Basant Panchami 2022 पर 12 राशियों की 12 पूजा विधि

Basant Panchami 2022

बसंत पंचमी (Basant Panchami 2022) को ज्ञान और बुद्धि की देवी सरस्वती की जयंती के रूप में भी मनाया जाता है। जिस तरह धन की देवी माता लक्ष्मी के पूजा के लिए दीपावली का दिन सबसे महत्वपूर्ण है। शक्ति की देवी दुर्गा के लिए नवरात्रि का त्योहार महत्वपूर्ण है। ठीक उसी तरह ज्ञान, संगीत, कला, विज्ञान और शिल्प-कला की देवी सरस्वती की पूजा के लिए बसंत पंचमी (Basant Panchami 2022) का त्योहार मनाया जाता है। वसंत पंचमी  (Vasant Panchami 2022) हिंदू कैलेंडर के अनुसार माघ महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है। जानिए इस साल बसंत पंचमी (Basant Panchami) किस दिन रहेगी …

कब है बसंत पंचमी 2022  (Kab hai Basant Panchami 2022)

बसंत पञ्चमी (Vasant Panchami 2022) – 5 फरवरी 2022, दिन- शनिवार

बसंत पञ्चमी सरस्वती पूजा मुहूर्त – सुबह 07 बजकर 05 मिनट से दोपहर 12 बजकर 41 मिनट तक

अवधि – 05 घण्टे 36 मिनट्स

Basant Panchami 2022 पूजा का विशेष मुहूर्त – दोपहर 12 बजकर 41 मिनट

पञ्चमी तिथि प्रारम्भ – 05 फरवरी 2022 को सुबह 03 बजकर 47 मिनट

पञ्चमी तिथि समाप्त – 06 फरवरी 2022 को सुबह 03 बजकर 46 मिनट

बसंत पंचमी 2022 के दिन क्या करें (Basant Panchami 2022 par kya karain)

  • बसंत पंचमी के इस शुभ अवसर पर घर में सरस्वती माता की पूजा अवश्य करें।
  • देश के कई हिस्सों में इस दिन पतंग उड़ाने की भी परंपरा है।
  • बसंत पंचमी के दिन आपको सफेद या फिर पीले रंग के वस्त्र धारण करना चाहिए।
  • माता सरस्वती की पूजा के दौरान उनको सरसो या फि गेंदे के फूल चढ़ाना लाभदायक होगा।
  • बच्चों की शिक्षा आरंभ करवाने का यह सबसे अच्छा दिन हैं।
  • स्कूल और कॉलेज में इस पवित्र दिन पर सरस्वती पूजा अवश्य करवाना चाहिए।
  • शैक्षणिक संस्थान या फिर किसी भी नए उद्योग की शुरुआत के लिए यह सबसे अच्छा दिन होगा।
  • बसंत पंचमी के शुभ अवसर पर आप अपने पितरों के लिए तर्पण भी कर सकते हैं। इससे सफलता के द्वार खुल जाते हैं।

(क्या 2022 में है आपकी सफलता के योग, पाइए 2022 के लिए अपनी FREE कुंडली रिपोर्ट)

राशि के अनुसार जानिए बसंत पंचमी (Basant Panchami 2022) पर मां को प्रसन्न करने के लिए क्या करें?

पौराणिक कथाओं के अनुसार किसी भी देवी-देवता को प्रसन्न करने में ज्योतिष शास्त्र भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। बसंत पंचमी (Vasant Panchami 2022) पर बुद्धि और ज्ञान की देवी को प्रसन्न करने के लिए भी ज्योतिष शास्त्र में कई उपाय बताए गए हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार माता सरस्वती की आराधना करते हैं, तो ज्ञान, कला, संगीत और वाणी से जुड़ी सारी समस्याएं दूर हो जाती है। जानिए आपकी राशि के अनुसार जानते हैं माता सरस्वती को प्रसन्न करने के उपाय

