केतु गोचर 2020 – केतु राशि परिवर्तन – गोचर का राशियों पर प्रभाव


Share on :


23 सितंबर 2020 को केतु धनु राशि से वृश्चिक राशि में गोचर करेंगे और आने वाले अठ्ठारह महीने यनि 12 अप्रेल 2022 तक वृश्चिक में भ्रमण करेंगे। इस दौरान राशिचक्र की विभिन्न राशियों पर भी केतु के भिन्न – भिन्न प्रभाव देखने को मिलेंगे। ज्योतिष के सिद्धांतों के आधार पर यह माना जात है कि केतु जिस राशि में बैठते हैं उसी के आधार पर अपने स्वभाव अनुसार जातक को प्रभावित करते हैं। केतु को तत्व आधार पर देखें तो केतु अग्नि तत्व का प्रतिनिधित्व करते हैं। जानते हैं केतु का वृश्चिक गोचर 2020 राशिचक्र की अन्य राशियों को कैसे प्रभावित करेगा।

केतु राशि परिवर्तन – मेष पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक राशि में  गोचर मेष जातकों के लिए कुंडली के नौवे भाव से आठवे भाव में होने वाला है। इस दौरान कार्यस्थल पर अपने शब्दों का चयन बेहद सावधानी से करें। व्यावसायिक भागीदारों और अधीनस्थों के साथ मनमुटाव होंगे, इसलिए उन्हें चतुराई से संभालें। केतु का वृश्चिक गोचर मेष जातकों के लिए वित्त और विरासत से जुड़े मुद्दे खड़े करेगा, इसलिए सख्त अनुशासन का पालन करें। विवाह या घरेलू जीवन में आपको अपने प्रिय लोगों के साथ संबंध बेहतर बनाने में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान स्वास्थ्य की उचित देखभाल आपके दिन प्रतिदिन के कार्यों को नियमित बनाए रखेगी।

केतु राशि परिवर्तन – वृषभ पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर  वृषभ राशि के लिए कुंडली के आठवें भाव से सातवें भाव में होगा। इस दौरान वृषभ जातकों को कुछ अनिश्चितताओं का सामना करना पड़ सकता है। वृषभ के प्रेम संबंधों पर भी विपरीत प्रभाव पड़ेंगे, हालांकि आप इन्हें धैर्य के साथ दूर कर सकते हैं। अपने साथी के साथ क्वालिटी टाइम बिताने का प्रयास करें। वित्त के मोर्चे पर आपको ईमानदार प्रयास जारी रखने की सलाह है, क्योंकि इनसे आपको वित्तीय लाभ मिलने की संभावना है। योग और प्राणायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल करें इससे आपको मानसिक तनाव और चिंताओं से मुक्ति मिलेगी। अपने प्रेम जीवन को अत्यंत सावधानी से संभालने का सुझाव है। इस दौरान साथी से अपेक्षित जवाब मिलना संभव नहीं है, इसलिए धैर्य रखें और सही समय का इंतजार करें।

केतु राशि परिवर्तन – मिथुन पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर  मिथुन राशि के लिए कुंडली के सातवें भाव से छठे भाव में होगा। इस दौरान कुछ सामान्य स्वास्थ्य समस्याएं भी नौकरी के मोर्चे पर आपकी समग्र प्रगति को प्रभावित कर सकती हैं। इसलिए जंक फूड खाने से बचें और नियमित व्यायाम करें। इस दौरान सही दिशा में ईमानदार प्रयास आपको सफलता भी दे सकते हैं। व्यावसायिक सौदों पर हस्ताक्षर करते समय आपको व्यावहारिक मानसिकता अपनाने का सुझाव दिया जाता है।  इस दौरान लगातार समस्याओं से सामना होगा इसलिए एक योजना के साथ आगे बढ़ें। इस अवधि के दौरान कुछ पुराने स्वास्थ्य मुद्दे फिर परेशान करेंगे, इसलिए आवश्यक सावधानी बरतने की सलाह है। आपके प्रेम जीवन के तटस्थ रहने और शायद ही फलने – फूलने की संभावना है।

