धनु राशि के प्रेमव्यवहार

धनु राशि के प्रेमव्यवहार

तत्व :
वायु

गुण :
स्परिवर्तनशील; पुरुषत्व; सकारात्मक

स्वामी ग्रह :
बृहस्पति

प्यार में देने वाले सबक :
औपचारिकता,ईमानदारी और प्यार में एक दुसरे को जानना और समझना और जताना कि हां मुझे प्यार हैं |

प्यार में सीखने वाले सबक :
ईमानदारी और समर्पण

व्यक्तिव :
चंचल,जिज्ञासु और दार्शनिक धनु राशि के जातको के लिए किसी भी चीज या किसी व्यक्ति पर पहली बार में विश्वास करना कठिन होता हैं |और इन्हे अपनी राय कायम करने में वक्त लगता हैं |जन्मजात जिज्ञासु प्रवृति होने के कारण और तर्क बुद्धि होने के कारण ये अपने आप और दुसरो के व्यवहार का विश्लेषण करने में लगे रहते हैं |अपनी वाचालता के कारण और दुसरो को जानने समझने के चक्कर में कभी कभी ये ऐसे प्रश्न पूछ बैठते हैं जो दुसरो को शर्मिन्दा कर सकते हैं या रूखे लग सकते हैं |ये गहरे सत्य को जानने ,समझने,अध्ययन करने के लिए कितनी भी मेहनत कर सकते हैं | पर इन्हे जटिल शिक्षा पद्दति और औपचारिक प्रशिक्षण लेना अच्छा नहीं लगता हैं |ये आशावादी तो होते हैं पर साथ ही साथ शंकालु भी होते हैं |ये अपनी स्वतंत्रता को प्यार करते हैं बंधन इन्हे परेशान और चिड़चिड़ा बना देता हैं | ये कट्टरपंथी ,नास्तिक,उद्दण्ड तथा गंभीर हो सकते हैं |

मेष राशि के लिए प्यार :
सत्य और अनन्त जिसकी खोज अभी तक नहीं की गयी हो अत: जिसे गुम जाने से पूर्व खोजा जाना और अन्वेषण करना जरूरी हो,इनके लिए प्यार ऐसा होता हैं | ये अन्दर से असुरक्षित होते हैं पर ये अपनी असुरक्षा की भावना को अपने चेहरे के बनावटीपन के भीतर छुपाये रहते हैं | इन्हे वास्तविकता से डर लगता हैं कभी कभी ये इतने परेशान हो जाते हैं कि इन्हे संभाला नहीं जा सकता हैं | ये आदर्शवाद की शरण में जाना चाहते हैं जो इनसे कोसो दूर होता हैं | ये अपने अंर्तमन को समझने में नाकामयाब होते हैं इसलिए ये चाहे कितने भी सामाजिक हो जायें ये मन की खुशी से वंचित रहते हैं | अपने स्थान के प्रति अति सचेत धनु राशि के जातक प्यार को बड़े सीमित नजरिए से देखते हैं और मुक्त नजरिए से नहीं देखते हैं फ़िर भी इनके प्रेमी\प्रेमिका को इनसे उत्साह आदर्शवाद और आशावाद सीखना चाहिए |

प्रेम आचरण :
धनु राशि के जातक हंसमुख, आशावादी, मिलनसार और साहसिक होते हैं | हालांकि, कभी कभी इनकी बेबाक राय और मासूम उद्दंडता इनके साथी को अपमानजनक लग सकती हैं | परन्तु ये अपनी उल्लासपूर्ण प्रकृति के साथ, और किसी भी विषय पर कुछ भी बात करने की क्षमता, साहस की भावना, और यात्रा के लिए प्यार की वजह से अपने रुठे प्रेमी का मन फ़िर से जीत लेते हैं |ये अपने नए रिश्ते से खुश रहते हैं | पर जैसे जैसे यह रिश्ता परवान चढ़ता जाता हैं ये जिम्मेदारियों और प्रतिबद्धता से विमुख होने लगते हैं और यह भूल जाते है कि एक रिश्ते को बनाए रखने के लिए उअसे निरंतर प्यार के पानी से सींचना होता हैं | ये अपने सपनो की दुनिया में डुबे रहते हैं जिससे इनके रिश्तों मे प्रतिकूल असर पड़ता हैं |

धनु साप्ताहिक राशिफल – 15-09-2019 – 21-09-2019

सुसंगतता

अग्नि तत्व की राशियाँ
भूमि तत्व की राशियाँ
वायु तत्व की राशियाँ

धनु राशि के बारे में जानिए

संस्कृत नाम : धनु | नाम का अर्थ : धनुर्धर | प्रकार : अग्नि परिवर्तनशील सकारात्मक | स्वामि ग्रह : बृहस्पति | भग्यशाली रंग : जामुनी, बैंगनी, लाल, गुलाबी | भाग्यशाली दिन : बृहस्पतवार