कन्या राशि के प्रेमव्यवहार

कन्या राशि के प्रेमव्यवहार

तत्व :
पृथ्वी

गुण :
स्परिवर्तनशील; स्त्रीत्व; नकारात्मक

स्वामी ग्रह :
बुध

प्यार में देने वाले सबक :
शुद्धता और सतर्कता | प्यार शुद्ध और पवित्र होता हैं और आदरयोग्य होता हैं

प्यार में सीखने वाले सबक :
जुनून और उत्साह | इस बात को मानने की क्षमता रखना कि प्यार कृत्रिम शुद्धता या विश्लेषण के अलावा भी कुछ हैं |

व्यक्तिव :
कन्या राशि के जातक ईमानदार, कर्तव्यपरायण और आदर्शवादी होते हैं | सूक्ष्म, स्वच्छ और उचित, प्रतिस्पर्धी, जीवन वृत्ति इतना मजबूत होती है कि यह उनके जीवन और इच्छा पर हावी होती है | किसी भी चीज का विश्लेषण करने की क्षमता रखते हैं |कर्तव्य और व्यावहारिकता के लाभ के लिए आदर्श प्रस्तुत करने में विश्वास करते हैं | ये प्रतिबंध पसंद नहीं करते हैं | विनम्र और परिष्कृत होते हैं और मुस्कुराहट के साथ आगे बढ़ जाते हैं | ये यह समझते हैं कि काम करना और जिम्मेदारी निभाना इस दुनिया में बने रहने के लिए अत्यावश्यक हैं | इनके लिए उत्कर्षता मायने रखती हैं आदर्शवादिता नहीं | उत्कृष्टता और सीखने की इच्छा इनके लिए असली पुरस्कार हैं और आदर्शों और सपने इनके लिए ज्यादा मायने नहीं रखते हैं | यह सब इन्हे हर किसी के लिए और हर चीज के लिए आलोचनात्मक बना देता हैं | ये क्रोधी, लापरवाह, और उल्लासपूर्ण हो सकते हैं |

मेष राशि के लिए प्यार :
यह एक रहस्य है कि ये खुश और संतुष्ट कैसे रहेंगे | कन्या राशि के जातक जिज्ञासु प्रवृत्ति के होते हैं पर फ़िर भी ज्यादा नहीं जानना चाहते हैं | इनका यह मानना होता है कि जो जैसा होता हैं वो वैसा नहीं होता हैं | ये किसी भी कार्य में विभोर हो कर कार्य करते हैं और प्यार भी उनमें से एक हैं | ये अपने सबंधो के प्रति पूरी तरह समर्पित रहते हैं |पर इनके प्यार का एक व्यावहारिक पक्ष भी होता हैं | ये प्यार का उपयोगी पक्ष भी देखते हैं | ये हमेशा कमर कस कर काम में लगे रहते हैं | घर या कार्यालय ये अपने लायक उचित वातावरण बना लेते हैं | कार्य की उत्तमता इन्हे प्रेरणा देती हैं | इनके साथी को इनकी दृढ़ता और साफ़ सोच के बारे में जान लेना चाहिए | और एक अच्छे साथी को कन्या जातक के धीर-गंभीर स्वभाव को थोड़ा प्रफ़ुल्लित करना चाहिए |

प्रेम आचरण :
कन्या जातक उदार,समर्पित,निष्ठावान और कर्तव्यपरायण होते हैं | ये जिन्हे प्यार करते हैं उनका बहुत ध्यान रखते हैं और उनके लिए एक खुशनुमा जगह बनाने की कोशिश करते हैं | इन्हे अपने साथी पर निर्भर होना अच्छा नहीं लगता हैं और जीवन की सभी अवस्था में ये काम करना पसंद करते हैं | यह स्वास्थ्य का सबसे ज्यादा ध्यान रखने वाली राशि चिह्न हैं | ये फ़िट रहने के लिए कुछ भी कर सकते हैं | ये अपने जैसी सोच वाला साथी चाहते हैं या फ़िर ये उन्हे अपने जैसा बनाने के फ़ेर में लगे रहते हैं | इन्हे समय बर्बाद करना अच्छा नहीं लगता हैं | ये शुद्ध, निर्दोष दिल और प्यार में निष्कपट होते हैं | कभी-कभी अपने साथी की गल्तियों के प्रति कुछ ज्यादा ही आलोचनात्मक हो जाते हैं | ईर्ष्या और प्रतिस्पर्धा भी इनके रिश्तों को बिगाड़ सकता है |

कन्या साप्ताहिक राशिफल – 15-09-2019 – 21-09-2019

सुसंगतता

कन्या राशि के बारे में जानिए

संस्कृत नाम : कन्या | नाम का अर्थ : कन्या | प्रकार : पृथ्वी परिवर्तनशील नकारात्मक | स्वामि ग्रह : बुध | भग्यशाली रंग : नारंगी, सफ़ेद, स्लेटी, पीला, मशरुम | भाग्यशाली दिन : बुधवार