For Personal Problems! Talk To Astrologer

मकर नक्षत्र

मकर नक्षत्र

उत्तरषाढा :
इस नक्षत्र के देव विश्व नाम के १३ देव और स्वामी सूर्य है | इस राशि के सारे गुण इस नक्षत्र के जातको में पाए जाते हैं | उत्साह ज्यादा और स्वार्थ कम पाया जाता है | ये बहुत शीघ्र तरक्की करना चाहते हैं | इनमें स्वार्थ के साथ साथ परमार्थ की भावना भी पायी जाती है | भविष्य को ध्यानमें रखकर वर्तमान में थोड़ा-थोड़ा जमा करते हैं | अपनी पसंद का साथी चुनते हैं |
श्रवण :
इस नक्षत्र के देव विष्णु और स्वामी चंद्र है | इस नक्षत्र और इस राशि मे जन्मे जातकों मे इस राशि के दुर्गुण पाए जाते हैं | आकर्षक नैन- नक्श का चेहरा होता है | ये शांतिप्रिय, धार्मिक और सिद्धान्तवादी होते हैं |इन्जिनियरिंग और टेक्नोलाजी के क्षेत्र में काम करने में माहिर होते हैं | कौटुंबिक जीवन सीधा और सरल होता है |
धनिष्ठा :
इस नक्षत्र के देव वासव और स्वामी मंगल है | ये जातक अति उत्साही होते है और इस वजहसे कोई भी कार्य करने के लिये हमेशा तत्पर रहते है | इनमें स्वार्थवृत्ति कम पयी जाती है | इनमें शारीरिक सुख पाने जैसे जुनुन होता है |
 

मकर साप्ताहिक राशिफल – 19-05-2019 – 25-05-2019

सुसंगतता

अग्नि तत्व की राशियाँ
भूमि तत्व की राशियाँ
वायु तत्व की राशियाँ

मकर राशि के बारे में जानिए

संस्कृत नाम : मकर | नाम का अर्थ : बकरा | प्रकार : पृथ्वी मूलभूत नकारात्मक | स्वामि ग्रह : शनि | भग्यशाली रंग : भूरा, इस्पात, स्लेटी, काला | भाग्यशाली दिन : शनिवार