लिए सुंदरकांड का पाठ लाभदायक होगा।

मीन- मीन राशि के जातक कुछ सावधानी रखें। बिना अनुभव के बड़ा काम शुरू ना करें। व्यर्थ के विवाद में ना पड़े। शनि के कारण काम थोड़े धीमे हो सकते हैं। आने वाले दिनों में शनि के अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए कुत्तों और गायों की सेवा करें। शनि मंदिर में हर शनिवार यथासंभव दान करें।

गणेशजी के आशीर्वाद सहित,
गणेशास्पीक्स डाॅट काॅम

क्या लाख कोशिशों के बात भी आफतें दूर होने का नाम नहीं ले रही हैं? चिंता न करें। वैदिक ज्योतिष में इसका समाधान है। अभी हमारे विशेषज्ञों से बात करें।

Follow Us