For Personal Problems! Talk To Astrologer

हनुमान जयंती के उपाय – राशि अनुसार करें हनुमान जी की पूजा


Share on :

वैसे तो हनुमान जी की पूजा किसी भी दिन करना फायदेमंद होता है, लेकिन हनुमान जयंती के दिन की गई पूजा काफी फलदायी होती है। रामचरितमानस में भी इसके कई उपाय दिए गए हैं। लेकिन अगर आप अपनी राशि के अनुसार हनुमानजी का पूजन करें तो यह आपके लिए और ज्यादा फलदायी हो जाता है। आइए जानते हैं कि हनुमान जयंती के दिन अपनी राशि के अनुसार हनुमान जी की पूजा कैसे कर सकते हैं। 

मेष राशि

मेष राशि वालों को एकमुखी हनुमंत कवच का पाठ करना चाहिए। हनुमानजी को बूंदी का भोग लगाकर उसे गरीब बच्चों में बांटना लाभदायी होता है।

वृषभ राशि

इन्हें रामचरितमानस के सुंदर-कांड का पाठ तथा हनुमान जी पर मीठा रोट चढ़ाकर बंदरों को खिलाना चाहिए।

मिथुन राशि

मिथुन राशि वालों को रामचरितमानस के अरण्य-कांड का पाठ करने के साथ ही उन्हें पान का भोग लगाकर गाय को खिलाना चाहिए।

कर्क राशि

कर्क राशि वालों के लिए पंचमुखी हनुमंत कवच का पाठ फलदायी होता है। उन्हें हनुमानजी पर पीले फूल चढ़ाकर जल में प्रवाहित करना चाहिए।

सिंह राशि

इन्हें रामचरितमानस के बाल-कांड का पाठ तथा हनुमानजी पर गुड़ की रोटी चढ़ाकर गरीब को खिलाना चाहिए।

कन्या राशि

इन्हें रामचरितमानस के लंका-कांड का पाठ करने के साथ ही हनुमान मंदिर में शुद्ध घी के 6 दीपक जलाने चाहिए।

तुला राशि

तुला राशि वालों को रामचरितमानस के बाल-कांड का पाठ करना चाहिए, साथ ही हनुमानजी पर खीर चढ़ाकर गरीब बच्चों में बांटना चाहिए।

वृश्चिक राशि

इनके लिए हनुमान अष्टक का पाठ करना उचित होगा। हनुमानजी पर गुड़ वाले चावल चढ़ाकर गाय को खिलाना चाहिए।

धनु राशि

इन्हें रामचरितमानस के अयोध्या-कांड का पाठ करने के साथ ही हनुमानजी पर शहद चढ़ाकर खुद प्रसाद रूप में ग्रहण करना चाहिए।

मकर राशि

इन्हें रामचरितमानस के किष्किंधा-कांड का पाठ करना चाहिए। हनुमानजी पर मसूर चढ़ाकर मछलियों को खिलाना फलदायी होता है।

कुंभ राशि

कुंभ राशि वालों को रामचरितमानस के उत्तर-कांड का पाठ करना चाहिए। हनुमानजी पर मीठी रोटियां चढ़ाकर भैसों को खिलाना चाहिए।

मीन राशि

इनके लिए हनुमंत बाहुक का पाठ शुभ होता है। हनुमानजी के मंदिर में लाल रंग की ध्वजा या पताका चढ़ाना चाहिए।


इन उपायों से भी कर सकते हैं हनुमान जी को प्रसन्न

– मंदिर जाकर बजरंगबली का कोई भी आसान मंत्र या हनुमान चालीसा का 11 बार पाठ करें।
– आसानी से प्रसन्न करने के लिए हनुमान जी पर गुलाब की माला चढ़ाएं।
– हनुमान मंदिर में सरसों के तेल और शुद्ध घी का अलग-अलग एक दीपक जलाएं और हनुमान चालीसा का पाठ करें।
– पैसों की तंगी दूर करने के लिए हनुमान जयंती के दिन पीपल के 11 पत्ते पर श्रीराम का नाम लिखना फायदेमंद होता है।
– हनुमान जी को विशेष रुप से तैयार पान का बीड़ा (खोपरा चूर्ण, बादाम कतरी और गुलकंद युक्त) चढ़ाना भी फलदायी होता है।

 गणेशजी के आशीर्वाद के साथ
 गणेशास्पीक्स डॉट कॉम/हिंदी


18 Apr 2019


View All blogs

More Articles