केतु राशि परिवर्तन – कर्क पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर 2020 कर्क राशि के लिए कुंडली के छठे भाव से पांचवें भाव में होगा। इस दौरान संबंधों में किसी प्रकार का अज्ञात भय और असुरक्षाएं आपको परेशान कर सकती है।  आपके लिए उन्हें नियंत्रित करना बेहतर होगा। 5 वें घर से केतु के पारगमन के दौरान कार्यस्थल पर सौहार्द्रपूर्ण संबंध अपेक्षित हैं। यह अवधि आपके लिए एक सार्थक रिश्ते का निर्माण नहीं कर सकती, इसलिए आपको किसी रिलेशनशिप में आगे बढ़ने के लिए अभी इंतजार करना चाहिए। उचित अध्ययन और विश्लेषण के बाद महत्वपूर्ण निवेश संबंधी निर्णय लेने का सुझाव है। केतु गोचर के चरण में ड्राइविंग करते समय सावधानी बरतें। अपने स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत करें। 

केतु राशि परिवर्तन – सिंह पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर में सिंह राशि के लिए कुंडली के चौथे भाव में होगा। नौकरी के मोर्चे पर सहकर्मियों और वरिष्ठों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखने के लिए प्रयास करें। घरेलू मोर्चे पर भी कुछ गड़बड़ी की संभावना है। अचल संपत्ति और घरेलू परियोजनाओं में निवेश करने से पहले विश्लेषण करें। आपको वित्तीय प्रवाह के संदर्भ में मिश्रित परिणाम का अनुभव होगा, जो आपको कई बार निराश महसूस कर सकते हैं। इस दौरान अपना स्वास्थ्य बेहतर बनाए रखने के लिए कड़े अनुशासन का पालन करें। 

केतु राशि परिवर्तन – कन्या पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर में कन्या राशि के लिए कुंडली के चौथे भाव से तीसरे भाव में होगा। इस दौरान कन्या जातक तभी सफलता प्राप्त कर सकते हैं, जब वे बहुत अधिक परिश्रम और ईमानदारी से प्रयास करें। व्यावसायिक बैठकों में उपस्थित रहें क्योंकि वे भविष्य की संभावनाओं के लिए उपयोगी साबित हो सकती हैं। कन्या के लिए तीसरे घर में केतु का गोचर आपकी समग्र वित्तीय स्थिति मजबूत करने में मददगार हो सकता है। नई वित्तीय रणनीतियों के निर्माण और सभी पूर्व योजनाओं की समीक्षा करने के लिए गोचरकाल आशाजनक रह सकता है। कन्या जातकों के प्रेम संबंधों के लिए भी यह दौर बेहतर रहने की उम्मीद है, यदि किसी के लिए दिल में कोई फिलिंग्स है तो इस दौरान इजहार करने से अपेक्षित जवाब मिलने की संभावनाएं अधिक है। 

केतु राशि परिवर्तन – तुला पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर  तुला लग्न के लिए कुंडली के तीसरे भाव से दूसरे भाव में होगा। इस दौरान आपके वरिष्ठों या सहयोगियों के साथ अनावश्यक तर्कों में पड़ने की संभावना है, इसलिए आपको सुझाव दिया जाता है कि आप इससे सावधान रहें और जितना संभव हो उतना बचने की कोशिश करें। व्यवसाय की प्रगति धीमी लेकिन स्थिर रह सकती है। ऐसे परिदृश्य में, धैर्य बनाए रखना और जिस तरह से आप काम कर रहे हैं उसे जारी रखना आपकी बहुत मदद कर सकता है। संवाद के दौरान अपने शब्दों का बेहद सावनाधी से उपयोग करें। वित्तीय मोर्चे पर, अनावश्यक खर्च को कम करना और संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने की सलाह है। स्वास्थ्य संबंधी समस्याएँ सामने आ सकती हैं, और अपने आप को इससे बचाने का सबसे अच्छा तरीका है सावधानियां है।

केतु राशि परिवर्तन – वृश्चिक पर प्रभाव

वृश्चिक जातकों के लिए केतु गोचर कुंडली के पहले स्थान पर होने वाला है। इस चरण के दौरान कार्यस्थल पर अपने आसपास के लोगों के साथ बहस से बचने की सलाह है। कॅरियर की प्रगति प्रभावित हो सकती है, लेकिन ईमानदारी से प्रयासों और दृढ़ संकल्प इस चुनौतीपूर्ण स्थिति का सामना किया जा सकता है। इस दौरान प्रेम संबंधों में भावनात्मक मुद्दों से निपटने के लिए बहुत धैर्य की आवश्यकता हो सकती है। आपका स्वास्थ्य और जीवन शक्ति अपने औसत पर रहेगी, जो कार्यस्थल पर आपकी उत्पादकता को प्रभावित कर सकती है। अपना स्वास्थ्य बेहतर बनाए रखने के लिए व्यायाम और पौष्टिक आहार को अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

