ज्योतिषी से बात कीजिए
X

वृषभ वार्षिक प्रेम और संबंध राशिफल

यह साल (2017)

मित्रों, अभी आपके पांचवें भाव अर्थात् प्रेम संबंधों के स्थान में शुभ ग्रह गुरु के भ्रमण करने से प्रेमसंबंधों में वृद्धि होगी। परंतु 6-4-2017 से 21-6-2017 के दौरान प्रेम प्रसंग प्रकट हो जाने का भय रहेगा। प्रेमी-प्रेमिका के मतभेद धीरे-धीरे दूर हो जाएंगे। दांपत्य जीवन में पुराने मतभेद चल रहे हों अथवा क्लेश होंगे तो शांति से बैठकर स्पष्ट चर्चा द्वारा तमाम गलतफहमियां दूर कर सकेंगे। जिन लोगों की तलाक तक की नौबत आ गई हो, ऐसे लोगों को भी किसी कारण से फिर मनमेल की संभावना बढ़ेगी। आपके बीच प्रेम भावना अधिक मजबूत होगी। पारस्परिक विश्वास बढ़ेगा। आप एक दूसरे को अधिक अच्छे ढंग से समझने का प्रयास करेंगे। जीवनसाथी के साथ यात्रा का योग बनेगा। परंतु 20-06-2017 से 25-10-2017 के दौरान शनि का पुनः वृश्चिक राशि में अर्थात् आपकी राशि से सातवें स्थान में भ्रमण दांपत्य संबंधों में थोड़ी नीरसता बढ़ाएगा। जीवनसाथी के साथ कभी-कभी महत्व के विषयों पर निरर्थक वादविवाद रहेगा। आठवें शनि का भ्रमण होने से परिवार में विघ्न-क्लेश होगा। आपके जन्म के चंद्र से चौथे भाव में राहु के कारण माता को परेशानी अधिक रहेगी। उनके स्वास्थ्य की भी संभाल करनी पड़ेगी। भाई-बहन का सहयोग अपेक्षाकृत कम मिलेगा। मनमुटाव रहने के कारण घर से दूर रहने का प्रसंग बनेगा। पांचवें गुरु की स्थिति से संतान प्राप्ति भी होगी। संतान की पढ़ाई के लिए यह भ्रमण शुभ रहेगा। हालांकि, इसके साथ पढ़ाई को लेकर थोड़ी चिंता भी रहेगी। मार्च माह के दौरान मित्र रिश्तेदारों से लाभ होने की विशेष संभावना है। 7 फरवरी तक गुरु वक्री होने से संतान के साथ वैचारिक मतभेद की संभावना बढ़ेगी। राहु-केतु की स्थिति चौथे-दसवें स्थान पर होने से रिश्तेदारों से अपेक्षित सहयोग नहीं मिलेगा। माता-पिता का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। परिवार के सदस्यों के साथ बोलचाल में इस समय विशेष संयम रखने की गणेशजी सलाह दे रहे हैं। 6-4-2017 से 21-6-2017 के दौरान संतान की पढ़ाई तथा विवाह संबंधी चिंता रहेगी। अविवाहित संतान के विवाह का योग बनेगा। पिता का स्वास्थ्य नरमगरम रहेगा। आर्थिक व सामाजिक समस्या उत्पन्न होगी।
#

Trending (Must Read)

वृषभ साप्ताहिक राशिफल – 25-06-2017 – 01-07-2017

वृषभ मासिक राशिफल – Jun 2017

वृषभ सुसंगतता

अग्नि तत्व की राशियाँ
भूमि तत्व की राशियाँ
वायु तत्व की राशियाँ

वृषभ राशि के बारे में जानिए

संस्कृत नाम : वृषभ | नाम का अर्थ : बैल | प्रकार : पृथ्वी स्थिर नकारात्मक | स्वामि ग्रह : शुक्र | भग्यशाली रंग : नीला, नीला-हरा | भाग्यशाली दिन : शुक्रवार, सोमवार

अधिक जानें वृषभ