For Personal Problems! Talk To Astrologer

मंगल गोचर 2019 : मंगल का वृषभ राशि में गोचर – मंगल का राशि परिवर्तन


Share on :


22 मार्च 2019 शुक्रवार की दोपहर तीन बजे के आसपास मंगल ग्रह वृषभ राशि में प्रवेश करेंगे। अभी मंगल अपनी राशि मेष में थे। कुछ दिनों के लिए मंगल, गुरु के ठीक सामने होंगे। ये स्थिति बहुत से लोगों को राहत देगी। वहीं कई दिनों से कई लोगों की जिंदगी में जो तुफान था, वह कम हो जाएगा। सात मई तक मंगल वृषभ राशि में रहेंगे। किस राशि पर इसका क्या प्रभाव होगा। आईए देखते हैं।

 

मेष राशि- दूसरे स्थान में से भ्रमण

 
मेष राशि में दूसरे स्थान से मंगल का गोचर होगा। मंगल की शुभ स्थिति मेष राशि के जातकों के लिए धन प्राप्ति का योग बनाएगी। पारिवारिक सुख में आंतरिक विवादों की संभावना को देखते हुए संयम रखना होगा। यात्रा-प्रवास का योग बनेगा। धार्मिक यात्रा की भी संभावना है। परस्पर संबंधों और विद्याभ्यास में आपको अनुकूलता रहेगी। 

वृषभ राशि -पहले स्थान से भ्रमण

 
 वृषभ राशि के ऊपर से मंगल का ट्रांजिट कई तरह के लाभ दे सकता है। चल-अचल संपत्ति से जुड़े काम बनेंगे। शादीशुदा लोगों में विवादों के अंदेशे को देखते हुए जीवनसाथी के साथ संयम से बात करें।  उनकी बातों को समझने का प्रयास कीजिए। सार्वजनिक जीवन पर अपनी वाणी पर कंट्रोल रखना होगा नहीं तो लोगों के साथ गलतफहमियां बहुत बढ़ जाएंगी। 

मिथुन राशि -बारहवें स्थान से भ्रमण

 
मिथुन राशि के जातकों के लिए मंगल चंद्र से बारहवें स्थान यानी व्यय स्थान से गुजरेगा। इससे मिथुन जातकों के आकस्मिक खर्च होने की संभावना बढ़ जाएगी। बीमारी घेर लेंगी। यात्रा-प्रवास के योग बनेंगे। प्रोफेशनल मोर्चे पर अर्थात नौकरी या धंधे में आंतरिक विवादो की संभावना है। दांपत्य जीवन में प्रतिकूलता रहने की आशंका रहेगी। 

कर्क राशि- ग्यारहवें स्थान से भ्रमण

कर्क राशि के जातकों के लिए वृषभ का मंगल पंचमेश व कर्मेश बनकर ग्यारहवें स्थान से भ्रमण कर रहा है। योग कारक ग्रह मंगल के लाभ स्थान पर होने से इस राशि वालों के लिए स्थिति अच्छी कही जाएगी। इस मंगल के गोचर की वजह से निजी जीवन की अनुकूलता में वृद्धि होगी। कामकाज में प्रगति के संकेत हैं। आर्थिक मोर्चे पर उन्नति की आस लगा सकते हैं। वाणी पर संयम रखना सीखें अन्यथा कुंटुंबजनों से विवाद हो सकता है।

सिंह राशि -दसवें स्थान में से भ्रमण

 
सिंह राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का मंगल भाग्येश तथा सुखेश बनकर दसवें भाव से भ्रमण करेगा। यह मंगल ‘ दक्षिणए यमाय नमः’ श्लोक के अनुसार स्थान बली हो जाता है। सिंह राशि के जातकों के लिए यह मंगल उनके ध्येय में सफलता प्रदायक साबित होगा, परंतु उसके लिए उनको कड़ी मेहनत की आवश्यकता होगी। कार्यक्षेत्र से जुड़े नए अवसर हाथ लग सकते हैं। चल-अचल संपत्ति के कार्यों में भी अनुकूलता रहेगी। 

कन्या राशि-नौवें स्थान में से भ्रमण

कन्या राशि के जातकों के लिए मंगल भाग्य स्थान से जाएगा। इससे कन्या राशि के जातक अचानक से किसी दुर्घटना या चोट के शिकार हो सकते हैं। वाहन चलाते समय अपना ध्यान रखें। व्यर्थ की जल्दबाजी घातक हो सकती है। जरूरत हो तो हेल्थ की समस्या पता चलते ही अपने डॉक्टर से इलाज करवाएं। लापरवाही ना बरतें। आपके दैनिक प्रोफेशनल कामों में प्रगति दिखाई देगी। आकस्मिक धन प्राप्ति के योग हैं।