मेष राशि

मेष राशि के लोगों के मन की चंचचलता के कारण इनमें एकाग्रता की कमी अक्सर देखी जाती है। अगर आप अपनी इस समस्या से छुटकारा पाना चाहते हैं और इस बसंत पंचमी 2022 पर देवी सरस्वती को प्रसन्न कर उनका आशीर्वाद लेना चाहते हैं, तो लाल रंग की कलम देवी माता के चरणों में अर्पित करें। इससे आपकी एकग्रता बनी रहेगी। साथ ही आपको सरस्वती कवच का पाठ करना चाहिए।

वृषभ राशि

वृषभ राशि के जातकों में अक्सर देखा जाता है कि इन्हें समझने और चीजों को लंबे समय तक याद रखने में समस्या का सामना करना पड़ता है, इसलिए अगर आप खुद को बेहतर करना चाहते हैं, तो इस Vasant Panchami 2022 पर देवी मां को हरे रंग की कलम अर्पित करें। इसके अलावा पीले चावल का भोग लगाकर माता की मूर्ति को सफेद चंदन जरूर लगाएं।

मिथुन राशि

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मिथुन राशि के जातकों का दिमाग बहुत तेज होता है, लेकिन एक जगह नहीं लगा पाते हैं। इसलिए यह हमेशा अपने ही निर्णयों को लेकर असमंजस की स्थिति में रहते हैं। आपको इस बसंत पंचमी 2022 पर सरस्वती माता को सफेद या पारदर्शी कलम भेंट करना चाहिए। साथ ही गायत्री मंत्र का जाप कर सफेद फूलों की माला माता को चढ़ानी चाहिए। इससे कुंडली के दोष भी दूर होते हैं।

(आपकी कुंडली में कोई विशेष लाभदायक योग या नुकसान देने वाला दोष? पाएं अपनी FREE जन्मकुंडली रिपोर्ट, केवल यहां पर)

कर्क राशि

कर्क राशि के जातकों में अच्छी बुद्धि के साथ साथ विद्या का भी योग अच्छा होता है। लेकिन, शुरुआती समय में इनको सही दिशा नहीं मिल पाती है, जिससे इन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। बेहतर कल के लिए इस साल बसंत पंचमी 2022 सरस्वती को लाल रंग का कलम अर्पित करें। साथ ही किसी भी सरस्वती मंत्र का जाप करते हुए सफेद रंग के फूल और चंदन अर्पित करें।

सिंह राशि

सिंह राशि के जातक बहुत बुद्धिमान होते हैं, लेकिन इनके सिर पर जिम्मेदारियां इतनी होती हैं कि यह अक्सर पिछड़ जाते हैं। यदि आप अपना बेहतर कल चाहते हैं, तो Vasant Panchami 2022 मां को पीले रंग की कलम अर्पित करें और सरस्वती देवी को खीर का भोग लगाकर गरीबों में प्रसाद वितरण करें।

कन्या राशि

कन्या राशि के जातकों की भी बुद्धि उत्तम होती है, और शिक्षा के क्षेत्र में भी यह बहुत अच्छा प्रदर्शन करते हैं। लेकिन, इनके अंदर का आत्मविश्वास कभी कभी इनके लिए घातक साबित हो सकता है। इसलिए Basant Panchami 2022 अपने अतिविश्वास पर नियंत्रण पाने के लिए आप माता सरस्वती को नीले रंग की कलम चढ़ाएं और सरस्वती पूजा के बाद गायत्री मंत्र का जाप करें।

तुला राशि

तुला राशि के लोग ग्लैमर की दुनिया में बड़ी आसानी से फंस जाते हैं, और दिखावा करते हुए अन्य चीजों पर ध्यान नहीं देते हैं। ऐसी परिस्थियों के कारण उनकी शिक्षा पर असर पड़ता है और उनका कॅरियर समाप्त होने की कगार पर आ जाता है। इससे निपटने के लिए इनके काले रंग या फिर नीले रंग की कलम माता सरस्वती को इस बसंत पंचमी पर अर्पित करना चाहिए और संपूर्ण विधिविधान से सरस्वती माता की पूजा कर पीले चावल का भोग लगाना चाहिए।

