कन्या नक्षत्र

कन्या नक्षत्र

उत्तर फ़ाल्गुनी :
इस नक्षत्र के देव आर्यमान (सूर्य के भेद ) और स्वामी सूर्य है | इनमें उत्साह की मात्रा संतुलित प्रमाण मे होती है | इन जातकों की कामेच्छा मध्यम होती है | कन्या राशि में पाए जाने वाले सारे गुण इन जातकों में पाए जाते हैं |
हस्त :
इस नक्षत्र के देव सूर्य और स्वामी चंद्र हैं | आकर्षण शक्ति और कल्पना शक्ति इन जातकों में बडी मात्रामें होती है | साहित्य,संगीत और कला क्षेत्र में इऩ्हें रुचि रहती हैं | इन जातकों में गुण तो बहुत होते हैं परंतु असफ़ल होने का भय रहता है | ये बडी लगन से अपना काम करते हैं | ये सामनेवालेसे जितना प्रेम करते है उससे उतने ही प्रेम कि आशा रखते है |
चित्रा :
इस नक्षत्र के देव विश्वकर्मा और स्वामी मंगल है | ये बहुत शौकिन मिजाज होते हैं | इनमे शिल्पकला और विविध कलाओं के प्रति रुचि होती है | नाटक और सिनेमा के भी शौकिन होते हैं | इनका मन बच्चो के जैसा होता है और ये बहुत शीघ्र रुठ जाते है | ये मान-सम्मान और प्रतिष्ठा को बहुत महत्व देते हैं |
 

कन्या साप्ताहिक राशिफल – 17-11-2019 – 23-11-2019

सुसंगतता

कन्या राशि के बारे में जानिए

संस्कृत नाम : कन्या | नाम का अर्थ : कन्या | प्रकार : पृथ्वी परिवर्तनशील नकारात्मक | स्वामि ग्रह : बुध | भग्यशाली रंग : नारंगी, सफ़ेद, स्लेटी, पीला, मशरुम | भाग्यशाली दिन : बुधवार