For Personal Problems! Talk To Astrologer

जानें के॰ चंद्रशेखर राव की कुंडली 2019 के लिए क्या कहती है


Share on :

लोकसभा चुनाव 2019 के बाद राजनीति में केसीअार की होगी महत्वपूर्ण भूमिका

कल्वाकुंतला चंद्रशेखर राव उर्फ के. चंद्रशेखर राव उर्फ केसीअार तेलंगाना के पहले मुख्यमंत्री हैं। अांध्रप्रदेश से तेलंगाना के अलग होने के बाद वे सत्ता में अाए। सिद्दीपेट जिले के गजवेल निर्वाचन क्षेत्र से विधायक केसीअार क्षेत्रीय राजनीतिक दल तेलंगाना राष्ट्र समिति के अध्यक्ष हैं। राज्य में उनके कद और मजबूती का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उनकी पार्टी टीअारएस ने विधानसभा चुनावों में दूसरी बार शानदार जीत दर्ज की और केसीअार दूसरी बार मुख्यमंत्री बने। लोकसभा चुनाव 2019 में केसीअार और उनकी पार्टी का प्रदर्शन कैसा रहेगा, हम यहां केसीअार की कुंडली का विश्लेषण कर उसके बारे में जानेंगे।

केसीआर को मजबूत शनि दिला रहा फायदा

केसीअार राजनीति में माहिर हैं। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लोकसभा चुनावों के साथ विधानसभा चुनाव होने की संभावना को देख उन्होंने 6 महीने पहले ही विधानसभा भंग कर चार राज्यों के साथ चुनाव में भाग लेने का फैसला लिया था। उनकी सोच थी कि लोकसभा के साथ राज्यसभा चुनाव होने पर राष्ट्रीय मुद्दे हावी रहेंगे और इससे नुकसान उठाना पड़ सकता है। उन्हें इसका फायदा भी हुअा और वे दोबारा सीएम की कुर्सी तक पहुंच गए। अगर ग्रहों की बात करें तो यह सब कुछ मजबूत शनि के प्रभाव से ही संभव हो सकता है। हम उनकी कुंडली का ज्योतिषीय विश्लेषण कर उनके राजनीतिक प्रभाव के बारे में जानने का प्रयास करेंगे।


के. चंद्रशेखर राव

जन्म तिथि – 17 फरवरी 1954
जन्म का समय – 10:30 घंटे (अपुष्ट)
जन्म स्थान – सिद्दीपाट, आंध्र प्रदेश


केसीआर की कुंडली की ज्योतिषीय विशेषताएं

– केंद्र में उच्च का शनि ‘महापुरुष योग’ बना रहा है।
– शुक्र और शनि ने एक दूसरे का स्थान परिवर्तित किया। 
– लग्न के स्वामी मंगल के साथ 9 वें घर के स्वामी बृहस्पति पारस्परिक संबंध बना रहे हैं।
– 5 वें घर का स्वामी सूर्य और 7 वें घर का स्वामी शुक्र 11 वें घर में युति कर रहे हैं।
वे राहु महादशा और शुक्र भुक्ति से गुजर रहे हैं।

 

केसीआर भविष्यवाणी

शक्तिशाली शनि किसी भी राजनेता के लिए एक वरदान है। अपने चार्ट में, शनि 7 वें घर में एक शक्तिशाली राजयोग बना रहा है। इसलिए, वे राज्य के सबसे प्रसिद्ध और वर्तमान में सबसे शक्तिशाली राजनीतिक नेताओं में से एक हैं। 11 वें घर में सूर्य-शुक्र की युति उन्हें मतदाताओं से जुड़ने की उत्कृष्ट क्षमता प्रदान करती है। इसके साथ ही बृहस्पति और मंगल का पारस्परिक पहलू उन्हें एक कुशल और चतुर राजनीतिज्ञ बनाता है। इसके साथ ही शुक्र-शनि का विनिमय (एक-दूसरे का स्थान परिवर्तन) उनके चार्ट को काफी शक्तिशाली बनाता है।

राजनीति में और मजबूत होंगे केसीअार

ज्योतिषीय विश्लेषण से पता चलता है कि वे राहु-शुक्र की अनुकूल महादशा से भी गुजर रहे हैं। ऐसे में वे समाज के विभिन्न क्षेत्रों से समर्थन जुटाने में भी सक्षम होंगे। मिथुन राशि में राहु के गोचर से उन्हें अपने प्रतिस्पर्धियों और शत्रुओं पर विजय प्राप्त करने में मदद मिलेगी। गोचररत बृहस्पति भी उन्हें इसमें मदद करेगा। धनु राशि में शनि का गोचर भले ही कुछ परेशानियां ला रहा हो, लेकिन वह प्रतिद्वंद्वी दलों पर अपनी बढ़त बनाए रखने में सक्षम होंगे।
उनके चार्ट के विश्लेषण से पता चलता है कि मई 2019 में होने वाले आम चुनावों में उन्हें सफलता मिल सकती है। वर्तमान दशा अवधि से पता चलता है कि केसीआर अभी और अागे बढ़ेंगे साथ ही राष्ट्रीय स्तर पर उनकी स्थिति भी मजबूत होगी। विश्लेषण से यह भी पता चलता है कि 2019 आम चुनाव परिणाम के बाद राजनीति में उनकी एक महत्वपूर्ण भूमिका होगी।



15 Feb 2019


View All blogs

More Articles