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के लोगों की समस्या यह है कि ये लोग अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं, उसके लिए मेहनत भी करते हैं, लेकिन सबकुछ उनकी मेहनत के उलट हो जाता है। यानी बनता हुआ काम भी बिगड़ जाता है। यह लोग सही समय पर सही निर्णय लेने में सक्षम नहीं है। अपने आने वाले कल को बेहतर बनाने के लिए बसंत पंचमी 2022 पर इन लोगों को मां सरस्वती को पीले रंग की कलम अर्पित करना चाहिए। इसके साथ ही सरस्वती कवच का पाठ कर देवी सरस्वती के मंत्रों का उच्चारण करना चाहिए।

(2022 आपकी राशि के लिए क्या लेकर आया है, पढ़िए भविष्यफल 2022, क्लिक करें यहां)

धनु राशि

धनु राशि के लोगों को जीवन के शुरुआती चरण में कई सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ये लोग मनचाही शिक्षा से वंचित रह जाते हैं। हालांकि कॅरियर बनाने में थोड़े बहुत सफल हो जाते हैं। इन्हें अपने आने वाला कल सुधारने के लिए लाल रंग की कलम माता को अर्पित करना चाहिए। साथ ही Basant Panchami 2022 को सरस्वती की पूजा के बाद भगवान गणेश की भी पूजा करना चाहिए और 5 कन्याओं को पीले रंग के वस्त्र का दान करना चाहिए।

मकर राशि

मकर राशि के जातकों का सकात्मक पक्ष यह है कि यह लोग सही समय पर सही निर्णय लेते हैं। यह लोग प्रतियोगिताओं और शिक्षा में बेहतरीन प्रदर्शन भी करते हैं। लेकिन, कई मामलों में इन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, यह अपने लक्ष्य से भटक जाते हैं। अपने लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित करने के लिए इस Vasant Panchami 2022 आपको सफेद या पारदर्शी कलम माता रानी को भेंट करना चाहिए और सफेद चंदन की माला का जाप करना अत्यंत लाभकारी होगा।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों की बुद्धि बहुत ही तेज होती है, इसलिए यह लापरवाह भी हो जाते हैं। इसी लापरवाही का नतीजा यह होता है, कि यह लोग ऊंचे मुकाम पर पहुंचने में नाकाम हो जाते हैं। अपनी इस समस्या से निजात पाने के लिए आपको इस बसंत पंचमी पर आपको हरे रंग का कलम माता सरस्वती को भेंट करना चाहिए। साथ ही गरीबों को अनाज का दान करना आपके लिए बेहद फायदेमंद होगा।

मीन राशि

मीन राशि के लोग काफी इमोशनल होते हैं। कभी-कभी वे दूसरों या खुद को नुकसान पहुंचाने के विचार से भी परेशान रहते हैं। आपको इस तरह के विचार ना आएं, तो आपके लिए बेहतर समय आएगा। आप शांति से भी रहेंगे और हर जगह अच्छा प्रदर्शन करेंगे। इस तरह के विचारों को अपने अंदर प्रवेश करने से रोकने के लिए आपको वसंत पंचमी 2022 (Vasant Panchami 2022) को आपको माता रानी को सफेद रंग का कलम अर्पित करना चाहिए। साथ ही आपके कॅरियर में भी उन्नति होगी।

(यदि अब तक कॅरियर को लेकर कोई सही निर्णय नहीं ले पाएं हैं, तो एक बार हमारे विशेषज्ञ ज्योतिषियों से बात करें जरूर करवाएं अपनी कुंडली का सही विश्लेषण और आसान उपाय पाएं, पहला कंसलेटेशन बिल्कुल FREE) 

Follow Us