तुला राशि -आठवें स्थान में भ्रमण

तुला राशि में वृषभ का मंगल आठवें स्थान में से गोचर करता है। इस वजह से इस अंतराल में आपको अपनी तबीयत का ध्यान रखना होगा। अन्यथा छोटे-मोटे विकार बड़ी बीमारी का रूप ले सकते हैं। वाहन चलाते समय जरा भी असावधान मत रहिए। मध्यम फलदायी समय है। पारिवारिक सुख भी सामान्य तौर पर मिलेगा। 

वृश्चिक राशि- सातवें स्थान से भ्रमण

 
वृश्चिक राशि के जातकों के लिए मंगल दांपत्यजीवन में पति-पत्नी के बीच मतभेद की संभावना बढ़ेंगी। आप अपनी बात को सच साबित करने और अपनी बात को मनवाने के लिए जोर जबरदस्ती से पेश आएंगे। जहां तक संभव हो दलीलबाजी को टालें। प्रोफेशनल मोर्चे पर हर एक व्यक्ति के साथ रिश्ते अच्छे रखें और कामकाज में लोगों के साथ विनम्रता से पेश आइए। स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना  होगा। 
22 मार्च 2019 शुक्रवार की दोपहर तीन बजे के आसपास मंगल ग्रह वृषभ राशि में प्रवेश करेंगे। अभी मंगल अपनी राशि मेष में थे। कुछ दिनों के लिए मंगल, गुरु के ठीक सामने होंगे। ये स्थिति बहुत से लोगों को राहत देगी। वहीं कई दिनों से कई लोगों की जिंदगी में जो तुफान था, वह कम हो जाएगा। सात मई तक मंगल वृषभ राशि में रहेंगे। किस राशि पर इसका क्या प्रभाव होगा। आईए देखते हैं।

 
 

धनु राशि -छठें स्थान से भ्रमण

 
धनु राशि वालों के लिए वृषभ का मंगल पंचमेश और व्ययेश होकर छठें स्थान में से भ्रमण करेगा। अनपेक्षित खर्च होने की संभावना है। खर्च पर अंकुश नहीं रखेंगे, तो अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए दूसरे के सामने हाथ फैलाने तक की नौबत आ सकती है। स्वास्थ्य के मामले में प्रतिकूल संयोग नजर आ रहा है। घनिष्ठ संबंधों से लाभ की आशा कर सकते हैं। विद्याभ्यास हेतु अनुकूल समय रहेगा।

मकर राशि- पंचम स्थान में से भ्रमण

 
मकर राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का मंगल सुखेश और लाभेश होकर पंचम स्थान में से भ्रमण करता है। इससे जातकों को संतान की ओर से शुभ परिणाम देखने को मिलेगा। आर्थिक लाभ के योग रूप लेंगे। चल-अचल संपत्तियों में लाभ अर्जित करने के लिए अनुकूल समय होने से हमारे जो जातक जमीन संबंधी सौदों का विचार कर रहे हैं वे एेसे निर्णय ले सकेंगे। कुल मिलाकर यदि देखा जाए तो आपके लिए शुभ व फलदायी रहेगा। 

कुंभ राशि- चौथे स्थान में से भ्रमण

 
कुंभ राशि के जातकों के लिए वृषभ का मंगल तृतियेश और कर्मेश होकर चौथे स्थान से भ्रमण करता है। इससे जातकों के यात्रा के योग रहेंगे। माता के लिए  शुभ व फलदायी समय रहेगा। नयी संपत्ति खड़ी करने और घर से संबंधित कामकाजों में खर्च की संभावना बढ़ेंगी। वाहन या इलेक्ट्रॉनिक्स की चीजों की खरीदी करने करने की संभावना है। 

मीन राशि- तृतीय स्थान में से भ्रमण

 
मीन राशि के जातकों के लिए वृषभ राशि का मंगल धनेश व भाग्येश होकर तीसरे स्थान यानी कुंडली के पराक्रम स्थान से भ्रमण करता है। भाग्यवृद्धि के मौके रहेंगे एवं आपके सुख व समृद्धि में देखते ही देखते वृद्धि होगी। पारिवारिक सुख उठा सकेंगे। आर्थिक मोर्चे पर भी आपकी स्थिति मजबूत बनेगी। प्रोफेशनल मोर्चे पर कुछ नया साहस करने की प्रेरणा जगेगी।

श्रीगणेशजी के आशीर्वाद के साथ










20 Mar 2019


View All blogs

More Articles