इस महीने होगा गुरु की राशि में परिवर्तन, क्या होगा आप पर असर


Share on :



ग्रह अपनी गति से चलते रहते हैं और नक्षत्र मंडल में राशि परिवर्तिन करते रहते हैं। इनका यह राशि परिवर्तन हमारे जीवन पर प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष प्रभाव डालता है। बृहस्पति अभी वक्री गति में है। अपनी इसी वक्री गति के साथ गुरु तीस जून को धनु राशि में प्रवेश करेंगे। हालांकि यहां पहले से ही केतु विराजमान है। गुरु के यहां आने गुरु और केतु की युति होगी, जिसे चांडाल दोष के नाम से भी जाना जाता है। इस दोष के कारण सभी राशियों को मिलने वाली शुभता में कमी आएगी। धनु राशि में गुरु के वक्री गति से प्रवेश के कारण अलग-अलग राशियों पर इसका अलग प्रभाव पड़ेगा। किस राशि के लिए इसका क्या प्रभाव होगा, आइए जानते हैं। साथ ही जानिए गुरु के अशुभ परिणामों से कैसे बचा जा सकता है-

मेष

मेष राशि के जातकों के लिए यह परिवर्तन नवम भाव में होगा। बृहस्पति की यह गति आपकी राशि के लिए शुभ फलदायक होगी। भाग्य का आपको साथ मिलने लगेगा। हालांकि केतु का यहां होना कभी-कभी आपके काम बिगाड़ेगा। फिर भी आपको इमानदारी के साथ अपने काम पूरे करने की सलाह दी जाती है। इस दौरान आप धार्मिक यात्राएं भी करेंगे।

वृषभ

इस राशि के जातकों के लिए गुरु का यह परिवर्तन आठवें स्थान में होगा। इस दौरान केतु के भी यहां रहने के कारण आपको बहुत संभलकर चलना होगा। आपको आर्थिक लाभ बढ़ सकते हैं, लेकिन साथ ही खर्चे भी बहुत बढ़ेंगे। कभी-कभी आपकी बातों से गलत फहमी भी उत्पन्न हो सकती है।

मिथुन

गुरु का धनु राशि में प्रवेश आपके वैवाहिक जीवन के लिए थोड़ा अच्छा रहेगा। पिछले कुछ समय से आ रही परेशानियां थोड़ी कम होगी। हालांकि इन परेशानियों को पूरी तरह दूर करने के लिए आपको केतु के राशि छोड़ने का इंतजार करना होगा। इस दौरान आपके बिजनेस पार्टनर के साथ भी संबंध अच्छे हो सकते हैं।

कर्क

कर्क राशि के लिए गुरु का यह राशि परिवर्तन थोड़ा चैलेंजिंग रहेगा। इस दौरान आपको जॉब में वर्कलोड बहुत बढ़ेगा। बार-बार आपको जॉब छोड़ने का मन करेगा, लेकिन यही आपके धैर्य की परीक्षा है। यह समय ज्यादा दिनों तक नहीं रहेगा। इस दौरान ऑफिस में सहकर्मचारियों के साथ भी आपके विवाद हो सकते हैं।


सिंह

सिंह राशि के जातकों के लिए गुरु का यह राशि परिवर्तन पंचम स्थान में होगा। इस दौरान संतान से संबंधित किसी चिंता में कमी आएगी। हालांकि इस दौरान गर्भवती महिलाओं को विशेष ध्यान रखना चाहिए। इसके अलावा विद्यार्थियों का भी अच्छा समय आएगा। रिसर्च के काम को एक स्टेप आगे बढ़ा सकेंगे।

कन्या

आपकी राशि के जातकों का संपत्ति संबंधी जो काम काफी समय से अटका हुआ था, उसमें गति मिलेगी। इस दौरान नई गाड़ी खरीदने की योजना भी बन सकती है। हालांकि आपको नई जमीन, भवन या गाड़ी खरीदने में किसी भी तरह की जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए।

तुला

तुला राशि के जातकों को गुरु के इस राशि परिवर्तन के फलस्वरूप कई यात्राएं करना होंगी। हालांकि इस दौरान यदि आप ध्यान नहीं रखेंगे, तो आपको किसी तरह की कोई दिक्कत हो सकती है। भाई-बहनों के साथ आपके संबंध अच्छे रहेंगे। पिछले कुछ समय से संबंधों में आई दरार अब भरने लगेगी।

वृश्चिक

आपके लिए गुरु के इस राशि परिवर्तन के असर के चलते खर्चों पर थोड़ी कमी आएगी। कुटुंबजनों के साथ पिछले कुछ समय से आ रही परेशानी दूर होगी। इस ट्रांजिट के दौरान आपको वाहन धीमे चलाना चाहिए। निवेश करने से पहले आपको सौ बार सोचना चाहिए। नहीं तो, गलत जगह पर पैसा फंस सकता है।

धनु

धनु राशि में गुरु वक्री गति से प्रवेश करेंगे। यह गुरु की अपनी राशि है और यहां पहले से केतु विराजमान है। इस ट्रांजिट के दौरान आपको अपने स्वास्थ्य का बेहद ध्यान रखना होगा। हालांकि आपकी सोच सकारात्मक बनेगी और कई मामलों में आपकी सलाह को बहुत अच्छा माना जाएगा।

मकर

आपकी राशि के जातकों के लिए इस राशि परिवर्तन के बाद खर्चे बढ़ सकते हैं। हालांकि आपका बहुत पैसा किसी धार्मिक काम पर खर्च होगा। घर में कोई मांगलिक प्रसंग भी हो सकता है। इस दौरान विदेश में रहकर व्यापार करने या विदेश में व्यापार करने वालों को विशेष लाभ होगा।


कुंभ

कुंभ राशि के जातकों के लिए यह परिवर्तन नुकसानदायक नहीं रहेगा। धीरे-धीरे आपकी आय में वृद्धि होगी। इस दौरान आप अपने सोशल नेटवर्क पर भी पैसा खर्च करेंगे। आप सामाजिक रूप से काफी एक्टिव हो सकते हैं। आपके दोस्तों की संख्या बढ़ सकती है।


मीन

मीन राशि के जातकों को व्यवसाय में फायदा होगा। इस दौरान कार्यस्थल पर आपको अतिरिक्त काम मिल सकता है। हालांकि इस अतिरिक्त काम को यदि आप दिक्कत समझेंगे, तो परेशान हो सकते हैं। आपको इस समय धैर्य के साथ आगे बढ़ना है। माता की सेहत की चिंता रहेगी।




24 Jun 2020


View All blogs

More Articles