शिवलिंग के प्रकार और उनके अभिषेक से मिलने वाले शुभ लाभ


Share on :

शिवलिंग के प्रकार और उनके अभिषेक से मिलने वाले शुभ फल

पारद शिवलिंग के पूजन से होती है सुख-समृद्धि की प्राप्ति
भगवान शंकर का अभिषेक करने से वे प्रसन्न रहते हैं और भक्तों पर अपनी कृपा बरसाते हैं। अभिषेक जल से या दूध से किया जाता है। सावन माह में तो भोलेनाथ के अभिषेक से अभिष्ट फल की प्राप्ति होती है। जिस तरह शिवजी के अभिषेक से पूण्य फल की प्राप्ति होती है, उसी तरह विभिन्न प्रकार के शिवलिंग का अभिषेक करने से अलग-अलग मनोकामनाओं की पूर्ति होती है। इस बात का जिक्र धर्मसिंधू में भी है। 

विशेष सामग्रियों से बने शिवलिंग और उनके अभिषेक से मिलने वाले शुभ फल

पारद शिवलिंग – पारद शिवलिंग सर्वोत्तम होता है। घर और दुकान में रखकर पूजा करने से व्यापार बढ़ने के साथ ही सौभाग्य और सुख-शांति की प्राप्ति होती है।
स्वर्ण निर्मित शिवलिंग – सुख-समृद्धि के साथ ही स्वर्ग की प्राप्ति होती है।
मिश्री से बने शिवलिंग – रोगों का नाश होता है। 
मोती से निर्मित शिवलिंग – स्त्री के सौभाग्य में वृद्धि होती है।
हीरा निर्मित शिवलिंग – दीर्घायु प्राप्त होती है।
पुखराज के शिवलिंग – धन-धान्य मिलता है।
नीलम के शिवलिंग – सम्मान की प्राप्ति होती है।
स्फटिक के शिवलिंग – मनोकामनाओं की पूर्ति होती है।
लहसुनिया का शिवलिंग – शत्रुओं पर विजय मिलती है।
चांदी से निर्मित शिवलिंग – धन-धान्य की प्राप्ति होती है और पितरों को मुक्ति मिलती है।
तांबे का शिवलिंग – लंबी आयु की प्राप्ति होती है।
पीतल का शिवलिंग – समस्त सुखों की प्राप्ति होती है।
कांसे का शिवलिंग – यश मिलता है।
लोहे का शिवलिंग – शत्रुओं का नाश होता है।
बांस का शिवलिंग – बांस के अंकुर को शिवलिंग के आकार में काटकर पूजा करने से वंश में वृद्धि होती है।
मिर्च, पीपल के चूर्ण, सोंठ और नमक से बना शिवलिंग – इनकी पूजा वशीकरण आदि के लिए की जाती है। 
फूलों से बना शिवलिंग – भूमि और भवन की प्राप्ति होती है।
फल के शिवलिंग – फल की शिवलिंग के समान पूजा करने से उत्पादन में वृद्धि होती है।
आटे से बना शिवलिंग – जौ, गेंहूं और चावल के आटे को समान भाग में मिलाकर बने शिवलिंग के पूजन से सुख-समृद्धि और संतान की प्राप्ति के साथ ही रोग से भी बचाव होता है। 
उड़द के आटे से बना शिवलिंग – सुंदर पत्नी मिलती है
मक्खन से बना शिवलिंग – समस्त सुख की प्राप्ति होती है।
गुड़ का शिवलिंग – शिवलिंग पर अन्न चिपकाकर पूजा करने से उपज बढ़ती है और अन्न की प्राप्ति होती है।
भस्म से बना शिवलिंग – अभिष्ट सिद्धि प्राप्त होती है।
दही से बना शिवलिंग – दही को निचोड़कर बनाए गए शिवलिंग के पूजन से सुख-संपत्ति और धन की प्राप्ति होती है।
आंवले का शिवलिंग – इस शिवलिंग पर रुद्राभिषेक से मुक्ति मिलती है।
कपूर का शिवलिंग – आध्यात्मिक उन्नति होती है।
दुर्वा का शिवलिंग – अकाल मृत्यु का भय दूर होता है।
पीपल की लकड़ी से बना शिवलिंग – दरिद्रता से मुक्ति मिलती है।
बीवर की मिट्टी का शिवलिंग – विषैले जंतुओं से बचाव होता है।

22 Jul 2019


View All blogs

More Articles