केतु राशि परिवर्तन – धनु पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर  धनु लग्न या धनु राशि के लिए कुंडली के 12वें भाव में होगा। आपके व्यावसायिक सहयोगी और साझेदार आपकी व्यावसायिक प्रगति में आपकी मदद नहीं कर सकते हैं, लेकिन अपने आप में आश्वस्त रहें और लगातार काम करते रहें। अनिश्चित वित्तीय प्रवाह से आपकी वित्तीय प्रतिबद्धताओं में बाधा आ सकती है।  आपके लिए पूर्व योजनाएं बनाना सबसे अच्छा होगा। किसी भी सौदे को करते समय गहन विश्लेषण आपको गलतियों से बचा सकता है। आप असहज महसूस कर सकते हैं और ऊर्जा का स्तर कम हो सकता है। नियमित अंतराल पर पानी और जूस पीने से आपको ऊर्जा बनाए रखने और फिट रहने में मदद मिल सकती है। स्वास्थ्य सुख मध्यम रह सकता है, क्योंकि कुछ अप्रत्याशित समस्याएं तनाव का स्तर बढ़ा सकती हैं।

केतु राशि परिवर्तन – मकर पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर मकर राशि या लग्न के लिए 11 वें होगा। अब आप अतीत की सभी असफलताओं को भूल जाएं, नौकरी के मोर्चे पर आपके प्रदर्शन में सुधार हो सकता है। 11 वें घर में केतु का गोचर आपको अपने वरिष्ठों से अच्छा सहयोग प्राप्त करने में मदद करता है और अधीनस्थों से भी उम्मीद की जा सकती है। लंबी अवधि की वित्तीय योजना और अपनी वित्तीय स्थिति को मजबूत करने के लिए यह एक अच्छा समय हो सकता है। इस दौरान होने वाली कमाई के लिए एक उचित निवेश योजना बनाने की कोशिश करें। रोमांटिक डेस्टिनेशन पर ट्रिप आपके और आपके पार्टनर के बीच की बॉन्डिंग को मजबूत कर सकती है। आपकी जीवन शक्ति और ऊर्जा का स्तर अधिक बेहतर रहने वाला है। आप अपने प्रियजनों को इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स देने की संभावना रखते हैं। सभी महत्वपूर्ण निवेश निर्णय आशा जनक रह सकते हैं, और इसलिए इस चरण का उपयोग लार्भाजन के लिए करना बेहतर होगा।

केतु राशि परिवर्तन – कुंभ पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर  कुंभ लग्न या राशि के लिए कुंडली के दसवें भाव में होगा। स्वस्थ और सकारात्मक दिमाग आपको नौकरी के मोर्चे पर लगातार काम करने के लिए ऊर्जा प्रदान करेगा।  केतु के दसवें भाव में गोचर के दौरान नई भूमि, संपत्ति या कार्यालय खरीद सकते हैं। जो लोग निवेश की तलाश कर रहे हैं उन्हें रियल एस्टेट, कृषि या घरेलू परियोजनाओं का विकल्प चुनने की सलाह दी जाती है। मित्रों और रिश्तेदारों के साथ मेल-जोल बढ़ सकता है। इस दौरान आपके अधिक प्रोडक्टिव होने की संभावना है। इन सभी बातों से ऊपर इस दौरान आप अपने तनाव को नियंत्रित करने में भी सफल होंगे।

केतु राशि परिवर्तन – मीन पर प्रभाव

केतु का वृश्चिक गोचर मीन लग्न के लिए कुंडली 9वे भाव होगा। कार्यस्थल पर चुनौतीपूर्ण स्थितियों की संभावना है। किसी प्रकार का वायरल संक्रमण होने की संभावना है, इसलिए उचित सावधानी बरतने और स्वस्थ आहार लेने की सलाह दी जाती है। जब तक आप वास्तव में पूर्ण प्रयासों के साथ कड़ी मेहनत नहीं करते हैं, तब तक अपेक्षित वित्तीय पुरस्कार प्राप्त नहीं कर सकते हैं। जो लोग परिवार से संबंधित मामलों में विवादों का सामना कर रहे हैं, उन्हें आपने करीबी लोगों के साथ शांतिपूर्ण संचार करने का सुझाव दिया जाता है। प्रेम के मोर्चे पर गंभीर प्रयासों की आवश्यकता हो सकती है, अन्यथा विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। आप इस अवधि के दौरान बहुत अधिक मांग कर सकते हैं। हालांकि, इस दौरान आपको एक सख्त आहार योजना और नियमित व्यायाम का पालन करने का सुझाव है।


ये भी पढ़ें-




18 Sep 2020


View All blogs

More Articles