For Personal Problems! Talk To Astrologer

सचिन पायलट: राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018


Share on :


सचिन पायलटः इस बार सत्ता मिलेगी या फिर होगी मात

देश के पांच राज्यों में छत्तीसगढ़ चुनाव के साथ ही विधानसभा चुनाव की शुरूअात हो गई है। राजस्थान में 7 दिसंबर को मतदान होना है। यहां सचिन पायलट टोंक विधानसभा सीट से सत्ता पक्ष के विरुद्ध चुनावी मैदान में हैं और मुख्यमंत्री पद के लिए उनकी दावेदारी भी मजबूत है। ऐसे में पक्ष व विपक्ष की लहरों के बीच सचिन पायलट के सत्ता तक का सफर कितना अासान होगा, इसका पता तो चुनाव के बाद ही लग सकेगा। क्योंकि इसी सीट से राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपने करीबी और कैबिनेट मंत्री युनुस खान को टिकट दिया है। ऐसे में मुकाबला दिलचस्प हो गया है।

पायलट का कॅरियर का अनुकूल दौर

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का प्रतिनिधित्व कर रहे सचिन पायलट, राजस्थान की राजनीति में एक जाना-पहचाना नाम है। लेफ्टिनेंट सचिन पायलट एक भारतीय राजनीतिज्ञ तथा भारत सरकार की पंद्रहवीं लोकसभा के मंत्रीमंडल में संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रहे हैं। सचिन पायलट अपने राजनीतिक कॅरियर के अनुकूल चरण से गुजर रहे हैं। वे पूरी तैयारी के साथ अागामी चुनावी मैदान में उतरेंगे। हालांकि राहु का पारगमन पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से प्रतिरोध का संकेत दे रहा है, जो उनकी प्रगति की राह में बाधा उत्पन्न कर सकते हैं। कांग्रेस ने इस बार पायलट को टोंक जिले के टोंक विधानसभा सीट से टिकट दिया है। ऐसे में इस बार के चुनाव में जीत दर्ज कर क्या सचिन पायलट राज्य की सत्ता पर काबिज हो सकेंगे या उन्हें मात खानी पड़ेगी? जानते हैं सचिन पायलट की विस्तृत कुंडली के जरिए। 

सचिन पायलट  जन्म डिटेल

जन्म तिथि: 7 सितंबर 1977 
जन्म समय: 5.37 बजे (अपुष्ट)
जन्म स्थान: सहारनपुर, भारत


ज्योतिषीय विशेषताएं

प्राप्त जन्म विवरण के विश्लेषण के अाधार पर पता चलता है कि, भले ही सचिन पायलट अपने कॅरियर के अनुकूल दौर से गुजर रहे हों, लेकिन ग्रहीय स्थिति के कारण उन्हें परेशानी हो सकती है। अब इन ग्रहीय स्थितियों को थोड़ी गहराई से देखते हैं, जिससे आपको पूरे फलादेश को समझने में और भी आसानी होगी।  

1. वर्तमान में सचिन पायलट शनि की महादशा और शुक्र भुक्ति के प्रभाव में हैं। 10वां स्वामी शुक्र, बुध के साथ नक्षत्र परिवर्तन में है। 
2. शनि अात्मकारक है और पारगमित बृहस्पति, शनि और शुक्र दोनों का सामना कर रहा है। इसके अलावा पारगमित बृहस्पति 10 वें भाव में भ्रमण कर रहा है।
3. राहु का पारगमन 12 वें घर से हो रहा है।
4. इसी तरह शनि 5 वें घर से गुजर रहा है। 

पार्टी में मजबूत नेता के रुप में उभरेंगे पायलट !

 
सचिन पायलट अपने राजनीतिक कॅरियर के अनुकूल चरण से गुजर रहे हैं। इस दौरान वे पूरी तैयारी और अधिकतम विश्वास के साथ चुनावी मैदान में उतरेंगे। वह मतदाताओं के बीच जाकर उनकी भावनाओं को समझेंगे जो राज्य की राजनीति में उनके महत्व को दर्शाएगा। उनके करिश्माई व्यक्तित्व और मजबूत नेतृत्व की गुणवत्ता से उनकी पार्टी को राजस्थान विधानसभा चुनाव में कई सीटें जीतने में मदद करेगी। उनका मजबूत नेतृत्व उनकी पार्टी की संभावनाओं को बढ़ावा देगा। वे मजबूत होंगे और अपनी पार्टी में सबसे मजबूत नेता के रूप में उभरेंगे। मुख्यमंत्री पद के लिए उनकी संभावनाएं मजबूत दिखती हैं। हालांकि, राहु के पारगमन से पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से गंभीर प्रतिरोध और विरोध का संकेत मिल रहा है। इन विवादों से उनकी प्रगति अवरुद्ध हो सकती है। 
 


28 Nov 2018


View All blogs

More Articles